Vice-Presidential Polls 2022: मार्गरेट अल्वा का समर्थन करेगी AAP, विपक्ष की हैं उम्मीदवार

देश
अभिषेक गुप्ता
अभिषेक गुप्ता | Principal Correspondent
Updated Aug 03, 2022 | 17:19 IST

Vice-Presidential Polls 2022: AAP की राजनीतिक मामलों की समिति की बैठक के बाद आप नेता ने बताया- हम उपराष्ट्रपति के चुनाव में मार्गरेट अल्वा का समर्थन करेंगे जो विपक्ष की उम्मीदवार हैं। बैठक में उनकी उम्मीदवारी पर चर्चा हुई उसके बाद निर्णय लिया गया कि हम उन्हीं का समर्थन करेंगे।

Margaret Alva, Opposition, AAP
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • 80 साल की हैं नेत्री, कांग्रेस से है नाता
  • कई सूबों की रह चुकी हैं राज्यपाल
  • किताबें भी लिख चुकी हैं मार्गरेट अल्वा

उपराष्ट्रपति चुनाव (Vice-Presidential Polls 2022) में आम आदमी पार्टी (आप) विपक्ष की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा को सपोर्ट करेगी। आप की ओर से यह नाम बुधवार (तीन अगस्त, 2022) दोपहर पीएसी (राजनीतिक मामलों की समिति) की बैठक के दौरान लिया गया। 

मुख्यमंत्री आवास में हुई यह मीटिंग दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में हुई, जिसमें डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, दुर्गेश पाठक, आतिशी, राघव चड्ढा, एनडी गुप्ता, इमरान हुसैन, राखी और संजय सिंह मौजूद रहे। 

बैठक के सीएम आवास पर आप सांसद संजय सिंह ने पत्रकारों को बताया, "हम उपराष्ट्रपति के चुनाव में मार्गरेट अल्वा का समर्थन करेंगे जो विपक्ष की उम्मीदवार हैं। बैठक में उनकी उम्मीदवारी पर चर्चा हुई उसके बाद निर्णय लिया गया कि हम उन्हीं का समर्थन करेंगे।" 

JMM भी अल्वा के पक्ष मे करेगा समर्थन
इस बीच, झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) दल ने भी तय किया है कि वह अल्वा के समर्थन में वोट देगा। पार्टी अध्यक्ष शिबू सोरेन ने रांची में घोषणा की कि उनकी पार्टी उपराष्ट्रपति पद के लिए होने वाले चुनाव में विपक्ष की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा के पक्ष में मतदान करेगी। झामुमो ने राष्ट्रपति पद के लिए 18 जुलाई को हुए चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में मतदान किया था। पार्टी के मौजूदा समय में लोकसभा में एक और राज्यसभा में दो सांसद हैं।

एक नजर में जानिए अल्वा के बारे में
अल्वा मूल रूप से मेंगलुरू की हैं। उनका जन्म 14 अप्रैल 1942 को हुआ था। वह फिलहाल 80 साल की हैं। सियासी तौर पर कांग्रेस से ताल्लुक रखने वाली मार्गरेट राजस्थान, गुजरात और उत्तराखंड की राज्यपाल भी रह चुकी हैं। वह इससे पहले कैबिनेट मंत्री की जिम्मेदारी भी निभा चुकी हैं। उन्होंने इसके अलावा कई किताबें भी लिखी हैं, जिसमें- "करेज एंड कमिटमेंटः एन ऑटोबायोग्राफी" शामिल है। (भाषा इनपुट्स के साथ) 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर