Ghaziabad Suicide News: बुजुर्ग को एक महीने से नहीं आ रही थी नींद, परेशान होकर बालकनी से लगाई छलांग, मौत

Ghaziabad Suicide News: गुरुग्राम के पंचशील वेलिंगटन सोसाइटी की 16वी मंजिल से कूदकर 65 वर्षीय बुजुर्ग ने सुसाइड कर लिया। जांच में पता चला कि मृतक पिछले एक माह से नींद न आने की बीमारी से पीड़ित थे। जिसके कारण देर रात 3 बजे उन्‍होंने बालकनी से छलांग लगा दी।

roof jump suicide
नींद न आने से परेशान बुजुर्ग ने किया सुसाइड   |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • मृतक बुजुर्ग नींद न आने की बीमारी से थे ग्रस्ति
  • देर रात करीब 3 बजे बालकनी से लगाई छलांग
  • परिजनों के अनुसार रातभर बालकनी में टहलते रहते थे

Ghaziabad Suicide News: गुरुग्राम के क्रॉसिंग रिपब्लिक से सुसाइड का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां की पंचशील वेलिंगटन सोसाइटी की 16वी मंजिल से कूदकर 65 वर्षीय बुजुर्ग ने सुसाइड कर लिया। मृतक रिटायर्ड सीनियर सेक्शन सुपरवाइजर थे और पिछले एक माह से नींद न आने के चलते काफी परेशान थे। गिरने की आवाज सुनकर सोसाइटी में तैनात सिक्योरिटी गार्ड दौड़कर मौके पर पहुंचा और इसके बाद इस घटना की जानकारी पुलिस को देने के साथ मृतक के परिजनों को दी। जिसके बाद पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

मृतक बुजुर्ग की पहचान 65 वर्षीय विनोद शंकर के तौर पर हुई है। ये एमटीएनएल से सीनियर सेक्शन सुपरवाइजर के पद से रिटायर्ड थे और अपने परिवार के साथ सोसायटी की 16वी मंजिल के फ्लैट में रहते थे। उनके बेटे विक्रांत ने बताया कि करीब एक महीने से पिता को नींद नहीं आ रही थी। उनका इलाज चल रहा था, लेकिन आराम नहीं मिल रहा था। जिसकी वजह से वे काफी परेशान रहने लगे थे। नींद न आने के कारण वे अक्सर रात में फ्लैट से निकलकर बालकनी में घूमते रहते थे।

देर रात फ्लैट की बालकनी से छलांग लगा दी

विजयनगर कोतवाल योगेंद्र मलिक ने बताया कि बीती रात करीब 3:00 बजे सूचना मिली कि किसी ने सोसायटी के छत से छलांग लगा दी है। जिसके बाद पहुंची पुलिस ने जब मामले की जांच की तो पता चला कि बुजुर्ग लंबे समय से नींद न आने की बीमारी से ग्रस्ति थे। पुलिस ने उनकी मेडिकल रिपोर्ट की जांच की है। साथ ही पड़ोसियों से भी पूछताछ की गई। उन्होंने बताया कि मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने तहकीकात करने के बाद शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के तीन बेटे और एक शादीशुदा बेटी के अलावा पत्नी भी है। घटना के समय बेटी भी बच्चों संग विनोद शंकर के घर आई हुई है।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर