कोविड से बचाव के लिए नेजल स्प्रे, AIIMS में जल्‍द शुरू होगा Bharat Biotech के Nasal Vaccine का ट्रायल : सूत्र

कोविड से बचाव के लिए जो Covaxin बनाने वाली भारत बायोटेक ने नेजल स्‍प्रे भी विकसित किया है, जिसके दूसरे चरण का ट्रायल जल्‍द एम्‍स दिल्‍ली में शुरू होने की संभावना है। पहले चरण का ट्रायल पूरा हो चुका है।

कोविड से बचाव के लिए नेजल स्प्रे, AIIMS में जल्‍द शुरू होगा Bharat Biotech के Nasal Vaccine का ट्रायल : सूत्र
कोविड से बचाव के लिए नेजल स्प्रे, AIIMS में जल्‍द शुरू होगा Bharat Biotech के Nasal Vaccine का ट्रायल : सूत्र (तस्‍वीर साभार : iStock)  |  तस्वीर साभार: Representative Image

नई दिल्‍ली : देश में कोरोना वायारस संक्रमण महामारी की रोकथाम के लिए हर स्‍तर पर प्रयास हो रहे हैं, जिनमें टीकाकरण एक महत्‍वपूर्ण कदम है। इसी दिशा में आगे बढ़ते हुए कोवैक्‍सीन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक ने कोविड-19 से बचाव के लिए नेजल स्‍प्रे वैक्‍सीन की दिशा में भी कदम बढ़ाए हैं, जिसके पहले चरण का क्लिन‍िकल ट्रायल पूरा होने के बाद अब दूसरे और तीसरे चरण का क्लिनिकल ट्रायल जल्‍द शुरू होने की संभावना है।

भारत बयोटेक के नेजल वैक्‍सीन का दूसरे चरण का क्लिनिकल ट्रायल दिल्‍ली स्थित आयुर्विज्ञान संस्‍थान (AIIMS) में शुरू होने की संभावना है। समाचार एजेंसी ANI ने सूत्रों के हवाले से दी रिपोर्ट में कहा है कि कोविड-19 से बचाव के लिए दुनियाभर में नेजल स्‍प्रे बनाने को लेकर जारी रिसर्च के बीच भारत बायोटेक के इंट्रानेजल वैक्‍सीन को दूसरे चरण के ट्रायल के लिए नियामक से अगस्‍त में मंजूरी मिल चुकी है। इसके लिए अब एम्‍स की एथिक्‍स कमेटी से मंजूरी जरूरी है, जिसके बाद अगले दो सप्‍ताह में यहां ट्रायल शुरू हो सकता है।

28 दिन के अंतराल पर दी जाएगी 2 डोज

एम्‍स की एथिक्‍स कमेटी से मंजूरी के बाद भारत बायोटेक के नेजल वैक्‍सीन के दूसरे चरण रका ट्रायल वॉलंटियर्स पर किया जाएगा। उन्‍हें चार सप्‍ताह के अंतराल पर वैक्‍सीन की दो डोज दी जाएगी। एडेनोवायरल इंट्रानेजल वैक्‍सीन BBV154 अपने तरह की पहली वैक्‍सीन है, जिसका भारत में इंसानों पर चिकित्‍सकीय परीक्षण हो रहा है। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अनुसार, इस वैक्‍सीन के पहले चरण का ट्रायल 18-60 साल के वॉलंटियर्स पर किया जा चुका है, जिसके नतीजे संतोषजनक रहे।

वैक्‍सीन के तीसरे चरण का ट्रायल, दूसरे चरण का क्लिनिकल ट्रायल पूरा होने के बाद होगा। दिल्‍ली एम्‍स में कोवैक्‍सीन का क्लिन‍िकल ट्रायल 2 से 18 साल के बच्‍चों व किशोरों पर भी किया गया है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर