Yogesh Tripathi: जिस पिता से झूठ बोलकर 'हप्‍पू स‍िंह' ने शुरू की थी एक्‍ट‍िंग, वही कर गया अकेला

टीवी मसाला
Updated Sep 28, 2019 | 08:33 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Yogesh Tripathi Father Passes Away: योगश त्रिपाठी के प‍िता फिजिक्स के एक लेक्चरर थे और वो चाहते थे क‍ि उनके बेटे और बेटी उन्‍हीं की तरह श‍िक्षक बनें। योगेश बचपन से ही एक्‍टर बनना चाहते थे।

Yogesh Tripathi Happu Singh
Yogesh Tripathi Happu Singh 

मुख्य बातें

  • उत्‍तर प्रदेश के झांसी के करीब राठ के रहने वाले हैं योगेश त्र‍िपाठी
  • इन द‍िनों भाबीजी घर पर हैं के साथ हप्‍पू की उलटन पलटन में आ रहे हैं नजर
  • प‍िता थे टीचर, चाहते थे बेटा योगेश भी उन्‍हीं की तरह करे शिक्षण

Yogesh Tripathi Father Passes Away: एंड टीवी के सीरियल भाबीजी घर पर हैं में 'अरे दादा..', प्रेग्‍नेंट बीवी और नौ नौ ठईया बच्‍चे जैसे डायलॉग्‍स से दर्शकों को गुदगुदाने वाले दरोगा हप्‍पू स‍िंह पर दुखों का पहाड़ टूट गया है। 26 सितंबर को उनके पिता हरिशरण त्रिपाठी इस दुनिया से हमेशा के ल‍िए विदा हो गए। योगश त्रिपाठी उनके निधन से बहुत दुखी हैं। उन्‍होंने पिता के निधन के बाद इंस्टाग्राम पर लिखा, " मुझे ये बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि मेरे पिता का कल यानी 26 सितंबर को निधन हो गया है। पापाजी आप हमेशा याद रहेंगे। अब आप जहां भी रहें अपना आशीर्वाद बनाए रखें।" 

योगेश त्रिपाठी के पिता लंबे वक्त से बीमार थे। वह एक सरकारी स्कूल में टीचर थे। योगेश त्रिपाठी के अलावा घर में उनके बड़े भाई आलोक त्रिपाठी हैं। आलोक भी अपने पिता की तरह ही एक टीचर हैं। हप्‍पू स‍िंह उत्‍तर प्रदेश के झांसी के पास राठ के रहने वाले हैं। बता दें कि योगेश त्रिपाठी ने अपने पापा से झूठ बोलकर एक्टिंग शुरू की थी। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Yogesh Tripathi (@yogesh.tripathi78) on

प‍िता फिजिक्स के एक लेक्चरर थे और वो चाहते थे क‍ि उनके बेटे और बेटी उन्‍हीं की तरह श‍िक्षक बनें। योगेश बचपन से ही एक्‍टर बनना चाहते थे। योगेश घर के सबसे छोटे बेटे हैं, लेक‍िन उन्‍हें लगता था क‍ि वो श‍िक्षक बनने के ल‍िए पैदा नहीं हुए हैं। 12वीं के बाद प‍िता जी ने उनका एडम‍िशन बीएससी में लखनऊ में करा द‍िया। यहां पहुंचकर उन्‍होंने नाटक मंडली ज्‍वॉइन की।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Yogesh Tripathi (@yogesh.tripathi78) on

एक द‍िन जब योगेश ने मंच पर नाटक क‍िया और अगले द‍िन उसकी खबर छपी तो न्यूज पेपर में योगेश की तस्‍वीर छप गई। इसके बाद वो तस्‍वीर उनके पिता ने देख ली और सारी पोल खुल गई। सीर‍ियल में हप्‍पू स‍िंह ज‍िस भाषा में बोलते हैं वो बुंदेलखंडी है और इसे वह इतने शानदार तरीके से इसल‍िए बोल लेते हैं क्‍योंक‍ि वह खुद बुंदेलखंड से आते हैं।

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...