Bharat Bandh: 'भारत बंद' की तपिश रेल संचालन पर, अंबाला और फिरोजपुर मंडल में करीब 25 ट्रेनें प्रभावित

देश
रवि वैश्य
Updated Sep 27, 2021 | 11:47 IST

Bharat Bandh Today News:तीन नए कृषि कानूनों  के विरोध में 40 से ज्यादा किसान संगठनों ने आज यानी सोमवार को 'भारत बंद' का ऐलान किया है जिसका असर सुबह से दिख रहा है।

Bharat Bandh News
किसानों के 'भारत बंद' का जगह-जगह दिख रहा है असर 

Bharat Bandh: तीन नए कृषि कानूनों  के विरोध में किसानों के संगठनों ने 'भारत बंद' (Bharat Band) का आह्वान किया है, ये सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक के लिए किया गया है। इस दौरान अस्पताल, मेडिकल स्टोर, राहत एवं बचाव कार्य सहित सभी आवश्यक सेवाओं को छूट रहेगी। किसानों के भारत बंद को देखते हुए जगह-जगह गश्‍त बढ़ा दी गई है साथ ही सुरक्षा के इंतजाम बढ़ा दिए गए हैं। भारत बंद की घोषणा के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में अलर्ट जारी किया गया है और खासी निगाह रखी जा रही है वहीं बिहार और पश्चिम बंगाल में भी इसका असर दिखाई दे रहा है और कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन आदि किया जा रहा है।

संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) की अगुआई में इस बंद का कई बड़े राजनीतिक दलों ने समर्थन किया है, कांग्रेस,बीएसपी, वाईएसआर कांग्रेस, AAP सहित कई पॉलिटिकल पार्टियों ने इसे सपोर्ट किया है।

कांग्रेस के लिए भारी शर्मिंदगी

विरोध कर रहे किसानों ने दिल्ली कांग्रेस प्रमुख अनिल चौधरी के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल को खदेड़ दिया, बताया जा रहा है कि दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी अपना समर्थन देने के लिए गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंचे थे, लेकिन किसानों ने उन्हें जाने के लिए कहा और उन्हें खदेड़ दिया गया।

उत्तर रेलवे ने कहा कि दिल्ली, अंबाला और फिरोजपुर मंडलों में रेल परिचालन प्रभावित है क्योंकि लोग रेल पटरियों पर बैठे हैं। दिल्ली संभाग में 20 से ज्यादा जगहों पर जाम लगाया जा रहा है, अंबाला और फिरोजपुर मंडल में करीब 25 ट्रेनें प्रभावित हैं।

किसान नेता राकेश टिकैत ने इस बावत ट्वीट करते हुए लिखा- SKM के आव्हान पर देशभर में भारत बंद को मिला अभूतपूर्व समर्थन,नागरिकों को हो रही परेशानी के लिए क्षमा चाहते हैं लेकिन किसान भी 10 महीने से झेल रहे हैं तमाम परेशानियां,किसानों द्वारा आक्समिक वाहनों को निकलवाने व यात्रियों हेतु पानी चाय दूध के बेहतर इंतजाम किए गए हैं।

हरियाणा और पंजाब में दिख रहा व्यापक असर

किसान आंदोलन के मद्देनजर गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने NH-9 और NH-24 को जाम कर दिया है और विरोध में सड़क पर ही बैठ गए हैं। विरोध के चलते गाजीपुर की ओर यातायात बंद कर दिया गया है। वहीं दिल्ली-अमृतसर राष्ट्रीय राजमार्ग हरियाणा के कुरुक्षेत्र के शाहाबाद में किसानों के विरोध में, कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन करते हुए अवरुद्ध कर दिया गया। हिसार-दिल्ली हाईवे पर रामायण टोल को किसानों ने जाम कर दिया है,इसके अलावा हिसार-चंडीगढ़ रोड और हिसार-जींद रोड जाम कर दिया गया है।

दक्षिण के राज्यों में भी दिख रहा खासा असर

कर्नाटक में विभिन्न संगठनों ने कलबुर्गी सेंट्रल बस स्टेशन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया क्योंकि किसान संगठनों ने तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आज भारत बंद का आह्वान किया है। केरल के कई इलाकों में  'भारत बंद' का अच्छा असर दिख रहा है, सड़कें सूनी दिख रही हैं, तिरुवनंतपुरम में दुकानें बंद हैं। एलडीएफ और यूडीएफ से जुड़े ट्रेड यूनियनों ने तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आज भारत बंद के आह्वान का समर्थन किया। 

'एम्बुलेंस, डॉक्टर या आपात स्थिति में जाने वाले लोग गुजर सकते हैं'

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा- एम्बुलेंस, डॉक्टर या आपात स्थिति में जाने वाले लोग गुजर सकते हैं। हमने कुछ भी सील नहीं किया है, हम सिर्फ एक संदेश भेजना चाहते हैं। हम दुकानदारों से अपील करते हैं कि वे अपनी दुकानें अभी बंद रखें और शाम 4 बजे के बाद ही खोलें। बाहर से यहां कोई किसान नहीं आ रहा।


 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर