ममता बनर्जी पर गरजे अमित शाह, पश्चिम बंगाल में कानून के तीन सेट कर रहे हैं काम

देश
ललित राय
Updated Nov 06, 2020 | 19:31 IST

गृहमंत्री और बीजेपी के कद्दावर नेता अमित शाह ने पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी सरकार की तीखी आलोचना की। सीएए पर कहा कि कानून बनकर तैयार है और जल्द ही इसे लागू भी किया जाएगा।

ममता बनर्जी पर गरजे अमित शाह, पश्चिम बंगाल में कानून के तीन सेट कर रहे हैं काम
पश्चिम बंगाल के दौरे पर हैं अमित शाह 

मुख्य बातें

  • पश्चिम बंगाल के दौरे पर गृहमंत्री अमित शाह, ममता बनर्जी सरकार पर भड़के
  • ममता राज में बंगाल में कानून के तीन सेट कर रहे हैं काम
  • सीएए पर कानून पूरी तरह तैयार, इसे जल्द से जल्द लागू किया जाएगा।

कोलकाता। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह इन दिनों पश्चिम बंगाल के दौरे पर हैं। शुक्रवार को वो मतुआ समाज के लोगों से मिले। यह वो समाज है जिसने 2019 के चुनाव में बीजेपी के लिए कारगर साबित हुआ और इस समाज को रिझाने के लिए ममता बनर्जी सरकार की तरफ से कोशिश जारी है। लेकिन अमित शाह ने कहा कि सच यह है कि वोट बैंक की राजनीति करने वाली ममता दी को समय समय पर राज्य की जनता की याद आती है। 

पांच साल के भीतर बना देंगे सोनार बांग्ला
2010 में, पश्चिम बंगाल ने ममता बनर्जी को राज्य का शासन दिया। लेकिन लाइन से 10 साल नीचे, उनके वादे खोखले साबित हुए हैं और लोगों की उम्मीदें निराशा में बदल गई हैं।नरेंद्र मोदी के नेतृत्व को मौका दीजिए, हम पांच साल के भीतर 'सोनार बांग्ला' बनाएंगे।कोविड 19 और बाढ़ राहत कार्य के दौरान भी तृणमूल भ्रष्टाचार से दूर नहीं रही ... उन्होंने राज्य में कानून के तीन सेट बनाए हैं - एक भतीजे के लिए (एक ममता बनर्जी के), एक अपने वोट बैंक के लिए, और एक दूसरे के लिए आम बंगाली: कोलकाता में गृह मंत्री अमित शाह


सबसे अधिक राजनीतिक हत्या ममता राज में 

पश्चिम बंगाल देश में तब होता है जब राजनीतिक कार्यकर्ताओं की हत्या की बात होती है। पिछले एक साल में, भाजपा के 100 कार्यकर्ता मारे गए हैं, लेकिन क्या कार्रवाई की गई है? आने वाले समय में, भाजपा पश्चिम बंगाल में 200 से अधिक सीटों के साथ सरकार बनाएगी। लोकसभा चुनाव में आशीर्वाद देने वाले लोग फिर से हमें आशीर्वाद देंगे। अमित शाह से पूछा गया कि क्या राज्य में धारा 356 लगाया जाएगा तो इस सवाल के जवाब में कहा कि ममता बनर्जी की सरकार तो खुद ब खुद 2021 में गिरने वाली है। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर