Ghaziabad Crime News: आशा देवी की हत्या की सुलझी गुत्थी, अफेयर के शक में प्रेमी ने उतार दिया मौत के घाट

Ghaziabad Crime News: नंदग्राम में आशा देवी नाम की महिला की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा दिया है। अफेयर के शक में आशा के बॉयफ्रेंड ने उसकी हत्या कर दी। बॉयफ्रेंड को शक था कि, आशा देवी उसे छोड़कर किसी और को चाहने लगी है। जिसके बाद बॉयफ्रेंड ने उसको मौत के घाट उतार दिया।

 Ghaziabad Crime News
महिला की हत्या के आरोप में बॉयफ्रेंड गिरफ्तार  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • आशा देवी नाम की महिला की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाया
  • अफेयर के शक में आशा के बॉयफ्रेंड ने कर दी उसकी हत्या
  • बीते 16 सितंबर को एक महिला का शव उसके घर में मिला था

Ghaziabad Crime News: बीती 17 सितंबर को एक महिला का शव उसके घर में मिला था। जिसकी गुत्थी को अब पुलिस ने सुलझा दिया है। पुलिस ने महिला की हत्या के आरोप में उसके बॉयफ्रेंड को गिरफ्तार किया है। मृतक महिला का नाम आशा देवी था, जो गाजियाबाद के नंदग्राम इलाके में रहती थी। वहीं आरोपी बॉयफ्रेंड का नाम नदीम था। पुलिस ने बताया है कि, आरोपी नदीम को आशा देवी के अफेयर को लेकर शक था, जिसके चलते उसने उसे मौत के घाट उतार दिया।

पुलिस के मुताबिक घटना वाले दिन पहले नदीम ने आशा के साथ आधी रात तक शराब पी। फिर सोत हुए आशा की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी। उसने आशा के सिर और कमर पर कुल्हाड़ी से हमला किया था। फिर सुबह होते ही उसके घर से फरार हो गया। जांच के बाद पुलिस ने नदीम को गिरफ्तार किया।

शादीशुदा थी मृतक महिला 

पुलिस पूछताछ में उसने खुलासा किया कि, वह पहले मुरादनगर में जूस की दुकान लगाया करता था। एक दोस्त के जरिए वह एक साल पहले आशा देवी के संपर्क में आया था। आशा और नदीम की पहले दोस्ती हुई फिर रिश्ता प्यार में बदल गया। पुलिस ने बताया है कि, आशा शादीशुदा थी, लेकिन वह अपने पति से अलग नंदग्राम के आश्रम रोड स्थित एक किराए के कमरे में रहती थी। आशा के तीन बच्चे हैं, जो उसके पति के साथ बुलंदशहर में रहते हैं। 

मृतक ने आरोपी के बात करना कर दिया था कम

पुलिस ने बताया है कि नदीम नंदग्राम में उससे मिलने आता रहता था, लेकिन कुछ वक्त बाद आशा ने उससे बात करना कम कर दिया था। वह नदीम का फोन नहीं उठाती थी और अगर वह फोन करता था तो आशा का फोन व्यस्त जाता रहता था। इससे आरोपी नदीम को शक हो गया कि आशा अब उसे छोड़कर किसी और को चाहने लगी है। यह बात नदीम को बिल्कुल पसंद नहीं आई। जिसके बाद उसने आशा की हत्या करने की योजना बना ली। मामले पर नंदग्राम थाना प्रभारी रमेश सिंह सिद्धू ने कहा है कि, नदीम शुक्रवार की रात को आशा से मिलने उसके घर गया। उसने बैग में कुल्हाड़ी और एक जोड़ी कपड़े डाल रखे थे। सुबह करीब तीन बजे नदीम ने सोती हुई आशा के सिर पर कुल्हाड़ी से हमला किया और हत्या कर दी। सुबह होते की कपड़े बदल कर वह मौके से फरार हो गया।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर