यंग इंडियन दफ्तर सील होने के बाद कांग्रेस का आक्रामक रुख, आज संसद से सड़क तक कर सकती है प्रदर्शन   

National Herald Case : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार शाम दिल्ली स्थित यंग इंडियन का दफ्तर सील कर दिया। ईडी की इस कार्रवाई के बाद पूरे कांग्रेस में खलबली मच गई। गुरुवार को इस मसले की गूंज संसद भवन में सुनाई पड़ सकती है। कांग्रेस संसद में स्थगन प्रस्ताव लाने की तैयारी में है।

 Congress is aggressive against seal of Young Indian office may protest from Parliament to road
दिल्ली में सील हुआ है यंग इडियन का दफ्तर।  
मुख्य बातें
  • नोटिस का जवाब नहीं मिलने पर ईडी ने यंग इंडियन का दफ्तर सील किया है
  • ईडी की इस कार्रवाई के बाद सरकार पर हमलावर हो गई है कांग्रेस
  • गुरुवार को इस मसले को लेकर संसद से सड़क तक प्रदर्शन कर सकती है पार्टी

Young Indian office : नेशनल हेराल्ड केस (National Herald Case) में यंग इंडियन का दफ्तर सील होने के बाद कांग्रेस (Congress) में खलबली मची हुई है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) की कार्रवाई को लेकर पूरी पार्टी सरकार पर हमलावर हो गई है। ईडी की इस कार्रवाई की गूंज गुरुवार को संसद भवन में देखने को मिल सकती है। कांग्रेस ने इसका संकेत भी दे दिया है। पार्टी गुरुवार को संसद में स्थगन प्रस्ताव लाने की तैयारी में है। यही नहीं, संसद की कार्यवाही शुरू होने से पहले कांग्रेस ने अपने लोकसभा एवं राज्यसभा सांसदों की बैठक भी बुलाई है। समझा जाता है कि इस बैठक में सरकार के खिलाफ मोर्चाबंदी पर मंथन किया जाएगा।

कर्नाटक से दिल्ली आए राहुल गांधी
बता दें कि बुधवार शाम ईडी ने दिल्ली में नेशनल हेराल्ड इमारत में स्थित यंग इंडियन का दफ्तर सील कर दिया। इस दफ्तर को अगले आदेश तक न खोलने का निर्देश है। कर्नाटक दौड़ा छोड़कर राहुल गांधी वापस दिल्ली लौट आए हैं। दफ्तर सील होने के बाद कांग्रेस के बड़े नेताओं की बैठक जारी है। सूत्रों का कहना है कि मुकुल वासनिक के कार्यालय में हुई बैठक में आगे की रणनीति पर चर्चा हुई। वहीं, दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय एवं सोनिया गांधी के आवास के बाहर सुरक्षा काफी कड़ी कर दी गई है। सूत्रों का कहना है कि ईडी की कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस के बड़े नेता गुरुवार को संसद से सड़क तक मार्च कर सकते हैं। 

ईडी ने सील किया है यंग इंडियन का दफ्तर
यंग इंडियन दफ्तर सील किए जाने को लेकर ईडी का कहना है कि यह कार्रवाई गत मंगलवार को होनी थी लेकिन कंपनी के अधिकारी उस दिन अनुपस्थित थे इसलिए सील करने की कार्रवाई गुरुवार को हुई। अधिकारियों का कहना है कि दस्तावेजों को सुरक्षित रखने के इरादे से दफ्तर को सील किया गया है। सरकार की इस कार्रवाई पर कांग्रेस हमलावर हो गई है। कांग्रेस ने अपने एक ट्वीट में कहा, 'पुलिस की कार्रवाई से सत्य भयभीत नहीं होगा। गांधी के अनुयायी लड़ेंगे और इस अंधकार से जीतेंगे। हम महंगाई और बेरोजगारी पर सवाल पूछते रहेंगे।'

Sawal Public Ka: क्या नेशनल हेराल्ड केस में अब फाइनल एक्शन होने वाला है, यंग इंडियन का दफ्तर सील करने की वजह क्या?

सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस
कांग्रेस ने दावा किया कि सरकार के इशारे पर दिल्ली पुलिस ने उसके मुख्यालय, पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के आवासों को घेर रखा है तथा उसके नेताओं के साथ ‘आतंकवादियों जैसा सुलूक’ किया जा रहा है जो प्रतिशोध और धमकी की राजनीति है। राजस्थान के सीएम गहलोत ने इस मामले में ट्वीट करते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा है, ‘कांग्रेस मुख्यालय एवं 10 जनपथ को पुलिस छावनी बनाने की आज की कार्रवाई अघोषित आपातकाल है। नेशनल हेराल्ड (यंग इंडिया) के दफ्तर को जबरन सील कर दिया गया। राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) नीत इस तानाशाही सरकार के खिलाफ यदि कांग्रेसजनों के साथ आम जनता खड़ी नहीं हुई तो इसका खामियाजा पूरे देश को भुगतना पड़ेगा।’

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर