Chandra Grahan 2020: आज दिखाई देगा साल का दूसरा चंद्र ग्रहण, घर बैठे ऐसे देख सकते हैं लाइव

देश
प्रियंका सिंह
Updated Jun 05, 2020 | 00:10 IST

Chandra Grahan on 5 June: इस साल चंद्र ग्रहण 5 जून को लगने जा रहे हैं। बता दें कि इस बार उपछाया या पेनुम्ब्रा चंद्र ग्रहण लगने वाला है। आइए जानते हैं घर बैठे कैसे देख सकते हैं...

Chandra Grahan
आज दिखाई देगा साल का दूसरा चंद्र ग्रहण 

मुख्य बातें

  • 5 जून को चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है।
  • इस साल का पहला चंद्र ग्रहण 10 जनवरी को लगा था। 
  • जानें घर बैठे कैसे देख सकते हैं पेनुम्ब्रा चंद्र ग्रहण

इस साल का दूसरा चंद्र ग्रहण 05 जून यानी आज शुक्रवार को लगने जा रहा है। बता दें कि पहले ग्रहण की तरह ही ये चंद्रग्रहण भी एक पेनुम्ब्रा होगा, जो सामान्य पूर्ण चंद्रमा से अलग होगा। यह ग्रहण आंशिक रूप से चलने वाला एक ग्रहण होगा, जिसका अर्थ है कि चंद्रमा पृथ्वी की छाया के बाहरी भाग जिसे पेनुम्ब्रा कहा जाता है, के जरिए आगे बढ़ेगा। आपको बता दें कि इस साल का पहला चंद्र ग्रहण 10 जनवरी को लगा था। 

जानें कब और कहां देखें 
5 जून को लगने वाला चंद्र ग्रहण एशिया,ऑस्ट्रेलिया, यूरोप और अफ्रीका में देखा जा सकता है। इस ग्रहण के दौरान, चंद्रमा पृथ्वी की परछाई तले आ जाता है। आने वाला पेनुम्ब्रा चंद्र ग्रहण 5 जून को रात्रि 11 बजकर 16 मिनट पर प्रारम्भ होगा व 6 जून को रात्रि 2 बजकर 32 मिनट तक रहेगा। यह उपच्छाया चन्द्र ग्रहण है। इस ग्रहण का सूतक का असर नहीं होगा। पेनुम्ब्रा ग्रहण 6 जून, 2020 को सुबह 2:34 बजे समाप्त होगा।

चंद्र ग्रहण कैसे लगता है?
चंद्र ग्रहण खगोलीय दुनिया की एक अहम घटना है जिसमें चंद्रमा पृथ्वी की परछाई तले आ जाता है। इस घटना को चंद्रग्रहण कहते हैं। ग्रहण के दौरान, चांद की छाया धरती पर पड़ती है और जिस जगह पर यह छाया पड़ती है वहां आंशिक रूप से अंधेरा हो जाता है। तीन खगोलीय पिंडों के संरेखण के आधार पर, तीन तरह के चंद्र ग्रहण होते हैं। कुल, आंशिक और पेनुम्ब्रा यानि उपछाया चंद्र ग्रहण। 

पेनुम्ब्रा चंद्र ग्रहण क्या है
5 जून को लगने वाला ग्रहण उपछाया या पेनुम्ब्रा चंद्र ग्रहण है। उपछाया चंद्र ग्रहण तब होता है जब सूरज और चांद के बीच पृथ्वी घूमते हुए आती है, लेकिन वह तीनों एक सीधी लाइन में नहीं होते। ऐसी स्थिति में चांद की छोटी सी सतह पर अंब्र नहीं पड़ती। पृथ्वी के बीच के हिस्से से पड़ने वाली छाया को अंब्र कहते हैं। वहीं चांद के बाकी हिस्से में पृथ्वी के बाहरी हिस्से की छाया पड़ती है तो उसे  पेनुम्ब्रा कहते हैं। चंद्र ग्रहण के अलावा साल 2020 में दो बार चंद्र ग्रहण आने वाला है। तीसरा चंद्र ग्रहण जुलाई और चौथा साल के आखिर यानी नंवबर में लगने वाला है। ये दो ग्रहण भी पेनुम्ब्रा हैं।

पेनुम्ब्रा चंद्र ग्रहण कैसे देखें 
पेनुम्ब्रा चंद्र ग्रहण को देखना मुश्किल हो सकता है, लेकिन पॉपुलर यूट्यूब चैनेल Slooh और Virtual Telescope ऐसी घटनाओं को लाइवस्ट्रीम करने के लिए जाने जाते हैं। Virtual Telescope Project 2.0 को ग्रहण का एक लाइव वेबकास्ट करने के लिए भी कहा जाता है, जिसे खगोल विज्ञानी Gianluca Masi द्वारा होस्ट किया जाएगा।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर