हरियाणा की शादियों में मैरिज हॉल में 50 और फार्म हाउस में 100 मेहमानों की ही इजाजत

देश
रवि वैश्य
Updated Nov 24, 2020 | 17:10 IST

राजधानी दिल्ली से सटे राज्य हरियाणा में भी कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जा रहे हैं, इसी क्रम में सरकार ने शादी में आने वाले मेहमानों की संख्या फिक्स कर दी है।

haryana marriage
शादियों में मैरिज हॉल और खुले स्थानों पर मेहमानों की संख्या को सीमित किया गया है 

दिल्ली और उत्तर प्रदेश की तर्ज पर हरियाणा ने भी राज्य में होने वाली शादियों में आने वाले मेहमानों की संख्या फिक्स कर दी है, ऐसा कदम राज्य में तेजी से बढ़ रहे कोरोना मामलों की वजह से उठाया गया है। यह आदेश 26 नवंबर से प्रभावी होंगे। गौरतलब है कि हरियाणा में कोरोना संक्रमण के मामले गिरावट के बाद फिर से उसमें तेजी आने लगी है।

सोमवार को प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 2663 नए मामले आने के बाद राज्य में इस महामारी के पीड़ितों की कुल संख्या 2,19,963 हो गई है जिनमें से 1,97,335 अब तक ठीक हो चुके हैं तथा 28 और मरीजों की मौत से इस महामारी से मृतकों का आंकड़ा भी बढ़कर 2216 पहुंच गया है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मंगलवार को कहा कि गुरुग्राम, फरीदाबाद, रेवाड़ी और हिसार जिलों में होने वाली शादियों में मैरिज हॉल और खुले स्थानों पर मेहमानों की संख्या को सीमित किया गया है।

वहीं राज्य के गुरुग्राम में शादी समारोहों में पुलिस वाले भी शामिल होकर मास्क ना पहनने वाले गेस्ट पर जुर्माना करेंगे, इस बावत गुरुग्राम के पुलिस आयुक्त केके राव द्वारा जारी एक आदेश के अनुसार, पुलिस बिना निमंत्रण के शहर में किसी भी शादी के कार्यक्रमों में शामिल हो सकती है और मास्क नहीं पहनने वालों को जुर्माना जारी कर सकती है साथ ही वो मेहमानों पर भी निगाह रखेंगे।

मंगलवार को  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 की तीसरी लहर की अधिक गंभीरता के कई कारण है तथा इनमें से एक महत्वपूर्ण कारण प्रदूषण है।सूत्रों ने बताया कि केजरीवाल ने प्रधानमंत्री से कहा कि तीसरी लहर में 10 नवंबर को दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 8,600 नए मामले सामने आए थे और उसके बाद से संक्रमण के मामलों की संख्या तथा संक्रमण की दर दोनों में तेजी से कमी आ रही है।मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि राष्ट्रीय राजधानी में यह रूझान जारी रहेगा।
 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर