गृह मंत्री से केजरीवाल की अपील, हिंसा ग्रस्त इलाकों में तुरंत हो सेना की तैनाती, कर्फ्यू लगे   

देश
आलोक राव
Updated Feb 26, 2020 | 11:59 IST

Arvind Kejriwal : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसा ग्रस्त इलाकों में तुरंत सेना तैनात करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि वह इस बारे में गृह मंत्री को पत्र लिखने जा रहे हैं।

Arvind Kejriwal seeks deployment of army in violence hit area of North east Delhi
दिल्ली हिंसा में अब तक 20 लोगों की जान जा चुकी है।  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 20, करीब 150 लोग हुए जख्मी
  • हिंसा प्रभावित इलाकों में धारा 144 लागू, अर्धसैनिक बलों की संख्या बढ़ाई गई
  • दिल्ली हिंसा पर गृह मंत्रालय की करीबी नजर, एनएसए डोभाल भी ले रहे जायजा

नई दिल्ली: उत्तर पूर्वी दिल्ली के इलाकों में हुई हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर चिंता जताई है। केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि बीती रात वह बड़ी संख्या में लोगों के साथ संपर्क में रहे और स्थिति की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने कहा कि हिंसा प्रभावित इलाकों  में स्थितियां गंभीर एवं चिंताजनक हैं। पुलिस हिंसा को नियंत्रित नहीं कर पा रही है। ऐसे में हिंसा प्रभावित इलाकों में तुरंत सेना की तैनाती होनी चाहिए और कर्फ्यू लगाया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह इस बारे में गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिख रहे हैं। 

केजरीवाल ने अपने ट्वीट में कहा, 'मैं पूरी रात लोगों के साथ संपर्क में रहा। उत्तर पूर्वी दिल्ली में स्थितियां गंभीर हैं। हिंसा नियंत्रित करने के लिए दिल्ली पुलिस लगातार प्रयास कर रही है लेकिन वह इसे काबू नहीं कर पा रही है। हिंसा ग्रस्त इलाकों में तुरंत सेना की तैनाती हो और कर्फ्यू लगाना चाहिए। मैं सेना की तैनाती और कर्फ्यू के लिए गृह मंत्री को पत्र लिखने जा रहा हूं।'

ड्रोन से रखी जा रही नजर
बता दें कि दिल्ली की इस हिंसा में अब तक 20 लोगों की जान जा चुकी है और 150 से ज्यादा लोग घायल हैं जिनका उपचार हो रहा है। इनमें से कई लोगों की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। उत्तर पूर्वी दिल्ली के इलाकों में हिंसा की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए धारा 144 लागू की गई है। साथ ही इन इलाकों में अर्धसैनिक बलों की संख्या बढ़ाई गई है। हिंसा ग्रस्त इलाकों पर नजर रखने के लिए पुलिस ड्रोन का इस्तेमाल कर रही है। उपद्रवियों की पहचान के लिए सीसीटीव फुटेज भी खंगाल रही है।  

दिल्ली हिंसा पर केंद्र की नजर
उत्तर पूर्वी के इलाकों की हिंसा पर केंद्र सरकार की नजर बनी हुई है। गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को दो उच्च स्तरीय बैठक की। उन्होंने पहली बैठक दिल्ली पुलिस और गृह मंत्रालय के अधिकारियों के साथ की जबकि दूसरी बैठक लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पुलिस कमिश्न अमूल्य पटनायक के साथ की। 

सीएए समर्थकों एवं विरोधियों के बीच हुआ टकराव
उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजपुर, जाफराबाद, चांद बाग, भजनपुरा, गोकुलपुरी, कर्दमपुरी में हिंसक उपद्रव एवं आगजनी हुई है। इन इलाकों में सीएए समर्थकों एवं विरोधियों के बीच हुई हिंसा में मंगलवार तक 13 लोगों की जान गई लेकिन बुधवार को  यह संख्या बढ़कर 20 हो गई। हिंसा में घायल लोगों का इलाज जीटीबी अस्पताल में हो रहा है। जीटीबी अस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट सुनील कुमार ने बताया कि हिंसा में मारे गए लोगों की संख्या 20 हो गई है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर