क्यों सूरत को Thank You कह रही आम आदमी पार्टी? 22 साल की पायल पटेल भी बनी पार्षद

देश
लव रघुवंशी
Updated Feb 23, 2021 | 21:04 IST

Aam Aadmi Party: गुजरात के सूरत के नगर निगम चुनावों में आम आदमी पार्टी (AAP) ने 27 सीटें जीती हैं। कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली। वहीं बीजेपी को सबसे ज्यादा 93 सीटें मिलीं।

surat
सूरत में दूसरे नंबर पर रही आप पार्टी 

मुख्य बातें

  • सूरत नगर निकाय के चुनाव AAP ने 27 सीटें जीतीं
  • आप पार्टी दूसरे नंबर पर रही है, कांग्रेस को एक भी सीट नहीं
  • केजरीवाल गुजरात में करेंगे रोड शो

नई दिल्ली: गुजरात में हुए छह नगर निगम के चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (BJP) को बड़ी सफलता मिली है। सभी जगह बीजेपी को एकतरफा जीत हासिल हुई है। लेकिन सूरत के परिणामों ने सबको थोड़ा हैरान किया है। दरअसल, यहां आम आदमी पार्टी (AAP) ने 27 सीटें जीती हैं। आप ने गुजरात की छह नगर निगमों के लिए हुए चुनाव में 470 उम्मीदवार उतारे थे और उसे सूरत में 27 सीटों पर जीत मिली। इसे लेकर आप में गुजरात से लेकर दिल्ली तक उत्साह है। 

इस प्रदर्शन से उत्साहित AAP के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल 26 फरवरी को गुजरात का दौरा करेंगे। वे एक रोड शो में गुजरात के लोगों का धन्यवाद करेंगे। केजरीवाल ने ट्विटर पर राज्य में नई राजनीति की शुरुआत करने के लिए गुजरात के लोगों बधाई दी। पार्टी नेताओं ने कहा कि केजरीवाल सूरत में रोड शो करेंगे जहां आप ने नगर निकाय के चुनाव में 27 सीटें जीतीं हैं।

AAP में उत्साह

आप ने ट्वीट कर कहा, 'आम आदमी पार्टी ने गुजरात की सूरत महानगर पालिका में भाजपा-कांग्रेस को चौंकाया। सूरत महानगर पालिका में जनता ने कांग्रेस को बुरी तरह नकारा और AAP को 27 सीटों पर जीता कर बनाया मुख्य विपक्षी दल। आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा का विकल्प कांग्रेस नहीं है बल्कि आम आदमी पार्टी है। भाजपा को कांग्रेस नहीं हरा सकती है, आम आदमी पार्टी हरा सकती है। दिल्ली में भी आम आदमी पार्टी ने भाजपा को दो बार हराया है। अब ये बात लोगों को समझ आ रही है। 

22 साल की पायल बनीं पार्षद

सूरत से ही आम आदमी पार्टी की 22 साल की पायल पटेल पार्षद चुनी गई है। पायल पटेल पूर्णा (पश्चिम)- वार्ड नंबर 16 से AAP की उम्मीदवार थीं। जीत के बाद पायल पटेल का स्थानीय लोगों ने धूमधाम से स्वागत किया। आप ने इसी साल 24 जनवरी को सूरत में वार्ड नंबर 16 से पायल पटेल को मैदान में उतारने का फैसला किया था।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर