'टीके का निर्यात बंद हो, सभी को लगे वैक्सीन', राहुल गांधी का PM मोदी को पत्र  

Corona Vaccination in India : राहुल गांधी ने अपने पत्र में लिखा है कि इस बात की कोई स्पष्ट वजह नहीं है कि सरकार ने बड़ी संख्या में टीकों का निर्यात क्यों किया? देश में टीके की कमी हो गई है।

Congress leader RahulGandhi writes to PM Modi over covid vaccination drive
टीकाकरण पर राहुल गांधी ने पीएम मोदी को लिखा पत्र।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने टीकाकरण अभियान को लेकर पीएम मोदी को लिखा पत्र
  • राहुल ने कहा कि टीकों के निर्यात पर लगे रोक, सभी उम्र के लोगों को लगे वैक्सीन
  • वायनाड के सांसद ने देश में वैक्सीन का उत्पादन बढ़ाए जाने की मांग की है

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने देश में जारी टीकाकरण को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शुक्रवार को पत्र लिखा। अपने पत्र में राहुल ने प्रधानमंत्री से कोरोना के टीके के निर्यात पर रोक लगाने और सभी उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाए जाने की मांग की है। कोरोना के मामलों में आई तेजी का हवाला देते हुए वायनाड के सांसद ने कहा है कि सरकार को देश में अन्य टीकों के इस्तेमाल की मंजूरी भी देनी चाहिए। राहुल ने आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र सरकार की 'दूरगामी नीति' के अभाव एवं 'खराब प्रबंधन' की वजह से वैज्ञानिक समुदाय की मेहनत 'बेकार' चली जा रही है। 

'धीमी गति से चल रहा टीकाकरण'
राहुल ने अपने पत्र में कहा, 'टीकाकरण की प्रकिया शुरू करने में भारत ने तो बढ़त बना ली लेकिन यह प्रक्रिया बहुत धीमी गति से चल रही है और हम तीन महीने में अभी तक अपनी कुल आबादी के एक प्रतिशत से कम लोगों का पूरी तरह से टीकाकरण कर पाएं हैं। ऐसे देश जिनकी आबादी अच्छी खासी है उन्होंने अपने यहां टीकाकरण ज्यादा प्रभावी ढंग से किया है। अभी देश में टीकाकरण करने की जो दर है उस हिसाब से अगर आगे बढ़ा गया तो 75 फीसदी आबादी को टीका लगाने में वर्षों लग जाएंगे।'

राहुल की मांग-टीकों के निर्यात पर लगे रोक
उन्होंने आगे लिखा है, 'इस बात की कोई स्पष्ट वजह नहीं है कि सरकार ने बड़ी संख्या में टीकों का निर्यात क्यों किया? देश में टीके की कमी हो गई है लेकिन छह करोड़ से ज्यादा टीकों को निर्यात किया गया। राज्यों में वैक्सीन की कमी हो गई है।' कांग्रेस नेता ने कहा कि उनकी पार्टी ने पिछले 70 वर्षों में देश को वैक्सीन उत्पादन में अग्रणी बनाया है और इस पर उन्हें गर्व है। 

राहुल की मांग है-

  1. टीके का उत्पादन बढ़ाने के लिए सरकार वैक्सीन सप्लॉयर्स को जरूरी संसाधन उपलब्ध कराए।
  2. विदेशों में टीके के निर्यात पर रोक लगाई जाए।
  3. नियम एवं गाइडलाइन के मुताबिक अन्य वैक्सीन के इस्तेमाल की अनुमति मिले।
  4. उन सभी को टीके लगे जो इसे चाहते हैं।
  5. वैक्सीन खरीदारी के लिए मौजूदा तय रकम 35,000 करोड़ रुपए दोगुना हो।
  6. वैक्सीन की खरीदारी एवं वितरण में राज्य सरकारों को ज्यादा अधिकार मिले।
  7. कोरोना दूसरी लहर से प्रभावित होने वाले समूहों को प्रत्यक्ष आर्थिक राहत दी जाए।

कांग्रेस नेता ने कहा है कि वह देश में जारी टीकाकरण अभियान को अपना समर्थन जारी रखने की बात दोहराते हैं। राहुल ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि सरकार उनके इन सुझावों पर गंभीरता से ध्यान देगी। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर