सर्जिकल और एयर स्ट्राइक का जिक्र कर बोले शाह- US और इजरायल की तरह हर दुस्साहस का मुंहतोड़ जवाब देता है भारत

देश
किशोर जोशी
Updated May 03, 2022 | 18:19 IST

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि पहले जब भी पाकिस्तान समर्थित चरमपंथियों द्वारा आतंकवादी हमले किए जाते थे तब भारत केवल बयान जारी करता था, लेकिन आज हालात अलग है।

Amit Shah recalls surgical strike says- Entire world knows if anyone tries to meddle with Indian border
अब हर दुस्साहस का मुंहतोड़ जवाब देता है भारत: अमित शाह 
मुख्य बातें
  • अब भारत भी सीमाओं से छेड़छाड़ करने वालों पर करता है पटलवार: अमित शाह
  • शाह बोले- पहले जब पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी हमले करते थे तो भारत बयान जारी करता था
  • अमित ने गिनाई मोदी सरकार की अन्य उपलब्धियां

बेंगलुरु: एक दिवसीय दौरे पर कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को एक कार्यक्रम को संबोधित किया। इस दौरान अमित शाह ने 2019 के पुलवामा आतंकी हमले के मद्देनजर किए गए सर्जिकल स्ट्राइक को याद करते हुए कहा कि पूरी दुनिया जानती है कि अगर कोई भारतीय सीमाओं में घुसने की कोशिश करता है तो उसे करारा जवाब दिया जाएगा। शाह ने कहा कि भारत अपनी सीमाओं के साथ छेड़छाड़ करने वालों पर अमेरिका और इजराइल की तरह ही पलटवार कर सकता है।

शाह ने कांग्रेस पर साधा निशाना

गृह मंत्री शाह ने पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार को लचर सुरक्षा व्यवस्था के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि उस दौर में जब पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी हमले करते थे तो भारत बयान जारी करता था लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार बनने के बाद से चीजें बदली हैं। शाह ने कहा, 'पहले केवल दो राष्ट्र, संयुक्त राज्य अमेरिका और इज़राइल ऐसे देश थे जब कोई उनकी सीमाओं और सेना के साथ गुस्ताखी करता था तो वो जवाबी कार्रवाई करते थे। अब प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के कारण, हमारा महान राष्ट्र भारत भी उस समूह में शामिल हो गया है।'

क्या कर्नाटक में होंगे बड़े फेरबदल ! अमित शाह की कई वरिष्ठ नेताओं से होगी मुलाकात

सर्जिकल स्ट्राइक का किया जिक्र

अमित शाह ने कहा, 'नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद, 2016 में उरी में और 2019 में पुलवामा में आतंकवादी हमले हुए, हमने पाकिस्तान के अंदर 10 दिनों के भीतर सर्जिकल स्ट्राइक और हवाई हमले किए। कुछ लोग सवाल करते हैं कि इसका (सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक) कोई असर हुआ। मैं उन्हें बताता हूं कि इसका (जवाबी हमला) बहुत बड़ा असर हुआ है।' मोदी सरकार की अन्य उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए, शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर को विशेष अधिकार देने वाले अनुच्छेद 370, 35-ए को निरस्त किया गया। लोग कह रहे थे कि अगर अनुच्छेद 370 को समाप्त कर दिया गया तो इससे रक्तपात हो जाएगा, लेकिन कोई भी रक्तपात करने की बात तो दूर कंकड़ फेंकने की भी हिम्मत नहीं कर सकता है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर