कंगना रनौत के दफ्तर में तोड़फोड़, हाई कोर्ट ने BMC से जवाब मांगा  

BMC team at Kangana Ranaut's office: बीएमसी की टीम कंगना रनौत के दफ्तर का कथित अवैध हिस्सा तोड़ा है। तोड़फोड़ की इस कार्रवाई पर बम्बई उच्च न्यायालय ने बीएमसी जवाब मांगा है।

BMC tean reaches Kangana Ranaut office to demolish alleged illegal construction
कंगना रनौत को बीएमसी ने दिया है नोटिस। 

मुख्य बातें

  • बीएमसी की टीम ने कंगना रनौत के दफ्तर का अवैध हिस्सा तोड़ा है
  • कंगना की अर्जी पर बम्बई उच्च न्यायालय ने बीएमसी से जवाब मांगा
  • दोपहर बाद मुंबई पहुंचेंगी कंगना, अभिनेत्री ने ट्वीट कर निशाना साधा

मुंबई : बम्बई उच्च न्यायालय ने अभिनेत्री कंगना रनौत के ऑफिस पर हुई तोड़फोड़ की कार्रवाई पर बीएमसी को जवाब दाखिल करने के लिए कहा है। अपने ऑफिस पर बीएमसी की तोड़फोड़ की कार्रवाई रोकने के लिए अभिनेत्री ने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। बीएमसी ने अभिनेत्री के दफ्तर का कथित अवैध हिस्सा तोड़ा है। मौके पर पहुंची अभिनेत्री की कानूनी टीम ने बीएमसी के अधिकारियों को याद दिलाया कि कोविड-19 प्रोटोकॉल के चलते वे तोड़फोड़ की कार्रवाई नहीं कर सकते। बीएमसी का कहना है कि नोटिस मिलने के बाद भी कंगना के बंगले में निर्माण कार्य हुआ है जिसे वह गिरा रही है। 

इससे पहले बीएमसी ने कंगना के बंगले पर नया नोटिस चस्पा किया। इस नोटिस में कहा गया है कि 24 घंटे बीत जाने के बाद भी कंगना अपने ऑफिस में हुए बदलाव के कागजात पेश नहीं कर पाई हैं। ऐसे में इमारत का कथित अवैध हिस्से को गिराया जाना उसके दायरे में आ जाता है। बीएमसी के तमाम अधिकारी कंगना के बंगले पर मौजूद हैं। वहां सुरक्षा बलों की भारी तैनाती की गई है।

कंगना के ऑफिस पहुंची बीएमसी की टीम
बीएमसी कर्मी अपने साथ इमारत को तोड़ने में इस्तेमाल होने वाले उपकरण लेकर आए हैं। बीएमसी का कहना है कि बिना उसकी इजाजत के इमारत में बदलाव करना अवैध है और नियमों का उल्लंघन करने पर व्यक्ति को एक माह से लेकर दो साल तक की सजा और पांच हजार से 25 हजार तक का जुर्माना हो सकता है। बीएमसी का नोटिस मिलने से एक दिन पहले अभिनेत्री ने आशंका जताई थी कि उनके ऑफिस को तोड़ा जा सकता है।

आज मुंबई पहुंचेगी अभिनेत्री
बीएमसी की तरफ से यह कार्रवाई ऐसे समय हो रही है जब कंगना मुंबई से बाहर है। वह बुधवार दोपहर बाद मुंबई पहुंचने वाली हैं। इस बीच कंगना के वकील की तरफ से बीएमसी के नोटिस का जवाब दिया गया है। कंगना के वकील ने कहा है, 'कंगना रनौत की तरफ से अपनी इमारत में कोई काम नहीं कराया जा रहा है। आप ने इसे गलत समझा है। आप ने जो 'स्टॉप वर्क' का जो नोटिस जारी किया है वह कानून सम्मत नहीं है और ऐसा लगता है कि अपने पद का दुरुपयोग करते हुए आपने अभिनेत्री को डराने के लिए नोटिस भेजा है।' 

बीएमसी ने ताजा नोटिस चिपकाया
कंगना के वकील के इस जवाब पर बीएमसी ने भी पलटवार किया है। बीएमसी ने कहा, 'कंगना के आरोप निराधार हैं। नोटिस मिलने के बावजूद आपने काम जारी रखा। इसलिए बिना इजाजत के इमारत में जो हिस्सा बना है वह आपकी जोखिम एवं कीमत पर गिराए जाने योग्य है।' बता दें कि कंगना मनाली से आज मुंबई पहुंचने वाली हैं।

कंगना को मिली है 'वाई' श्रेणी की सुरक्षा
शिवसेना नेताओं की ओर से मिल रही 'धमकियों' को देखते हुए गृह मंत्रालय ने उन्हें 'वाई श्रेणी' की सुरक्षा उपलब्ध कराई है। अभिनेता सुशांत सिंह मौत मामले में कंगना ने महराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाए हैं जिसके बाद वह शिवसेना के नेताओं के निशाने पर आ गई हैं। शिवसेना नेता संजय राउत ने कंगना के मुंबई आने पर उन्हें 'देख लेने की धमकी दी है।'
 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर