Delhi विस में भ्रष्टाचार पर रात को रार: इधर AAP विधायकों का गिटार-ड्रम वाला प्रोटेस्ट, उधर बीजेपी MLAs ने यूं खोला मोर्चा

देश
अभिषेक गुप्ता
अभिषेक गुप्ता | Principal Correspondent
Updated Aug 30, 2022 | 01:17 IST

AAP vs BJP in Delhi: दिल्ली विधानसभा परिसर में रात भर विरोध प्रदर्शन करने की आम आदमी पार्टी (आप) की घोषणा के कुछ घंटे बाद सोमवार को भाजपा ने कहा कि पार्टी के विधायक, कथित भ्रष्टाचार के सिलसिले में मंत्रियों मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन को बर्खास्त करने की मांग को लेकर वहां रात भर धरना प्रदर्शन करेंगे।

aap, bjp, delhi, delhi assembly
दिल्ली विधानसभा परिसर के बाहर खुले गगन के नीचे गिटार और ड्रम के साथ माहौल बनाते हुए आप के विधायक। (वीडियो स्क्रीनग्रैबः @AamAadmiParty)  |  तस्वीर साभार: Twitter

AAP vs BJP in Delhi: दिल्ली विधानसभा परिसर के बाहर सोमवार (29 अगस्त, 2022) देर रात सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) और विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजापा) की ओर से भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर एक-दूसरे के खिलाफ विरोध करते देखा गया। खुले आसमान के नीचे सड़क पर गिटार और ड्रम के साथ माहौल बनाते हुए आप विधायक देखे गए। वे इस दौरान दिल्ली के एलजी विनय कुमार सक्सेना के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। 

आप विधायकों का आरोप है कि सक्सेना ने अपने कर्मचारियों पर साल 2016 में 1400 करोड़ रुपए के नोट (डिमॉनिटाइज यानी बंद हो चुके) बदलने  का आरोप लगाया। वह उस दौरान खादी और ग्रामीण उद्योग आयोग के चेयरमैन थे। इस बीच भाजपा के विधायकों को बैनर और तख्तियां लेकर भगत सिंह की प्रतिमा के पास देखा गया। वे डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन के इस्तीफे की मांग (कथित भ्रष्टाचार को लेकर) पर अड़े थे।

दरअसल, विस परिसर में रात भर विरोध प्रदर्शन करने के आप के ऐलान के चंद घंटों बाद भाजपा ने कहा था कि पार्टी के विधायक, कथित भ्रष्टाचार के सिलसिले में सिसोदिया और जैन को बर्खास्त करने की मांग को लेकर वहां रात भर धरना प्रदर्शन करेंगे। भाजपा के एक बयान में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि पार्टी विधायक इसलिए धरने पर बैठने के लिए मजबूर हुए हैं क्योंकि विधानसभा में उनकी बात नहीं सुनी गई है।

बीजेपी के सभी आठ विधायक सोमवार और शुक्रवार को दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र की कार्यवाही में शामिल नहीं हुए थे क्योंकि उन्हें दोनों दिन सदन से बाहर कर दिया गया था। पार्टी ने अपने बयान में कहा कि उसके विधायकों को सोमवार को फिर से दिल्ली विधानसभा से "असंवैधानिक रूप से निष्कासित" किया गया और "किसी भी मुद्दे को उठाने की अनुमति नहीं दी गई।''

पार्टी ने कहा, "आज दोपहर नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी की अध्यक्षता में भाजपा विधायक दल की बैठक हुई और यह निर्णय लिया गया कि भाजपा के विधायक विधानसभा परिसर में शहीद-ए-आजम भगत सिंह, राज गुरु और सुखदेव की प्रतिमाओं के पास धरने पर बैठेंगे। यह विरोध रात भर जारी रहेगा।"

इससे पहले दिन में, ‘आप’ ने कहा कि उसके विधायक खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के अध्यक्ष पद पर रहने के दौरान कथित रूप से 1,400 करोड़ रुपये के प्रतिबंधित नोट बदलने के मामले में उपराज्यपाल वी. के. सक्सेना के खिलाफ जांच की मांग को लेकर दिल्ली विधानसभा परिसर में विरोध प्रदर्शन करेंगे। (एजेंसी इनपुट्स के साथ) 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर