Ramayan: अब इस दुनिया में नहीं हैं रामायण के 'भरत' संजय जोग, पहले मिला था लक्ष्मण का रोल

Ramanand Sagar Ramayan Unknown Facts: रामानंद सागर का धारावाहिक रामायण एक बार फिर दूरदर्शन पर टेलिकास्ट हो रहा है। इस सीरियल में भरत का किरदार संजय जोग ने निभाया था। जानिए संजय के बारे में खास बातें...

Sanjay Jog
Sanjay Jog 

मुख्य बातें

  • रामानंद सागर का रामायण एक बार फिर दूरदर्शन पर टेलिकास्ट हो रहा है।
  • रामायण में भरत का किरदार एक्टर संजय जोग ने निभाया था।
  • संजय जोग अब इस दुनिया में नहीं हैं।

मुंबई रामानंद सागर का एतिहासिक शो रामायण दूरदर्शन पर एक बार फिर प्रसारित हो गया है। साल 1987 में प्रसारित हुए इस शो ने अरुण गोविल को भगवान राम, दीपिका चिखलाखिया को मां सीता और सुनील लहारी को लक्ष्मण के किरादार से अमर बना दिया था। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि रामायण में भरत का किरदार निभाने वाले एक्टर इस दुनिया  में नहीं हैं।  

भरत का किरदार संजय जोग ने निभाया था। संजय जोग की मृत्यु 27 नवंबर 1995 को लीवर फेल होने के कारण हुई थी। संजय रामायण के अलावा मराठी फिल्मों के भी पॉपुलर एक्टर थे। संजय एक्टर नहीं एयरफोर्स में पायलट बनना चाहते थे। हालांकि, 1971 भारत-पाक युद्ध में एक रिश्तेदार की मौत के बाद उन्हें घरवालों ने रोक दिया। 

संजय जोग ने मुंबई के एलफिस्टन कॉलेज से ग्रेजुएशन किया है। इसके बाद उन्होंने फिल्माया स्टूडियो से एक्टिंग का कोर्स किया था। इस दौरान उन्हें मराठी फिल्म सापला में लीड रोल मिल गया था।  संजय ने एक इंटरव्यू में बताया था कि वह मुंबई हीरो बनने के लिए नहीं आए थे। 

ऐसे मिला था भरत का रोल
संजय ने एक इंटरव्यू में संजय जोग ने बताया था कि उन्होंने गुजराती फिल्म माया बाजार में अभिमन्यु का रोल निभाया था। इस फिल्म के मेकअप मैन गोपाल दादा थे। गोपाल दादा रामायण के भी मेकअप डिपार्टमेंट को देख रहे थे। 

गोपाल दादा ने संजय जोग को रामानंद सागर से मिलने के लिए कहा। रामानंद सागर ने पहले उन्हें लक्ष्मण का किरदार ऑफर किया। हालांकि, बिजी शेड्यूल के कारण उन्होंने मना कर दिया था। इसके बाद भरत का किरदार निभाया था।

अनिल कपूर के साथ किया काम
संजय जोग की पहली फिल्म पर्दे पर खास कमाल नहीं दिखा पाई थी। इसके बाद वह वापस अपने घर नागपुर आकर खेती करने लगे थे। हालांकि, कुछ वक्त बाद वह वापस मुंबई आए तो उन्हें  मराठी फिल्म जिद्द में काम करने का मौका मिला।जिद्द फिल्म सुपरहिट रही थी। संजय ने इसके बाद  लगभग 28 से 30 मराठी फिल्मों में काम किया था।

मराठी के अलावा उन्होंने गुजराती फिल्मों में भी काम किया था। संजय की पहली हिंदी फिल्म जिगरवाला थी। इसमें लीड रोल में अनिल कपूर और टीना मुनीम थे। इसके बाद उन्होंने अपना घर, हमशक्ल, मुठभेड़ जैसी फिल्मों में काम किया था। संजय आखिरी बार 1994 में आई फिल्म बेटा हो तो ऐसा में नजर आए थे।   

अगली खबर