चीन से भारत आईं 1.7 लाख PPE किट, कोरोना से बड़ी लड़ाई को लेकर सरकार ने तेज की तैयारियां

6 अप्रैल को भारत में कोरोना के सबसे ज्यादा नए केस सामने आने के बीच सरकार ने तैयारियां तेज कर दी हैं। देश में टेस्ट किट और मास्क की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए चीन और कई देशों को ऑर्डर दिए जा रहे है।

Corona virus
प्रतीकात्मक तस्वीर 

मुख्य बातें

  • मास्क, सुरक्षा किट और जरूरी उपकरणों को पर्याप्त मात्रा सुनिश्चित कर रही सरकार
  • विदेशों में दिए जा रहे ऑर्डर, स्वदेशी का उत्पादन बढ़ाने पर भी जोर
  • चीन के साथ सप्लाई लाइन खुली, भारत पहुंचीं 1.7 लाख PPE किट

नई दिल्ली: भारत ने सोमवार को कोरोनो वायरस संकट के बीच चीन से 1.70 लाख पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट (पीपीई) कवर के लिए सप्लाई लाइनें खोलीं। 20,000 कवर की घरेलू आपूर्ति के साथ, कुल 1.90 लाख कवरॉल अब अस्पतालों में वितरित किए जाएंगे और अब तक पहले से ही देश में उपलब्ध 3,87,473 पीपीई किट में जोड़ देंगे। पीपीई (पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट) ऐसी किट होती हैं जिनका इस्तेमाल करके पूरे शरीर को कोरोना का इलाज करने के दौरान सुरक्षित किया जा सकता है। इनका इस्तेमाल स्वास्थ्य कर्मचारियों सहित खतरनाक परिस्थिति में काम करने वाले लोग करते हैं।

भारत सरकार द्वारा अब तक कुल 2.94 लाख पीपीई कवर की व्यवस्था और आपूर्ति की गई है। इसके अलावा, दो लाख घरेलू उत्पादित N95 मास्क भी अलग अलग अस्पतालों में भेजे जा रहे हैं। इनमें भारत सरकार की ओर से 20 लाख से अधिक एन-95 मास्क की आपूर्ति की गई है।

देश में मौजूदा समय में लगभग 16 लाख एन-95 मास्क उपलब्ध हैं, और यह आंकड़ा दो लाख मास्क की ताज़ा आपूर्ति के साथ बढ़ेगा। ताजा आपूर्ति के ज्यादातर हिस्से को तमिलनाडु, महाराष्ट्र, दिल्ली, केरल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, और राजस्थान जैसे कोरोनो वायरस मामलों की अधिक संख्या वाले राज्यों में भेजा जा रहा है।

केंद्रीय संस्थानों जैसे AIIMS, सफदरजंग और RML अस्पताल, RIMS, NEIGRIHMS, BHU, और AMU को भी आपूर्ति भेजी जा रही है। एक आधिकारिक बयान में कहा गया है, 'विदेशी आपूर्ति शुरू करने से COVID-19 के खिलाफ लड़ाई के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण खरीदने के प्रयासों में मदद मिलेगी।'

इससे पहले सिंगापुर स्थित कंपनी को 80 लाख पूर्ण पीपीई किट (एन 95 मास्क सहित) के लिए एक ऑर्डर दिया गया था और अब ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि 11 अप्रैल से दो लाख दो लाख किट की आपूर्ति शुरु होगी और इसके बाद एक सप्ताह में आठ लाख से ज्यादा तक होगी।

60 लाख पूर्ण पीपीई किट का ऑर्डर देने के लिए चीनी कंपनी के साथ बातचीत अंतिम चरण में है, जिसमें एन-95 मास्क भी शामिल होंगे। N-95 मास्क और सुरक्षात्मक चश्मे के लिए अलग-अलग ऑर्डर भी कुछ विदेशी कंपनियों को दिए जा रहे हैं।

घरेलू क्षमताओं का भी पूरा इस्तेमाल करने पर जोर दिया जा रहा है उत्तर रेलवे ने एक पीपीई कवरल विकसित किया है। यह डीआरडीओ द्वारा पहले विकसित पीपीई कवरॉल और एन-99 मास्क से अलग है। अब इन उत्पादों का बड़े पैमाने पर उत्पादन शुरू करने का प्रयास किया जा रहा है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा अपडेट के अनुसार, देश में संक्रमण के लगभग 4,281 मामले हैं जिनमें 3,851 सक्रिय मामले और 318 ठीक चुके केस हैं और 111 मौतें हो चुकी हैं। मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटों में COVID-19 के 704 नए मामले सामने आए हैं, जो कि भारत में अब तक एक दिन में आए सबसे ज्यादा केस है।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर