न्यूज की पाठशाला में फ्री वाली पॉलिटिक्स करने वालों की क्लास, आपको कहां जाना है? 'विकासपुर' या 'फ्रीपुर'

न्यूज की पाठशाला में 'विकासपुर' या 'फ्रीपुर' की बात हुई। आज की पाठशाला में फ्री की पॉलिटिक्स करने वालों की क्लास लगी है।

class of those who do freewali politics in News ki Pathshala, where do you want to go? Vikaspur' or 'Freepur'
फ्री की राजनीति करने वालों की क्लास 

News ki Pathshala : आज न्यूज की पाठशाला में क्या है? 'विकासपुर' या 'फ्रीपुर', वोटर को कहां का टिकट लेना है? एक एयरपोर्ट बनने से क्या क्या बदल जाता है? पाठशाला में फ्री वाली पॉलिटिक्स की क्लास लगेगी। वो मुसीबत जो अमेरिका-चीन-भारत को साथ ले आई। वोटर की चुनावी Ride की Destination विकासपुर या Freeपुर। विकासपुर के रूट पर एयरपोर्ट एक्सप्रेसवे, रेलवे स्टेशन। Freeपुर के रूट पर मुफ्त बिजली, मुफ्त पानी, वॉशिंग मशीन, टीवी, लैपटॉप।

सबसे पहले विकासपुर के रूट की बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ग्रेटर नोएडा के जेवर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट की नींव रख दी है। इस एयरपोर्ट के बनने से क्या बदलाव आएगा। आज हम आपको इसके बारे में एक-एक बात बताएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आजादी के बाद वर्षों तक यूपी को ताने सुनने पर मजबूर रखा गया। लेकिन अब यूपी की तस्वीर बदल गई है। जेवर एयरपोर्ट 2024 में शुरू हो जाएगा। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ये दुनिया का चौथा सबसे बड़ा इंटरनेशनल एयरपोर्ट होगा।

जेवर एयरपोर्ट 

  1. कंस्ट्रक्शन- 4 फेज में होगा
  2. पहले फेज में जमीन अधिग्रहण- 1334 हेक्टअर
  3. पहला फेज 36 महीने में पूरा होगा
  4. पहले फेज की लागत-8916 करोड़ रुपये
  5. यूपी सरकार का खर्च-4326 करोड़ रुपये
  6. पहले फेज का ऑपरेशन पीरियड- 2023 से 2027
  7. 1 करोड़ 20 लाख यात्री प्रति वर्ष का ट्रैफिक होगा
  8. फाइनल फेज़ का ऑपरेशन पीरियड-2040 से 2050
  9. एयरपोर्ट पर 7 करोड़ यात्री प्रति वर्ष का ट्रैफिक होगा
  10. -फाइनल फेज तक कंस्ट्रक्शन कॉस्ट- 29,560 करोड़ रुपये

बदलाव कैसे आता है:- नोएडा का उदाहरण

  1. 1976 में 36 गांवों को मिलाकर
  2. New Okhla Industrial Development Authority यानी Noida बना था
  3. 45 साल में आज यही नोएडा ग्लोबल सिटी बनने की राह पर है
  4. पिछले 4 साल में 64 हज़ार करोड़ रुपये का निवेश आया है
  5. करीब 5 लाख लोगों को रोजगार मिला है
  6. निवेश के मामले में दिल्ली और बेंगलुरू जैसे शहरों को पीछे छोड़ा
  7. इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग का नया हब बन गया है 

आपको चीन का उदाहरण बताते हैं

  1. चीन की राजधानी बीजिंग में 1958 से इंटरनेशनल एयरपोर्ट है
  2. इसका नाम बीजिंग कैपिटल इंटरनेशनल एयरपोर्ट है
  3. 2008 में बीजिंग एयरपोर्ट से 65 किलोमीटर दूर डाक्सिंग जिले में दूसरा इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्रस्तावित हुआ
  4. 2014 में इस एयरपोर्ट का कंस्ट्रक्शन शुरू हुआ। 2019 में इसका कंस्ट्रक्शन पूरा हो गया और इस एयरपोर्ट पर फ्लाइट ऑपरेशन शुरू हो गया। 
  5. इसका नाम बीजिंग डाक्सिंग इंटरनेशनल एयरपोर्ट है। जहां से पिछले साल 1 करोड़ 60 लाख यात्रियों ने हवाई यात्रा की है।
  6. शुरुआत के दो साल में ही ये एयरपोर्ट चीन का 17वां व्यस्त एयरपोर्ट बन चुका है। एयरपोर्ट की वजह से डाक्सिंग जिले का इंफ्रास्ट्रक्चर सुधर गया।
  7. हाईवे बन गए, सबवे बन गए, चौड़ी सड़कें बन गईं, स्थानीय लोगों का कारोबार बढ़ गया, नए कारोबार की संभावनाएं खुल गईं
  8. लोगों को एयरपोर्ट टर्मिनल से जुड़ी 70 से ज़्यादा कंपनियों में रोज़गार मिला। एयरपोर्ट बनने से इस पूरे इलाके की तस्वीर बदल गई।

जेवर में ही इंटरनेशनल एयरपोर्ट क्यों

  • कनेक्टिविटी के हिसाब से देखें तो
  • दिल्ली एयरपोर्ट से 78 किलोमीटर
  • नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से 80 किलोमीटर 
  • नोएडा से 60 किलोमीटर 
  • गाजियाबाद से 72 किलोमीटर
  • फरीदाबाद से 60 किलोमीटर
  • ग्रेटर नोएडा से 30 किलोमीटर
  • गुरुग्राम से 41 किलोमीटर
  • मथुरा से 85 किलोमीटर 
  • अलीगढ़ से 65 किलोमीटर 

-जेवर एयरपोर्ट बनने से क्या होगा ?

  • दिल्ली एयरपोर्ट पर दबाव कम होगा
  • दिल्ली एयरपोर्ट 1962 में ऑपरेशनल हुआ था
  • दिल्ली एयरपोर्ट देश का सबसे व्यस्त एयरपोर्ट है
  • 2019-20 में साढ़े 6 करोड़ यात्रियों ने सफर किया
  • 2024 तक ट्रैफिक सालाना 10 करोड़ यात्री होगा
  • एयरपोर्ट के टर्मिनल 3 की क्षमता सालाना 3 करोड़ है
  • जेवर एयरपोर्ट पर शुरुआती क्षमता 1.2 करोड़ होगी

एयरपोर्ट इंवेस्टमेंट: देश में ऑपरेशनल एयरपोर्ट

2014 तक- 74 
2021 में- 136 

ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट

जेवर
गोवा
नवी मुंबई

एयरपोर्ट्स पर आगे निवेश

5 साल में 90,000 करोड़ रुपये
एयरपोर्ट की संख्या बढ़ेगी-136 से 220 होगी

जेवर एयरपोर्ट के शिलान्यास पर अखिलेश यादव ने ट्वीट किया कि अखिलेश यादव ने एयरपोर्ट को प्राइवेट प्लेयर को बेचने का आरोप लगाया। अखिलेश ने लिखा कि आज जिसका शिलान्यास होगा, कल उसको बेचने का प्रयास होगा।

एयरपोर्ट का निजीकरण

  • 2006 में यूपीए सरकार ने शुरू किया था।
  • दिल्ली और मुंबई एयरपोर्ट- प्राइवेट ऑपरेटर्स को दिए।
  • हैदराबाद और बैंगलोर एयरपोर्ट में पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप
  • चेन्नई, कोलकाता, लखनऊ, अहमदाबाद, जोधपुर, गुवाहाटी एयरपोर्ट के निजीकरण को फास्टट्रैक करने का फैसला किया था
  • जिस तेजी से भारतीय कंपनियां सैकड़ों नए विमानों को खरीद रही हैं
  • उनके लिए भी नोएडा एयरपोर्ट की बहुत बड़ी भूमिका होगी 
  • ये एयरपोर्ट विमानों के रखरखाव रिपेयर और ऑपरेशन का भी देश का सबसे बड़ा सेंटर होगा 
  • यहां 40 एकड़ में मेंटेनेंस रिपेयर mro सेंटर बनेगा 
  • जो देश विदेश के विमानों को सर्विस देगी और सैकड़ों युवाओं को रोजगार मिलेगा

पंजाब में फ्री वाली पॉलिटिक्स-चरणजीत सिंह चन्नी

करतारपुर कॉरिडोर के लिए बस सेवा फ्री
जनरल कैटगरी के ढाई लाख छात्रों को फ्री ड्रेस
53 लाख लोगों के बिजली बिल बकाया माफ
सीवरेज और पानी के बिल माफ
सरकारी बसों में महिलाओं के लिए मुफ्त सफर
केबल टीवी का मंथली चार्ज 100 रुपये फिक्स

चन्नी- मार्च तक बिजली 3 रुपये यूनिट कर देंगे
केजरीवाल- चुनाव जीते तो 300 यूनिट फ्री बिजली देंगे
अकाली दल- चुनाव जीते तो 400 यूनिट फ्री बिजली देंगे

केजरीवाल-
हर महिला को 1000 रुपये प्रति महीने देंगे
मुफ्त बिजली, मुफ्त पानी, मुफ्त इलाज देंगे
20 लाख रुपये तक का ऑपरेशन भी मुफ्त
पराली जलाने के लिए मुफ्त बायो-डिकम्पोज़र

गोवा में फ्री वाली पॉलिटिक्स

केजरीवाल-
300 यूनिट बिजली फ्री देंगे
हर घर को एक नौकरी देंगे
मुफ्त तीर्थयात्राएं करवाएंगे
प्रमोद सावंत-16,000 लीटर पानी फ्री देंगे
प्रमोद सावंत- वरिष्ठ नागरिकों को तीर्थयात्रा करवाएंगे
ममता बनर्जी-मछुआरों को 4000 रुपये महीना भत्ता देंगे

यूपी में मुफ्त वाली पॉलिटिक्स

योगी आदित्यनाथ

ग्रैजुएट छात्रों को फ्री स्मार्टफोन-टैबलेट दिए जाएंगे
10वीं,12वीं के टॉप स्टूडेंट्स को फ्री लैपटॉप मिलेंगे

अखिलेश यादव

25 लाख रुपये की किसान शहादत सम्मान राशि देंगे
किसानों की कर्जमाफी के लिए अलग फंड बनाएंगे
300 यूनिट फ्री बिजली
5 साल तक मुफ्त राशन

प्रियंका गांधी
12वीं की छात्राओं को स्मार्टफोन देंगे
ग्रेजुएट छात्राओं को स्कूटी दी जाएगी
10 लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त 
किसानों का पूरा कर्जा माफ किया जाएगा
गृहणियों को साल में तीन सिलेंडर मुफ्त
सरकारी बसों में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा

केजरीवाल के वादे का कैलकुलेशन

हर महीने 1000 रुपये
1 करोड़ महिला वोटर 
हर महीने- 1000 करोड़
हर साल- 12000 करोड़

31 मार्च 2022 तक पंजाब पर कर्ज 
2.82 लाख करोड़

राजस्व- 1 लाख 62 हज़ार करोड़
खर्चा- 1 लाख 68 हज़ार करोड़

मुफ्त वाले वादों का क्या हाल होता है
- एक उदाहरण ये आपको समझाते हैं

मध्य प्रदेश के छतरपुर में छात्राओं को स्कूल जाने के लिए मुफ्त साइकिल बांटी गई थी । लेकिन वही साइकिलें दुकानों पर बिक रही है । एक दुकानदार ने बताया कि वो पहले भी सरकारी साइकिलें बेच चुका है । इसका जानकारी अधिकारियों को भी है । साइकिल पर मध्य प्रदेश शासन लिखा है । 'स्कूल चलें हम' का नारा चस्पा है । ये सिर्फ एक मामला है जो सामने आया है । आप सोचिए ऐसे कितने मामले और हैं । सरकारी की तरफ से मुफ्त में मिले लैपटॉप, टैबलेट, टीवी, स्मार्टफोन, साइकिल, राशन सबका यही हाल होता होगा ।

दक्षिण में मुफ्त पॉलिटिक्स का कल्चर

  1. 2021 का तमिलनाडु विधानसभा चुनाव
  2. डीएमके और AIADMK के चुनावी वादे क्या थे
  3. AIADMK-वॉशिंग मशीन देंगे, सोलर चूल्हा देंगे
  4. DMK- टैबलेट देंगे, इंटरनेट कनेक्शन देंगे
  5. AIADMK- हर साल 6 फ्री एलपीजी सिलेंडर देंगे
  6. DMK- हर गैस सिलेंडर पर 100 रुपये माफ कर देंगे
  7. AIADMK- सरकारी बसों में महिलाओं को डिस्काउंट देंगे
  8. DMK- शहरों और कस्बों में बसें महिलाओं के लिए फ्री 
  9. AIADMK- घर की बड़ी महिला को 1500 रुपये महीना देंगे
  10. DMK- 24,000 रुपये की मैटरनिटी असिस्टेंस देंगे, सैनटरी पैड फ्री देंगे

भारतीय में मुफ्त पॉलिटिक्स का इतिहास

  1. तमिलनाडु की राजनीति से शुरुआत
  2. साल 1954 में तमिलनाडु के सीएम के कामराज के कार्यकाल में ऐलान
  3. स्कूलों में मुफ्त शिक्षा और मुफ्त खाना
  4. फिर साल 1967 में DMK फाउंडर सी एन अन्नादुरई का वादा
  5. सत्ता में आने पर 1 रुपये में साढ़े चार किलो चावल
  6. चुनाव जीतने के बाद कुछ इलाकों में स्कीम चली फिर बंद कर दी गई

साल 2006 में मुफ्त पॉलिटिक्स चरम पर पहुंच गई

  1. DMK ने कलर टीवी, 1 रुपये किलो चावल, भूमिहीनों को 2 एकड़ जमीन और मुफ्त गैस स्टोव, 300 रुपये बेरोजगारी भत्ता, गरीब गर्भवती महिलाओं को 6 महीने तक 1 हजार रुपये और बुनकरों को मुफ्त बिजली का वादा
  2. AIADMK ने भी ऐसे ही वादों की झड़ी लगा दी
  3. मुफ्त साइकिल, चप्पल, साड़ी, धोती का वादा
  4. DMK ने चुनाव जीतने पर 3,340 करोड़ रुपये मुफ्त 14 इंच का कलर टीवी बांटने में खर्च किए
  5. AIADMK की सरकार बनी मिक्सर ग्राइंडर और टेबल फैन मुफ्त बांटने में 2 हजार करोड़ खर्च 

फ्री में बांटने का नुकसान क्या होता है

कैसे एक फायदे वाला राज्य घाटे में चला जाता है 

तमिलनाडु के उदाहरण से आपको समझाते हैं

2012-13 में तमिलनाडु 1760 करोड़ रुपये सरप्लस स्टेट था

2213-14 में राज्य 1789 करोड़ के घाटे में आ गया

जो 2014-15 में बढ़कर 6408 करोड़ हो गया 

आज ये घाटा लगभग 36 हजार करोड़ रुपये है 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर