अयोध्‍या में भूमि पूजन को लेकर उत्‍साह, हनुमानगढ़ी में 3 मिनट की विशेष पूजा करेंगे पीएम मोदी

देश
श्वेता कुमारी
Updated Aug 02, 2020 | 10:31 IST

Ayodhya Ram Mandir Bhumi Pujan: अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन 5 अगस्‍त को होना है। इस दौरान पीएम मोदी के हनुमानगढ़ी में भी दर्शन-पूजन का कार्यक्रम है।

अयोध्‍या में भूमि पूजन को लेकर उत्‍साह, हनुमानगढ़ी में 3 मिनट की विशेष पूजा करेंगे पीएम मोदी
अयोध्‍या में भूमि पूजन को लेकर उत्‍साह, हनुमानगढ़ी में 3 मिनट की विशेष पूजा करेंगे पीएम मोदी 

मुख्य बातें

  • अयोध्‍या में राम मंदिर के लिए भूमि पूजन को लेकर लोगों में खासा उत्‍साह है
  • राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्‍यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करने वाले हैं
  • इस दौरान प्रधानमंत्री के हनुमानगढ़ी में विशेष पूजा-अर्चना का कार्यक्रम है

अयोध्‍या : अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण को लेकर तैयारियां जोरशोर से जारी हैं, जिसके लिए भूमि पूजन 5 अगस्‍त को होना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्‍यास करेंगे। प्रधानमंत्री के 5 अगस्‍त को पूर्वाह्नन 11 बजकर 15 मिनट पर अयोध्‍या पहुंचने का कार्यक्रम है, जिस दौरान वह सबसे पहले हनुमानगढ़ी जाएंगे और वहां दर्शन-पूजन करेंगे। यहां पीएम मोदी के आगमन पर विशेष पूजा की व्यवस्‍था की गई है।

हनुमानगढ़ी में होगी विशेष पूजा

हनुमानगढ़ी के मुख्य पुजारी महंत राजू दास ने बताया कि यहां प्रधानमंत्री के आगमन, पूजन व प्रस्‍थान को लेकर 7 मिनट का समय दिया गया है, जिसमें करीब 3 मिनट पूजा में लगेंगे। उन्‍होंने कहा, '5 अगस्त को प्रधानमंत्री भूमिपूजन के लिए आ रहे हैं। उन्होंने तय किया है कि पहले वह हनुमानगढ़ी में दर्शन करेंगे। यहां विशेष पूजा की व्यवस्था रहेगी। हमें 7 मिनट दिए गए हैं। इसमें प्रधानमंत्री का आना-जाना शामिल है। करीब 3 मिनट पूजा में लगेंगे।'

मंच पर मौजूद रहेंगे बस 5 लोग

हनुमानगढ़ी में पूजा-अर्चना के बाद पीएम मोदी रामलला का दर्शन करेंगे, जिसके बाद भूमिपूजन का कार्यक्रम होगा। इस दौरान अयोध्या में मंच पर कितने लोग मौजूद रहेंगे, इसे भी अंतिम रूप दे दिया गया है। बताया जा रहा है कि मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अतिरिक्‍त केवल उत्‍तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक मोहन भागवत और श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ही मंच पर मौजूद रहेंगे।

सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अयोध्‍या दौरे को देखते हुए यहां सुरक्षा के भी पुख्‍ता प्रबंध किए गए हैं। मौजूदा वक्‍त में कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए भी यहां खास इंतजाम किए गए हैं। किसी भी जगह पर पांच से अधिक लोगों को एक साथ खड़ा होने की अनुमति नहीं होगी। कार्यक्रम स्थल पर केवल उन्‍हीं लोगों को जाने की अनुमति होगी, जिन्‍हें पास हासिल होगा। अयोध्या की सीमाएं चार अगस्त से ही सील कर दी जाएंगी। पुख्‍ता सुरक्षा इंतजाम के लिए राम नगरी में लगभग 3,500 सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की जा रही है। 

ड्रोन कैमरों से आकाश में भी नजर

भूमि पूजन स्थल के आसपास और वीवीआईपी के रूट पर घरों व इमारतों की छतों से स्नाइपर्स नजर रखेंगे, जबकि एटीएस की कमांडों टीम भी मौजूद रहेगी। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वाले 5000 सीसीटीवी कैमरों की नजर से अयोध्या की विशेष निगरानी की जाएगी, जबकि ड्रोन कैमरों से आसमान पर भी नजर रखी जाएगी। पीएम मोदी के दौरे को देखते हुए खुफिया एजेंसियां भी सतर्क हैं और सुरक्षा प्रतिष्‍ठानों को लागातर सूचना मुहैया करा रही हैं। पीएम मोदी के दो घंटे से अधिक समय तक अयोध्‍या में रहने का कार्यक्रम है। प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक, वह दोपहर 2 बजे वहां से रवाना होंगे।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर