रिजवान अशरफ के बारे में बड़ा खुलासा, एजेंसियां भी रह गई दंग

आतंकी रिजवान अशरफ से जैसे जैसे पूछताछ आगे बढ़ रही है वो चौंकाने वाली जानकारी दे रहा है। उसके कबूलनामे के बाद एजेंसियों का कहना है कि नूपुर शर्मा के कत्ल के जरिए भारत में बड़े पैमाने पर अशांति फैलाने की पाकिस्तानी साजिश थी।

Rizwan Ashraf, Nupur Sharma, Tehrike Lubback, Pakistan, Prophet Mohammad, Hafiz Saeed
रिजवान अशरफ, आरोपी 
मुख्य बातें
  • 16-17 जुलाई को पकड़ा गया था रिजवान अशरफ
  • राजस्थान बॉर्डर पर बीएसएफ के हत्थे चढ़ा
  • पाकिस्तान के कठियाखेड़ा का रहने वाला है अशरफ

16-17 जुलाई को राजस्थान बॉर्डर पर एक शख्स पकड़ा गया जो पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ की कोशिश कर रहा था। उस शख्स का नाम रिजवान अशरफ है। रिजवान से जब उसके भारत आने का मकसद पूछा गया तो वो बहकाने वाली बात कर रहा था। बाद में उसे खुफिया एजेंसियों को सौंपा गया। अब जब उससे पूछताछ आगे बढ़ रही है तो चौंकाने वाली जानकारी सामने आ रही है। बड़ी बात यह है कि उससे जब पूछताछ होती है तो वो कुरान की आयत पढ़ने लगता है। उसने बताया कि वो खास मकसद से भारत में दाखिल होने की कोशिश कर रहा था। नबी से उसे काम सौंपा है कि उसे नूपुर शर्मा का कत्ल करना है, नूपुर शर्मा को दोजख भेजना है। 

कौन है रिजवान अशरफ

  • पाकिस्तान के कठियाला खेड़ा का रहने वाला
  • हिंदी, ऊर्दू और पंजाबी बोलना लिखना जानता है।
  • तहरीके लब्बैक से जुड़ा हुआ है।
  • 6 जुलाई को उसके कस्बे में मौलानाओं की सभा हुई जिसमें नूपुर शर्मा को दोजख में भेजे जाने का फैसला
  • 9 जुलाई को अपने कस्बे से रवाना हुआ
  • 16-17 जुलाई की रात बीएसएफ ने पकड़ा था

एजेंसियों का कहना है कि आरोपी से पूछताछ के जरिए और जानकारी इकट्ठा की जा रही है। अभी तक की पूछताछ से जो बात सामने आई है उसके मुताबिक किसी बड़े वारदात को अंजाम दिलाकर देश में सांप्रदायिक सौहार्द को खराब करना था। श्रीगंगानगर में 24 साल के पाक नागरिक रिजवान को हिंदूमलकोट सेक्टर में चेक पोस्ट पर भारतीय सीमा में दाखिल होते वक्त पकड़ा गया था। आरोपी के पास से धार्मिक किताबें व धारदार हथियार बरामद हुए थे। पकड़े जाने के बाद राजस्थान पुलिस की पूछताछ में यह बात सामने आई कि वो गंगानगर से दाखिल होने के बाद अजमेर शरीफ जाना चाहता था।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर