Bengaluru violence: बेंगलुरु में विवादित पोस्ट पर भड़की हिंसा, पुलिस फायरिंग में 3 लोगों की मौत, धारा 144 लागू

Bengaluru Violence: कांग्रेस विधायक के भतीजे के सोशल मीडिया पोस्ट के खिलाफ भड़की हिंसा में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि 60 पुलिसकर्मी घायल हो गए। शहर में धारा 144 लागू कर दिया गया है।

Bengaluru Violence: 2 dead, 60 cops injured after mob vandalises Congress MLA's house
बेंगलुरु में विवादित पोस्ट पर भड़की हिंसा, पुलिस फायरिंग में 3 लोगों की मौत, धारा 144 लागू।  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • कांग्रेस विधायक के भतीजे के सोशल मीडिया पोस्ट के खिलाफ भड़की हिंसा
  • विधायक के भतीजे की गिरफ्तारी न होने पर हिंसक हो गई आक्रोशित भीड़
  • इस हिंसा में दो लोगों की मौत हुई है जबकि 60 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं

बेंगलुरु :  एक विवादित सोशल मीडिया पोस्ट पर गुस्साई भीड़ ने मंगलवार रात कांग्रेस के एक विधायक के आवास पर हमला कर दिया। इस दौरान पुलिस की ओर से हुई फायरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि पुलिसकर्मी घायल हो गए। बताया जा रहा है कि विधायक के एक संबंधी की ओर से विवादित पोस्ट किया गया जिस पर लोग आक्रोशित हो गए। डीजे हल्ली एवं केजी हल्ली पुलिस स्टेशन इलाके में पुलिस के साथ भीड़ की झड़प हुई। प्रदर्शनकारी विधायक के करीबी की गरिफ्तारी की मांग कर रहे हैं। हिंसा एवं उपद्रव को देखते हुए बेंगलुरु में धारा 144 लागू कर दी गई है। 

पुलिस फायरिंग में दो लोगों की मौत हुई
बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर कमल पंत का कहना है कि पुलिस की फायरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई जबिक एक घायल व्यक्ति को अस्पताल ले जाया गया है। झड़प में एक एसीपी सहित करीब 60 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि हिंसा को देखते हुए बेंगलुरु शहर में धारा 144 एवं डीजे हल्ली एवं केजी हल्ली पुलिस स्टेशन इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं, बेंगलुरु के ज्वाइट कमिश्नर (अपराध) संदीप पाटील ने बताया कि हिंसा मामले में 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अधिकारी का कहना है कि मामले में और लोगों को गिरफ्तार किया जा रहा है।

भीड़ ने विधायक के घर को घेर लिया 
बताया गया कि सोशल मीडिया पोस्ट के खिलाफ नाराजगी जाहिर करते हुए सैकड़ों लोग विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के आवास को घेरकर पत्थरबाजी शुरू कर दी। प्रदर्शनकारियों ने आवास में लगी आग को बुझाने के लिए दमकल की गाड़ियों को आगे नहीं बढ़ने दिया। आवास पर जिस वक्त भीड़ का हमला हुआ उस वक्त विधायक अपने घर पर नहीं थे। 

लोगों ने पुलिसकर्मियों पर की पत्थरबाजी
इसके अलावा हजारों लोग केजी हल्ली पुलिस स्टेशन के बाहर जुट गए और वहां मौजूद पुलिसकर्मियों पर हमला किया। भीड़ ने वहां एक संपत्ति को भी आग के हवाले कर दिया। लोग विधायक के भतीजे पी नवीन को विवादित पोस्ट के लिए तत्काल गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। लोगों का एक समूह नवीन के खिलाफ केस दर्ज कराने के लिए केजी हल्ली पुलिस स्टेशन गया था लेकिन लोगों का कहना है कि पुलिस ने केस दर्ज करने की जगह उनसे आपसी तौर पर मामले को सुलझाने के लिए कहा। इस घटना पर मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने राज्य के गृह मंत्री बासवराज बोम्मई से बात की है और स्थिति को नियंत्रित में लाने के लिए कदम उठाने के लिए कहा है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर