[VIDEO] KBC 12 में सोनू सूद के साथ पहुंचे पद्मश्री एंबुलेंस दादा, खाई है बिना इलाज मरीज ना मरने देने की कसम

KBC 12 Karamveer Special Episode: कौन बनेगा करोड़पति के ताजा कर्मवीर स्पेशल एपिसोड में लोगों की मदद करके चर्चा में आए अभिनेता सोनू सूद के साथ पश्चिम बंगाल के मशहूर पद्मश्री से सम्मानित एंबुलेंस दादा नजर आए।

Ambulance Dada in KBC 12 Karmveer Special
केबीसी 12 में पहुंचे एंबुलेंस दादा 

मुख्य बातें

  • कर्मवीर स्पेशल एपिसोड में नजर आईं लोगों की मदद करने वाली 3 मशहूर हस्तियां
  • सोनू सूद के साथ दिखे एंबुलेंस दादा के नाम से मशहूर पद्मश्री करीमुल हक
  • अपाहिज लोगों का सहारा बने इंजीनियर प्रशांत गाड़े के साथ जीते 25 लाख रुपए

मुंबई: टीवी क्विज शो कौन बनेगा करोड़पति 12 के ताजा कर्मवीर स्पेशल एपिसोड में जरूरतमंदों और गरीबों के मददगार तीन लोगों को आमंत्रित किया गया। बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ताजा एपिसोड में नजर आए, जिन्होंने कोरोनो वायरस महामारी के दौरान लोगों की मदद करके जनता का प्यार हासिल किया और उनके साथ इसी तरह का काम करने वाले दो अन्य लोग करीमुल हक (एंबुलेंस दादा) और प्रशांत गाड़े नजर आए।

बिग बी ने शुक्रवार को शो में उद्यमी और परोपकारी इंजीनियर प्रशांत गाडे़ और बाइक-एंबुलेंस दादा करीमुल हक का स्वागत किया और एपिसोड के दौरान ये दोनों समय समाप्ति से पहले कुल मिलाकर 25 लाख रुपए जीतने में कामयाब रहे। इस राशि को दोनों प्रतियोगियों में आधा आधा बांट दिया गया, दोनों प्रतियोगियों के साथ एपिसोड में अभिनेता सोनू सूद भी मौजूद रहे।

एंबुलेंस दादा की कहानी: कौन बनेगा करोड़पति के मंच पर कर्मवीर स्पेशल एपिसोड में पहुंचे करीमुल हक पश्चिम बंगाल के एक छोटे से गांव के रहने वाले हैं जहां से अस्पताल 50 किलोमीटर दूर स्थित है। बीमारी में करीमुल की मां का इलाज के अभाव में निधन हो गया, जिसने उन्हें बुरी तरह झकझोर दिया और बीमार लोगों के लिए कुछ कर गुजरने की ठानी।

एंबुलेंस दादा के नाम से मशहूर हुए करीमुल हक अपनी एंबुलेंस के रूप में बदली गई मोटर साइकिल पर अब तक 5500 से ज्यादा लोगों को अस्पताल पहुंचा चुके हैं। उन्होंने कसम खा रखी है कि वह इलाके के किसी भी मरीज को बिना इलाज नहीं मरने देंगे। इस समाजसेवी काम के लिए उन्हें पद्म श्री से सम्मानित किया जा चुका है।

प्रशांत गाडे़ और सोनू ने दिया 25 लाख के सवाल का जवाब:

हाथ खो देने वाले लोगों को तकनीक की मदद से दोबारा हाथ उपलब्ध कराने में मदद करने वाले इंजीनियर और लोगों की मदद के लिए संस्था चलाने वाले प्रशांत गाड़े भी इस कर्मवीर स्पेशल एपिसोड का हिस्सा रहे। उन्होंने दुनिया में बेहद महंगी कीमत पर उपलब्ध तकनीकी हाथ को बेहद कम कीमत पर विकसित किया और अपनी परोपकारी संस्था के माध्यम से मुफ्त अपाहिज लोगों की मदद कर रहे हैं।

प्रशांत 25 लाख रुपए के लिए पूछ गए सवाल का जवाब देने में भी सफल रहे जो इस प्रकार था।

1994 में कंप्यूटर विज्ञान में सर्वोच्च सम्मान एएम ट्यूरिंग अवार्ड से किस भारतीय मूल के कंप्यूटर वैज्ञानिक को सम्मानित किया गया था? 
विकल्प- A. राज रेड्डी, B. नरेंद्र कर्मकार, C. अनिल कुमार जैन, D. इंद्रजीत मणि।
सही जवाब- A. राज रेड्डी

सोनू सूद की किताब- 'आय एम नो मसीहा' लॉन्च:
सोनू ने कोविड-19 की परिस्थिति के दौरान लॉकडाउन के समय प्रवासी श्रमिकों की मदद करने के अपने अनुभव को याद करते हुए एक किताब लिखी और यह किताब उन्होंने केबीसी के होस्ट महानायक अमिताभ बच्चन को भेंट करते हुए किताब लॉन्च की।

किताब का शीर्षक है- I Am No मसीहा। अभिनेता ने किताब में कथित तौर पर लोगों की मदद के दौरान सामने आईं भावनात्मक चुनौतियों के बारे में बात की। अभिनेता कर्मवीर एपिसोड में प्रशांत और करीमुल दोनों के साथ खेल का हिस्सा बने रहे।

मौजूदा समय में सोनू को 'भारत के महावीर' को होस्ट कर रहे हैं। सीरीज देश में एकजुटता की भावना का प्रतिनिधित्व करने वाली कहानियां सामने लाती है, और उन भारतीयों की बात करती है, जिन्होंने कोरोनो वायरस महामारी के दौरान असाधारण दयालुता दिखाई है।

यह सीरीज डिस्कवरी चैनल और डिस्कवरी प्लस ऐप पर प्रसारित हो रही है, और भारत में संयुक्त राष्ट्र, एनआईटीआईयोग और डिस्कवरी चैनल के बीच साझेदारी के साथ बनाई गई है।

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर