'सहयोग' कार्यक्रम के जरिए BJP कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद करेंगे केंद्रीय मंत्री, पार्टी मुख्यालय में लगेगा दरबार 

देश
अमित कुमार
अमित कुमार | DEPUTY NEWS EDITOR
Updated Oct 11, 2021 | 11:16 IST

मोदी सरकार बनने के बाद यह 'सहयोग' कार्यक्रम हर दिन बीजेपी दफ्तर में चलाया जा रहा था जब केंद्रीय मंत्री बीजेपी दफ्तर में पार्टी कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद करते थे। लेकिन कोरोना काल के बाद यह बंद हो गया था।

Central ministers to meet BJP workers in 'Sahyog' programme will hear grievances
भाजपा दफ्तर में पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलेंगे केंद्रीय मंत्री।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • भाजपा दफ्तर में एक बार फिर शुरू हुआ 'सहयोग' कार्यक्रम
  • बीजेपी दफ्तर में पार्टी कार्यकर्ताओं से हर रोज मिलेंगे केंद्रीय मंत्री
  • कोरोना संकट की वजह से इस कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया था

नई दिल्ली : सरकार और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच की दूरी मिटाने के लिए एक बार फिर से पार्टी दफ्तर में सहयोग कार्यक्रम की शुरुआत होगी। इस 'सहयोग' कार्यक्रम के तहत हर दिन सोमवार से लेकर शुक्रवार तक एक केंद्रीय मंत्री बीजेपी दफ्तर में बैठेंगे। हर दिन दोपहर 3:00 से 5:00 के बीच केंद्रीय मंत्री बीजेपी दफ्तर में उपलब्ध रहेंगे और कार्यकर्ता उनसे मिलकर अपनी समस्याएं से उन्हें रूबरू करा सकते हैं। केंद्रीय मंत्रियों की यह जिम्मेदारी होगी कि वह बीजेपी कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद करेंगे और उनकी मुश्किलों का उनकी समस्याओं का समाधान करेंगे।

सोमवार को दफ्तर में बैठेंगे स्वास्थ्य मंत्री मंडविया

सोमवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडविया बीजेपी दफ्तर में रहेंगे। तो मंगलवार को कानून मंत्री किरेन रिजिजू, बुधवार को केंद्रीय सूचना प्रसारण और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर, गुरुवार को केंद्रीय रेल, आईटी, टेलीकॉम मंत्री अश्विन वैष्णव बीजेपी कार्यालय में 3 से 5 बजे के बीच कार्यकर्ताओं से मिलेंगे।

पहले हर दिन चलता था 'सहयोग' कार्यक्रम

मोदी सरकार बनने के बाद यह 'सहयोग' कार्यक्रम हर दिन बीजेपी दफ्तर में चलाया जा रहा था जब केंद्रीय मंत्री बीजेपी दफ्तर में पार्टी कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद करते थे। लेकिन कोरोना काल के बाद यह बंद हो गया था। कार्यकर्ताओं की यह शिकायत थी कि केंद्र के मंत्री उनसे मुलाकात नहीं करते हैं उनकी समस्याओं को नहीं सुनते हैं। कई कार्यकर्ताओं ने पार्टी आला नेताओं के सामने अपनी शिकायत दर्ज कराई थी।

कार्यकर्ताओं से मिलने की बात पहले कह चुके हैं पीएम

खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी काउंसिल आफ मिनिस्टर्स की बैठक में मंत्रियों से कह चुके हैं कि वह अपने अपने क्षेत्र के कार्यकर्ताओं से मिलकर उनसे बात करें और उनकी समस्याओं का समाधान करें। सरकारी योजनाओं के बारे में उन्हें बताएं और सरकारी योजनाओं के साथ कार्यकर्ताओं को जोड़ें तभी सरकार के कामकाज को लोगों तक पहुंचाने में आसानी होगी। 

फिर से हो रही है 'सहयोग' कार्यक्रम की शुरुआत

प्रधानमंत्री ने तो यहां तक कहा था कि कोई भी मंत्री कार्यकर्ताओं को काम के लिए लटकाए नहीं और उन्हें दिल्ली का चक्कर न लगाने दे। अगर आपसे काम हो सकता है तो तुरंत काम करें नहीं तो मना करें। ये नही की कार्यकर्ताओं को बेवजह परेशान करें। कार्यकर्ताओ से सीधा संवाद के लिए सोमवार से एक बार फिर 'सहयोग' कार्यक्रम की शुरुआत हो रही है और पहले दिन स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडविया को बुलाया गया है।  क्योंकि पिछले साल भर से सबसे ज्यादा लोग कोरोना वायरस से परेशान रहे हैं। यही वजह है कि पहले मंत्री के तौर पर बीजेपी दफ्तर में स्वास्थ मंत्री उपलब्ध रहेंगे।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर