TV पर खूब चला इन 7 फेमस 'सासू मां' का सिक्का, बालिका वधू की दादीसा से क्योंकि सास... की बा तक का आज भी है जलवा

TV Shows popular Baa: टेलीविजन पर जब जब ये 7 उम्रदराज अभिनेत्रियां स्क्रीन पर आईं दर्शकों का दिल जीतने में कामयाब रहीं। फिर चाहे वो खलनायक की भूमिका हो या दादी-बा की, इन्होंने इसे बखूबी परदे पर उतारा...

TV Show popular Saas Daddies From Balika Vadhu Dadisa To Kyunki saas bhi kabhi bahu thi Baa
टीवी सीरियल की 'दादीयां'। 

मुख्य बातें

  • कैरेक्टर आर्टिस्ट की भी टीवी शोज की सफलता में प्रमुख भूमिका होती है।
  • अक्सर इन कैरेक्टर आर्टिस्ट्स के काम को लीड सितारों की तुलना में कम सराहना मिलती है।
  • लेकिन ये उम्रदराज अभिनेत्रियां हर बार दर्शकों का दिल जीतने में कामयाब रही हैं।

टीवी शोज न केवल अपने लीड अभिनेताओं के कारण सफल होते हैं, बल्कि कैरेक्टर आर्टिस्ट की भी इस सफलता में प्रमुख भूमिका होती है। ये कलाकार हमेशा शोज में दर्शकों के लिए एंटरटेनमेंट फैक्टर लेकर आते हैं और लीड स्टार्स को सपोर्ट करते हैं। अक्सर इन कैरेक्टर आर्टिस्ट्स के काम को लीड सितारों की तुलना में कम सराहना मिलती है। जैसा कि टेलीविजन जगत में फीमेल एक्ट्रेसेस का सिक्का चलता है तो आज नजर डालते हैं छोटे परदे की फेमस 'बा' पर। साथ निभाना साथिया की कोकिला बेन से लेकर कुमकुम भाग्य की दादी तक, जब जब ये उम्रदराज अभिनेत्रियां टीवी स्क्रीन पर आईं दर्शकों का दिल जीतने में कामयाब रहीं। फिर चाहे वो खलनायक की भूमिका हो या दादी-बा की, इन्होंने इसे बखूबी परदे पर उतारा... 

पवित्र रिश्ता की आई
पवित्र रिश्ता सीरियल में आई की भूमिका उषा नाडकर्णी ने निभाई थी। शो में आई यानि की सविता देशमुख की भूमिका में वो एकदम उभरकर सामने आईं। उषा को इस रोल के लिए कई पुरस्कार भी मिले। 2011 में उन्हें इस भूमिका के लिए सर्वश्रेष्ठ तीखी अभिनेत्री केटेगरी में जी गोल्ड अवार्ड से नवाजा गया था। उनका ये किरदार आज भी प्रशंसकों को रोमांचित करता है। 

बालिका वधू की दादीसा
सीरियल बालिका वधू की दादीसा उर्फ कल्याणी देवी को भला कौन भूल सकता है। सुरेखा सीकरी द्वारा दादीसा का किरदार इस शो में निभाया गया था जिसे दर्शकों का खूब प्यार मिला। बालिका वधू की कहानी राजस्थान में ग्रामीण क्षेत्र पर आधारित थी। इसकी कहानी बाल विवाह के गंभीर विषय पर केंद्रित थी। सुरेखा ने परिवार की दादी की भूमिका निभाई थी जो कि स्वभाव से बहुत रूढ़िवादी थी। लेकिन उनके इस रोल ने दर्शकों पर अमिट छाप छोड़ी। 

कुमकुम भाग्य की दादी
दलजीत सौंध(Daljeet Soundh) टेलीविजन शो कुमकुम भाग्य में दलजीत मेहरा या दादी की भूमिका निभाती हैं। वह मेहरा परिवार की मातामाता हैं। दलजीत के इस रोल को दर्शक खूब पसंद करते हैं। वो अब तक अन्य शो जैसे बेस्ट ऑफ लक निक्की और कसम से में भी काम कर चुकी हैं।

नीलू वाघेला
टेलीविजन पर सबसे पसंदीदा कैरेक्टर आर्टिस्ट के रूप में नीलू वाघेला को जाना जाता है। प्रतिभाशाली अभिनेत्री मूल रूप से राजस्थानी कलाकार थी। उन्होंने बेहद लोकप्रिय धारावाहिक 'दीया और बाती हम' के साथ हिंदी टेलीविजन में काम करना शुरू किया। शो में नीलू वाघेला ने लीड स्टार सूरज राठी की मां भाभो की भूमिका निभाई थी। उसका किरदार एक सख्त महिला का था जो ईमानदारी और परंपराओं का पालन करती थी। सीरियल में बहू संध्या बींदणी के साथ भाभो के रिश्ते को दिखाया गया था। इस शो के बाद नीलू वाघेला घर-घर जाना पहचाना नाम बन गईं। 

क्योंकि सास भी कभी बहू थी की बा 
टीवी क्वीन एकता कपूर के सबसे पॉपुलर सीरियल 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी' से घर घर में 'बा' के नाम से मशहूर हुई एक्ट्रेस सुधा शिवपुरी ने लंबे समय तक बॉलीवुड में काम किया था। शो में उन्होंने अम्बा गोवर्धन विरानी का रोल निभाया था जो कि बा के नाम से फेमस हुआ। सुधा बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार ओम शिवपुरी की पत्नी थीं, जिन्होंने एक लंबे समय तक फिल्मों में विलेन बनकर खूब नाम कमाया। भले ही आज सुधा शिवपुरी हमारे बीच में नहीं है, लेकिन दर्शकों के दिलों में वो आज भी अपने 'बा' के किरदार के लिए याद की जाती हैं।

आपको बता दें कि सुधा ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत बतौर बाल कलाकार की थी। शादी के बाद सुधा शिवपुरी दिल्ली में खुद का थियेटर चलाती थीं। उन्होंने 'इंसाफ का तराजू', 'हमारी बहू अलका', 'सावन को आने दो,' 'सुन मेरी लैला', 'बर्निंग ट्रेन', 'विधाता', 'माया मेमसाब' और 'पिंजर' जैसी कई बेहतरीन फिल्मों में शानदार काम किया। सुधा ने टीवी इंडस्ट्री में भी खूब नाम कमाया। वो एकता कपूर के सीरियल 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी', 'शीशे के घर', 'आ बैल मुझे मार', 'वक्त का दरिया', 'दामन', 'संतोषी मां', 'कसम से' और 'किस देश में है मेरा दिल' जैसे सीरियल्स का हिस्सा रहीं। 

साथ निभाना साथिया की कोकिला बेन
रूपल पटेल ने साथ निभाना साथिया में कोकिला बेन की भूमिका निभाई। जो कि पराग की पत्नी और अहम, किंजल की मां रही। यह शो कोकिलाबेन और उनकी बहू गोपी के बीच के संबंधों की कहानी पर बेस्ड था। रूपल पटेल द्वारा निभाया गया कोकिलाबेन का ये किरदार इतना पॉपुलर हुआ कि आज भी रसोड़े में कौन था... फेमस डायलॉग लोगों की जुबान पर चढ़ा हुआ है। सास और बाद में गोपी बहू के बच्चों की दादी के रूप में कोकिलाबेन का किरदार खूब सराहा गया। 

'बा बहू और बेबी' की बा
सरिता जोशी एक अनुभवी अभिनेत्री हैं, जिन्होंने रंगमंच, टीवी और फिल्मों में अपने शानदार काम से खुद का नाम बनाया है। वह गुजराती और मराठी इंडस्ट्री की जानी मानी हस्ती हैं। सरिता जोशी कई हिंदी धारावाहिकों में दिखाई दी हैं, जिसमें उन्होंने कई मजबूत चरित्र भूमिकाएं निभाई हैं। इसमें से सबसे लोकप्रिय 'बा बहू और बेबी' में उनका रोल रहा है। सरिता जोशी ने शो में बा की भूमिका निभाई थी। 

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर