विदेश में रहने वाले 90,000 NRI लौटे पंजाब, कोरोना वायरस खतरनाक स्तर तक पहुंचने का खतरा

देश
रामानुज सिंह
Updated Mar 24, 2020 | 12:18 IST

Corona virus in Punjab : देश भर में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। पंजाब सरकार का कहना है कि 90,000 एनआरआई वापस आ गए हैं, अधिकांश में कोरोना वायरस के लक्षण हैं।

90,000 NRIs living abroad return to Punjab, corona virus may reach dangerous level
पंजाब में कोरोना वायरस खतरा और बढ़ा 

मुख्य बातें

  • पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि विदेश में रहने वाले 90,000 लोग इस महीने यहां आ गए हैं
  • मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि हमने घरेलू क्वारंटीन के उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की है
  • सीएम ने बड़ी सुरक्षा, स्वच्छता और चिकित्सा तैयारी अभियान के लिए केंद्र से 150 करोड़ रुपए की मांग की है

नई दिल्ली: पंजाब के करीब 90,000 लोग, जो विदेश में रह रहे थे वे दुनिया भर में कोरोना वायरस फैलने के बाद वापस आ गए। अब यह सुनिश्चित करने के लिए कि राज्य में वायरस न फैले इसके लिए पंड की जरूरत होगी। अमरिंदर सिंह सरकार ने बड़ी सुरक्षा, स्वच्छता और चिकित्सा तैयारी अभियान के लिए केंद्र से 150 करोड़ रुपए की मांग की है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को लिखे पत्र में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने लिखा कि पंजाब में देश के एनआरआई की सबसे संख्या है और उनमें से सिर्फ 90,000 इस महीने प्रदेश में आ गए हैं। अधिकांश में COVID-19 के लक्षण हैं और लोगों के बीच बीमारी फैला रहे हैं। कोरोना वायरस रोगियों की संख्या खतरनाक रूप से बढ़ती जा रही है। अब तक, 23 लोगों पॉजिटिव पाए गए हैं। उनमें से एक की मृत्यु हो गई है।

पंजाब में कर्फ्यू, उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई
प्रदेश पर बड़ा दबदबा शुरू हो गया है, दो दिन पहले सभी सार्वजनिक परिवहन को बंद कर दिया और लोगों और सामानों की आवाजाही पर प्रतिबंध की घोषणा की। पंजाब में कर्फ्यू की घोषणा करने वाला पहला राज्य बन गया और इसका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी। लॉकडाउन के बावजूद लोगों को जरूरी समानों को प्राप्त करने की बाहर जाने की अनुमति दी गई है। कर्फ्यू के दौरान नागरिकों को सड़कों या सार्वजनिक स्थानों पर नहीं देखा जा सकता है। अगर वे दिखे गए तो उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है या जुर्माना लगाया जा सकता है।

'सभी फैसले सबकी भलाई के लिए है'
मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया कि पिछले कुछ दिनों में, हमने घरेलू क्वारंटीन के उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की है। जो भी उपाय किए जा रहे हैं, वे सभी की भलाई के लिए किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं खुश हूं कि हर कोई सहयोग कर रहा है, कुछ सुरक्षा उपायों के लिए खतरा पैदा कर रहे हैं, मैं ऐसा नहीं होने दूंगा। राज्य में कर्फ्यू उल्लंघन के लिए 48 मामले दर्ज किए गए थे। इनमें से, सबसे अधिक 26 मामले चंडीगढ़ के पास मोहाली से थे।

दो साल का बच्चा भी संक्रमित
पंजाब में दो लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है, जिसमें एक दो साल का बच्चा भी शामिल है। दो नए मामलों के साथ ही राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 23 हो गई है। संक्रमित बच्चा जर्मनी से नवांशहर लौटे व्यक्ति का पोता है, जिसकी पिछले बुधवार दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी। इटली से होते हुए जर्मनी से लौटे 70 वर्षीय व्यक्ति की उनकी जांच रिपोर्ट आने से पहले ही मौत हो गई थी, जिसमें बाद में संक्रमण की पुष्टि हुई थी। बच्चे के कोविड-19 से ग्रसित होने के साथ ही इस परिवार के 11 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। दूसरी संक्रमित 80 वर्षीय महिला है जोकि चंडीगढ़ के सबसे पहले संक्रमित व्यक्ति के दोस्त की मकान मालकिन है। पंजाब में अब तक नवांशहर में 15, मोहाली में पांच, अमृतसर में दो और होशियारपुर में एक संक्रमण के मामले सामने आए हैं।


 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर