Farm Bills : देश भर में राजभवनों का घेराव करेगी कांग्रेस, दिल्ली में राहुल गांधी करेंगे नेतृत्व  

संसद के बजट सत्र के दौरान किसानों के आंदोलन पर विपक्ष की रणनीति बनाने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने विपक्ष के नेताओं से मुलाकात करने वाली हैं।

Congress to gehrao Raj Bhavans across country, Rahul Gandhi to lead protest in Delhi
देश भर में राजभवनों का घेराव करेगी कांग्रेस।  |  तस्वीर साभार: PTI

नई दिल्ली : नए कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस शुक्रवार को देश भर में राजभवनों का घेराव करेगी। जबकि कांग्रेस सांसद राहुल गांधी दिल्ली में पार्टी के विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे। राजभवनों के घेराव के जरिए कांग्रेस किसानों के साथ अपनी एकजुटता जाहिर करना चाहती है। इस क्रम में कांग्रेस देश भर में आज 'किसान अधिकार दिवस' आयोजित कर रही है। पार्टी ने सभी राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों में अपनी इकाइयों से राजभवन का घेराव करने के लिए कहा है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाधी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ दिल्ली में प्रदर्शन में शामिल होंगे।   

दिल्ली में प्रदर्शन का हिस्सा होंगे राहुल
समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक पार्टी के एक पदाधिकार ने कहा, 'पार्टी ने कार्यकर्ताओं से अपने राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों में राजभवनों का घेराव करने के लिए कहा है। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से आयोजित होने वाले प्रदर्शन में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ राहुल गांधी हिस्सा लेंगे।' आज किसान संगठनों एवं सरकार के बीच विज्ञान भवन में नौवे दौर की वार्ता होनी है।

सरकार को वापस लेने होंगे कानून-राहुल
गुरुवार को तमिलनाडु में राहुल गांधी ने दावा किया कि सरकार को कानून वापस लेने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। मदुरै में जल्लीकट्टू (बुल-टैमिंग) देखने के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा, 'मेरे शब्दों को चिह्न्ति (मार्क) कर लीजिए। सरकार को कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। मुझे बहुत गर्व है कि किसान क्या कर रहे हैं और मैं पूरी तरह से उनका समर्थन करता हूं और हमेशा उनके साथ खड़ा रहूंगा।'

वायनाड के सांसद का सरकार पर हमला
उन्होंने दावा किया कि सरकार किसानों का न केवल दमन नहीं कर रही है, बल्कि वह उन्हें नष्ट करने की साजिश कर रही है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, 'सरकार सिर्फ उनकी (किसानों को) उपेक्षा नहीं कर रही है, बल्कि वह उन्हें नष्ट करने की साजिश कर रही है। एक अंतर है। उपेक्षा एक अनदेखी है। वे उन्हें नजरअंदाज नहीं कर रहे हैं, बल्कि उन्हें नष्ट करने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि वे अपने दो या तीन दोस्तों को लाभ पहुंचाना चाहते हैं।'

बजट सत्र में सरकार को घेरने की तैयारी
इसके पहले गत 24 दिसंबर को पार्टी ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात कर एक ज्ञापन सौंपा। केंद्र सरकार पर दबाव बनाने के लिए कांग्रेस शासित राज्यों ने कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया है। संसद के बजट सत्र के दौरान किसानों के आंदोलन पर विपक्ष की रणनीति बनाने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने विपक्ष के नेताओं से मुलाकात करने वाली हैं। बजट सत्र 29 जनवरी से शुरू होने जा रहा है। समझा जाता है कि इस दौरान विपक्ष सरकार को कृषि कानूनों पर घेरने की कोशिश करेगा। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर