बालाकोट एयर स्‍ट्राइक : पाकिस्‍तान को भनक भी नहीं हुई, भारत ने रातों-रात यूं लिया था पुलवामा का बदला

देश
श्वेता कुमारी
Updated Feb 26, 2021 | 06:00 IST

पाकिस्‍तान के बालाकोट में भारतीय वायुसेना ने आज ही के दिन 2019 में एयर स्‍ट्राइक कर आतंक‍ियों के ठिकानों को ध्‍वस्‍त कर दिया था। यह एयर स्‍ट्राइक पुलवामा हमले के 12 दिन बाद की गई थी।

बालाकोट एयर स्‍ट्राइक : पाकिस्‍तान को भनक भी नहीं हुई, भारत ने रातों-रात यूं लिया था पुलवामा का बदला
बालाकोट एयर स्‍ट्राइक : पाकिस्‍तान को भनक भी नहीं हुई, भारत ने रातों-रात यूं लिया था पुलवामा का बदला  |  तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्‍ली : जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी, 2019 को हुए आतंकी हमले को दो साल हो चुके हैं। पाकिस्‍तान की शह पर हुई इस कायराना आतंकी वारदात में भारत ने अपने 40 बहादुर जवानों को खोया था, लेकिन इस घटना के 12 दिन बाद ही भारत ने वह कदम उठाया कि पाकिस्‍तान को जैसे सांप सूंघ गया। भारतीय वायुसेना के उस साहसिक कारनामे को आज दो साल हो गए हैं।

पुलवामा में हुई उस आतंकी हमले की टीस लिए भारतीय वायुसेना ने पाकिस्‍तान के बालाकोट में एयर स्‍ट्राइक कर आतंकियों के ठिकानों को ध्‍वस्‍त कर दिया गया था। वायुसेना की इस कार्रवाई में कितने आतंकी मारे गए, इसे लेकर कोई आधिकारिक आंकड़ा हालांकि अब तक जारी नहीं किया गया है, लेकिन ऐसी कई रिपोर्ट्स सामने आ चुकी है, जिनमें स्‍थानीय लोगों ने भारतीय विमानों द्वारा बम बरसाए जाने के बाद के खौफ को बयां किया।

जैश के ठिकानों को बनाया था निशाना

भारतीय वायुसेना की यह कार्रवाई इसलिए भी महत्‍वपूर्ण है, क्‍योंकि यह 1971 के भारत-पाकिस्‍तान युद्ध के बाद पहली बार था, जब भारतीय वायुसेना ने न केवल पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर (PoK) से लगने वाली नियंत्रण रेखा लांघी थी, बल्कि अंतरराष्‍ट्रीय सीमा रेखा लांघते हुए पाकिस्‍तान के सुदूर खैबर पख्‍तूनख्‍वा प्रांत के बालाकोट में जाकर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के ठिकानों को निशाना बनाया था।

इससे पहले 1999 के कारगिल युद्ध में भी हालांकि भारतीय वायुसेना की मदद ली गई थी, लेकिन तब वायुसेना के विमानों ने बस नियंत्रण रेखा ही लांघी थी। पुलवामा हमले के बाद वायुसेना ने बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्‍मद के जिस कैंप को निशाना बनाया था, वहां आतंकियों के लिए प्रशिक्षण केंद्र चलाया जा रहा था। इसे लेकर भारतीय वायुसेना के पास पुख्‍ता जानकारी थी, जिससे उनका निशाना सटीक रहा।

...और गायब हो गई थी पाकिस्‍तान की नींद

आतंकियों को प्रशिक्षण देने के लिए चलाए जा रहे इस कैंप में बड़ी संख्‍या में आतंकियों की मौजूदगी थी और इसे देखते हुए ही अनुमान जताया जाता है कि वायुसेना की इस कार्रवाई में 250 से 300 आतंकियों का खात्‍मा हुआ। भारतीय लड़ाकू विमानों ने यह कार्रवाई रातों रात की थी, जिसकी भनक तक पाकिस्‍तान को नहीं लग पाई थी। पाकिस्‍तानी रडार भी भारतीय विमानों की अपने हवाई क्षेत्र में मौजूदगी को पकड़ नहीं पाए थे।

भारत ने यह कार्रवाई तड़के करीब 3:30 बजे की थी, जब लोग नींद की आगोश में थे। लेकिन भारतीय विमानों के बमबर्षकों ने वहां जलजला ला दिया था, जिसकी आवाज सुन लोग दहशत में आ गए, उनकी आंखों से नींद गायब हो चुकी थी। उस समय पाकिस्‍तान डिफेंस की ओर से किए गए एक ट्वीट पर भी लोगों ने खूब मजे लिए थे, जिसमें देश की अवाम को आश्‍वस्‍त करते हुए कहा गया था, 'चैन से सो जाइये, क्‍योंकि PAF जाग रही है।'

पाकिस्‍तान डिफेंस के ट्विटर हैंडल से यह ट्वीट रात 12 बजकर 6 मिनट पर किया था, जिसके कुछ ही घंटों में भारतीय वायुसेना के बमवर्षक विमानों ने पाकिस्‍तान की नींद उड़ा दी थी। आज हम भारतीय वायुसेना के उसी शौर्य को याद कर रहे है, जिसने पाकिस्‍तान में बैठे आतंकियों को सबक दे दिया कि उनकी नापाक हरकतें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी तो पाक हुक्‍मरानों को भी चेताया कि आतंकवाद पर 'दोहरा रवैया' नहीं चलेगा।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर