Bird Flu: राजस्थान में वर्ड फ्लू की दस्तक, कौओं की हो रही मौत,पोल्ट्री फार्म किए गए बंद

राजस्थान में बर्ड फ्लू ने दस्तक दे दी है वहीं बताया जा रहा है कि ये मामले राजधानी जयपुर तक सामने आ गए हैं कहा जा रहा है कि वहां के जलमहल पर करीब 10 कौए मृत मिले और कुछ बीमार।

Bird flu in Rajasthan, Madhya Pradesh
राजस्थान में बर्ड फ्लू की घटना सरकार और लोगों के लिए एक गंभीर चिंता का विषय है 

कोरोना महामारी से जूझ रहे देश के अहम राज्य राजस्थान से एक और दिक्कत भरी खबर सामने आई है यहां पर अब बर्ड फ्लू (Bird Flu) की दस्तक देखी जा रही है, बताते हैं कि वर्ड फ्लू संक्रमण के चलते  राजस्थान के झालावाड़, जयपुर आदि में तमाम कौओं की मौत हुई है।राजस्थान में जयपुर के जल महल में रविवार 7 कौओं की मौत के साथ राज्य में करीब 252 कौओं की मौत के साथ बर्ड फ्लू का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। पशुपालन विभाग ने जिलों में टीमें भेजी हैं और निगरानी के लिए एक राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है।

जयपुर की जलमहल झील पर इन दिनों काफी संख्या में प्रवासी पक्षी आते हैं, ऐसे में बर्ड फ्लू की दस्तक से प्रवासी पक्षियों पर भी संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है अब तक झालावाड़ में करीब 100 और कोटा में करीब 50 कौओं की मौत सहित प्रदेश भर में करीब 252 कौओं की मौत हो चुकी है।

इलाके के पोल्ट्रीफॉर्म भी बंद करने के आदेश

बर्ड फ्लू की दस्तक के कारण शहरवासियों में डर है, प्रशासनिक अधिकारियों ने भी इलाके का दौरा किया,प्रशासन ने इलाके के पोल्ट्रीफॉर्म भी बंद करने के आदेश दिए हैं। राजस्थान में बर्ड फ्लू की घटना सरकार और लोगों के लिए एक गंभीर चिंता का विषय है, जो पहले से ही कोविड -19 से जूझ रहे हैं। H5N1 वायरस के कारण होने वाला बर्ड फ्लू (एवियन इन्फ्लुएंजा) संक्रामक और घातक है।

हिमाचल प्रदेश में भी पक्षियों की मौत से हड़कंप

अब हिमाचल प्रदेश में भी काफी तादाद में पक्षियों की मौत से प्रशासन में हड़कंप है,वहीं मार्च 2020 में, बिहार के विभिन्न हिस्सों से बर्ड फ़्लू के कारण दर्जनों कौवे की मौत हो गई, जिससे कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप के बीच निवासियों में भय फैल गया। 2006 में वर्ड फ्लू के कारण तमाम मुर्गियों की मौत महाराष्ट्र से हुई थी। वही जिन भी राज्यों में कौए मृत मिले हैं, वहां उनको गहरे गड्डे में चूना डालकर दफना दिया गया है साथ ही लोगों को चेतावनी जारी की गयी है कि वो सतर्क रहें।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर