Ghaziabad Circle Rate:गाजियाबाद के अब जमीन खरीदने के लिए जेब और करनी पड़ेगी ढीली, बढ़ेगा सर्किल रेट

Ghaziabad Circle Rate: गाजियाबाद में अगस्‍त माह से सर्किल रेट रिवाइज होने जा रहा है। जिसके बाद मकान, दुकान, प्लॉट व फ्लैट जैसी संपत्तियां महंगी हो जाएंगी। जिला प्रशासन सकर्लि रेट में बढ़ोत्‍तरी वर्ष 2016 के बाद करने जा रहा है। इसके लिए जून माह से सर्वे शुरू हो जाएगा।

Ghaziabad Administration
अधिकारियों के साथ बैठक करते डीएम गाजियाबाद  
मुख्य बातें
  • गाजियाबाद में अगस्‍त माह से बढ़ेगा संपत्ति का सर्किल रेट
  • जिला प्रशासन जून माह से कराएगा संपत्तियों का सर्वे
  • वर्ष 2016 के बाद गाजियाबाद में रिवाइज होने जा रहा सर्किल रेट

Ghaziabad Circle Rate:  गाजियाबाद में अगर आप जमीन खरीदने जा रहे हैं तो अभी खरीद लें, क्‍योंकि जल्‍द ही यहां पर जमीन का सर्किल रेट बढ़ने वाला है। जिला प्रशासन 1 जून से 20 जून तक सर्किल रेट सर्वे कराने जा रहा है। इस संबंध में सोमवार को अधिकारियों की बैठक है, जिसमें सर्किल रेट बढ़ाने पर अंतिम फैसला लिया जाएगा। अधिकारियों के अनुसार नया सर्किल रेट अगस्‍त माह से लागू होगा।

प्रशासन के अनुसार, नोटबंदी और दो साल तक कोरोना संक्रमण की वजह से कई सालों से सर्किल रेट को रिवाइज नहीं किया गया था। हालांकि अब स्थित सामान्‍य है, इसलिए सर्किल  रेट बढ़ाया जा रहा है। बता दें कि रेट बढ़ने के बाद एक बार फिर से शहर में संपत्तियों के दामों में उछाल आएगा। हालांकि अभी भी मकान, दुकान, प्लॉट व फ्लैट खरीदने वालों के पास दो महीने का मौका है।

साल 2016 में हुआ था सर्किल रेट रिवाइज

आपको बता दें कि इससे पहले वर्ष 2016 में सर्किल रेट रिवाइज किया गया था। इस हिसाब से अभी शहर में सबसे अधिक सर्किल रेट कौशांबी का है। इसके बाद आवासीय क्षेत्रों में दूसरे नंबर पर वैशाली है। इस समय कौशांबी में 99,000 रुपये प्रति वर्ग मीटर तक सर्किल रेट है। वहीं दिल्ली और एनएच से सटी कॉलोनियों के सर्किल रेट 73,000 रुपए प्रति वर्ग मीटर तक हैं।

तीन श्रेणियों में हैं सर्किल रेट

बता दें कि गाजियाबाद को आठ सर्किलों में बंटा गया है। इन सर्किल में प्रशासन की तरफ से कॉलोनियों की लोकेशन और आबादी के हिसाब से रेट तय किए जाते हैं। सर्किल रेट तीन श्रेणियों में तय हैं। पहला नौ मीटर चौड़ी रोड के किनारे बसा क्षेत्र, दूसरा नौ मीटर से 18 मीटर चौड़ी रोड के किनारे और तीसरा 18 मीटर से अधिक चौड़ी रोड के किनारे बसा क्षेत्र। इस समय सबसे अधिक रेट 18 मीटर से अधिक चौड़ी रोड के किनारे की संपत्ति का होता है। एडीएम वित्त विवेक श्रीवास्‍तव ने बताया कि जल्‍द ही सभी एसडीएम, स्टांप विभाग के रजिस्ट्रार के साथ बैठक होगी। जिसके बाद एक जून से सर्किल रेट का सर्वे कराया जाएगा। जिसके बाद अगस्‍त से इसे लागू किया जा सकता है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर