Chhattisgarh: अस्पताल में चिकित्सक नदारद, मरीज को स्ट्रेचर पर लेकर Doctor के घर की तरफ भागे परिजन

देश
किशोर जोशी
Updated May 07, 2022 | 10:29 IST

छत्तीसगढ़ में खस्ताहाल स्वास्थ्य व्यवस्था की एक तस्वीर सामने आई है जो प्रशासन की लापरवाही और गैरजिम्मेदाराना व्यवहार को उजागर करती है। इसमें मरीज के परिजन उसे स्ट्रेजर पर ले जाते दिख रहे हैं।

Chhattisgarh Kin of a patient seen taking him on a stretcher to doctor's residence
मरीज को स्ट्रेचर पर ले जाते परिजन   |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • छत्तीसगढ़ में खस्ताहाल स्वास्थ्य व्यवस्था की तस्वीर आई सामने
  • मरीज को स्ट्रेचर पर लेकर डॉक्टर के घर की तरफ भागे तीमारदार
  • अस्पताल प्रशासन ने दी सफाई, मरीजों ने खुद लिया फैसला

कोरिया (छत्तीसगढ़): छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली का एक ताजा मामला कोरिया जिले से सामने आया है। कोरिया जिले के बैकुंठपुर स्थित जिला अस्पताल में इलाज करने के लिए मरीज को लेकर जब उनके परिजन पहुंचे तो वहां डॉक्टर नहीं थे। इसके बाद  मरीज के परिजन भागते हुए उसे स्ट्रेचर पर लेकर डॉक्टर के घर की तरफ ले जाने लगे। इसी दौरान किसी ने उनका वीडियो बनाकर वायरल कर दिया।

अस्पताल की सफाई

इस घटना के बाद अस्पताल प्रशासन की ओर से भी बयान जारी किया गया है। अस्पताल के सिविल सर्जन केएल ध्रुव ने कहा, 'वे उ डॉक्टर से कंसल्टेशन लेना चाहते थे जो काफी प्रसिद्ध हैं, इसलिए उन्होंने रोगी को स्ट्रेचर पर खुद ही ले लिया। उन्होंने (डॉक्टर ने) उन्हें वापस अस्पताल रेफर कर दिया और मरीज का इलाज शुरू कर दिया गया। ओपीडी बंद होने के कारण हमें इसके बारे में पता नहीं चला।'

दिल्ली में बनने जा रहा नया मेडिकल कॉलेज, पहले सेशन में MBBS के लिए 125 सीटों पर ए़डमिशन

स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की खुली पोल

इस मरीज के बहाने राज्य में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की फिर से पोल खुल गई है। वो भी ऐसे समय में जब राज्य सरकार ने कहा है कि हर महीने के पहले गुरुवार को बुजुर्गों का फ्री में इलाज (Treatment) होगा। कुछ समय पहले ही इसी जिला अस्पताल में ओएसटी सेंटर खोला गया था। अब खबर है कि सेंटर खुलने के छह महीने में दवाइयां नहीं पहुंच रही है। सेंटर में डॉक्टर नहीं और दवाइयां तक नहीं है। नशे के शिकार लोगों से नशे का लत छुड़ाने जिला अस्पताल में यह ओएसटी सेंटर खोला गया है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर