Ayodhya bhoomi pujan: राम लला के कपड़े सिलने की जिम्मेदारी मिली इन्हें, इस रोचक परंपरा के बारे में बताई ये बात

देश
प्रियंका सिंह
Updated Jul 27, 2020 | 13:10 IST

अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए भूमि पूजन कार्यक्रम की तैयारी शुरू की जा चुकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुद जाकर इसका जायजा लिया था। कार्यक्रम में कपड़ों से लेकर खाने तक का खास ख्याल रखा जा रहा है।

Ayodhya bhoomi pujan
राम लला के कपड़े सिलने की जिम्मेदारी मिली इन्हें 

मुख्य बातें

  • राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम की तैयारी जोर-शोर से चल रही है।
  • 5 अगस्त को होने वाले इस कार्यक्रम की जिम्मेदारी खुद मुख्यमंत्री ने संभाल रखी है।
  • जानिए कौन बना रहा है भगवान राम के लिए कपड़े।

अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए भूमि पूजन कार्यक्रम की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। 5 अगस्त को होने वाले इस कार्यक्रम में खाना बनाने से लेकर कपड़े बनाने तक के लिए खास लोग नियुक्त किए गए हैं। वहीं 5 अगस्त को होने वाले कार्यक्रम में राम लला को जो कपड़े पहनाए जाएंगे उसे टेलर भागवत प्रसाद और शंकर लाल तैयार कर रहे हैं। शंकर लाल ने बताया कि यह हमारी चौथी पीढ़ी है जो भगवान राम की मूर्ति के लिए कपड़े तैयार कर रही है।

टेलर भगवत प्रसाद का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बहुत ही शुभ दिन अयोध्या आ रहे हैं। यह दिन इतने लंबे इंतजार के बाद आया है। हमारे जन्म से पहले राम मंदिर बनाने के लिए संघर्ष शुरू हो गया था। बताया जाता है कि टेलर शंकर लाल और भगवत प्रसाद कई साल से आयोध्या में राम लला के अलावा कई अन्य प्रतिष्ठित विग्रहों के लिए भी कपड़े सिलते चले आ रहे हैं। दोनों भाई कई वर्षों से कपड़े सिलते हैं और खास बात है कि उन्हें राम लला के सटीक माप की भी जानकारी अच्छी तरह से है।

वहीं राम लला के लिए कपड़े पंडित कल्कि राम देते हैं। जिन्हें सिकलर तैयार किया जाता है। राम दल के अध्यक्ष पंडित कल्कि राम अनुसार जो कपड़े बनाए जा रहे हैं, उनके पीछे उद्देश्य यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार सफल हों और भारत की पहचान और मजबूत बनें। पंडित कल्कि राम 6 साल से राम लला के दरबार में ध्वजारोहण करते हैं और साथ ही, कई हवन भी कर चुके हैं। पंडित कल्कि राम का मानना है कि अगर प्रधानमंत्री मजबूत हैं, तो भारत मजबूत होगा और जब भारत मजबूत होगा, तो यह विश्वगुरु बन जाएगा। 

वहीं 5 अगस्त को होने वाले इस भव्य कार्यक्रम की जिम्मेदारी खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संभाल रखी है। इस दिन प्रधानमंत्री मोदी राम मंदिर की आधारशिला रखेंगे उसी के बाद ही मंदिर का निर्माण शुरू किया जाएगा।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर