Assam Mizoram Issue: FIR के बाद बोले असम के सीएम हिमंता बिस्वा सरमा, खुशी से जांच में शामिल होंगे

देश
ललित राय
Updated Jul 31, 2021 | 16:17 IST

असम मिजोरम सीमा विवाद के संबंध में असम के सीएम हिमंता बिस्वा सरमा पर एफआईआर दर्ज की गई है, उन्होंने कहा कि जांच प्रक्रिया में वो खुशी से शामिल होंगे। लेकिन कुछ सवाल भी खड़े किए हैं।

assam mizoram border dispute, assam mizoram border violence, assam mizoram border, himanta biswa sarma, fir on himanta biswa sarma,
FIR के बाद बोले असम के सीएम,खुशी से जांच में शामिल होंगे 

मुख्य बातें

  • असम के सीएम हिमंता बिस्वा सरमा पर एफआईआर दर्ज
  • असम मिजोरम सीमा विवाद से जुड़ी हिंसा मामले में एफआईआर
  • असम पुलिस ने पूछताछ के लिए मिजो सांसद के वनलालवेना को बुलाया है।

असम मिजोरम सीमा विवाद के संबंध में हिंसा का स्वरूप अब राजनीतिक हो चला है। मिजो सांसद के वनलालवेना को असम पुलिस ने 1 अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया है तो दूसरी तरफ असम के सीएम हिमंता बिस्वा सरमा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। एफआईआर दर्ज किए जाने के बाद हिमंता बिस्वा सरमा ने अपनी पहली प्रतिक्रिया में कहा कि जांच प्रक्रिया में शामिल होने में उन्हें खुशी होगी। लेकिन सवाल यह कि जांच किसी निष्पक्ष एजेंसी को क्यों नहीं सौंपी गई। सबको पता है कि जहां घटना घटी वो असम सरकार के वैधानिक सीमा में आती है। 

आखिर क्या है मामला
अब सवाल यह है कि आखिर ऐसा क्या हो गया कि हिमंता विस्वा सरमा पर एफआईआर दर्ज की गई। दरअसल असम के तीन जिले और मिजोरम के तीन जिले आपस में मिलते हैं और उन्हीं जिलों की जुड़ी सीमा पर विवाद है। मिजोरम सरकार का कहना है कि 1873 में जो व्यवस्था बनी थी उसका पालन असम ने नहीं किया। लेकिन असम ने 1933 की व्यवस्था का हवाला दिया। असम सरकार का तर्क है कि जब बातचीत की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा रहा था तो उस समय मिजोरम की तरफ से अंधाधुंध फायरिंग की गई जिसमें असम के पांच पुलिसकर्मी शहीद हो गए। 


मिजो सांसद को पूछताछ के लिए असम पुलिस ने बुलाया

बता दें कि असम मिजोरम सीमा पर हिंसा के संबंध में मिजो सांसद के वनलालवेना को असम  पुलिस ने पूछताछ के लिए 1 अगस्त को बुलाया है। इसे लेकर मिजोरम छात्र संगठन से जुड़े लोग विरोध कर रहे हैं, मिजो नेताओं का कहना है कि यह तो तनाव को बढ़ाने वाली कार्रवाई है। इस तरह की हरकतों से असम को बचना चाहिए था। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर