मां के निधन के बाद 'स्वरागिनी' एक्ट्रेस नुपुर ने ली थी मौन रहने की कसम, बताया-दवाई के लिए 500 रुपये भी नहीं थे

एक्ट्रेस नुपुर अलंकार की मां का पिछले साल दिसंबर में निधन हो गया था जिससे वो पूरी तरह टूट गई थीं। एक्ट्रेस ने पिछले साल क्राउडफंडिंग के जरिए मां के इलाज के लिए पैसे इकट्ठे किए थे।

Nupur Alankar
Nupur Alankar 
मुख्य बातें
  • तीन महीने पहले हो गया था एक्ट्रेस नुपुर अलंकार की मां का निधन।
  • मां के इलाज के लिए पिछले साल क्राउडफंडिंग से इकट्ठे किए थे पैसे।
  • नुपुर गहने बेचकर अपने घर का खर्च चला रही थीं।

दीया और बाती हम, घर की लक्ष्मी बेटियां, इस प्यार को क्या नाम दूं, हसरतें और स्वरागिनी जैसे कई शोज में काम कर चुकीं एक्ट्रेस नुपुर अलंकार पिछले लंबे समय से आर्थिक परेशानी का सामना कर रही हैं। पिछले साल वो उस समय चर्चा में आई थीं जब उन्होंने अपनी मां के इलाज के लिए क्राउडफंडिंग के जरिए पैसा इकट्ठा किया था।

क्राउडफंडिंग से जुटाए थे पैसे

नुपुर को लेकर यह जानकारी सामने आई है कि तीन महीने पहले 03 दिसंबर, 2020 को उनकी मां का निधन हो गया था। ईटाइम्स ने नुपुर से इस बारे में बात की तो एक्ट्रेस ने इस खबर की पुष्टि की। नुपुर ने कहा, 'एक समय था जब मां की दवाईयां खरीदने के लिए मेरे पास 500 रुपये भी नहीं थे और तब मैंने क्राउडफंडिंग प्लेटफॉर्म पर उनकी जानकारी शेयर की जहां से मुझे तुरंत मदद मिली। इस परेशानी के समय में मेरी फील्ड के लोग मदद के लिए आगे आए। मैं दिसंबर, 2019 से घर पर ही थी। मुझे अपनी मां के साथ रहना था और मैं काम शुरू नहीं कर सकती थी।'

मां ने गोद में ली आखिरी सांस

नुपुर की मां के निधन ने उन्हें पूरी तरह हिला कर रख दिया। खुद को इस दुख से बाहर लाने के लिए एक्ट्रेस ने तीन महीने चुप रहने का फैसला किया। एक्ट्रेस ने कहा, 'मां ने मेरी गोद में आखिरी सांस ली। उस दौरान मैंने महसूस किया कि बेबसी किसे कहते हैं। मैंने अकेले उनका अंतिम संस्कार किया क्योंकि यह उनकी आखिरी इच्छा थी। मैंने तीन महीने तक मौन धारण कर लिया क्योंकि मुझे ठीक होने के लिए।' 

'मेरी जिंदगी का अहम अध्याय खत्म हो गया'

नुपुर ने बताया कि जब उन्हें आर्थिक मदद की जरूरत थी तब उनके बहुत से रिश्तेदार उनसे दूर हो गए। एक्ट्रेस ने कहा, 'मैं आगे बढ़ गई हूं और इस कड़वी सच्चाई का सामना करने के लिए तैयार हूं कि मेरी जिंदगी का सबसे अहम अध्याय खत्म हो गया। मेरी मां ने मुझे सिखाया था कि किस तरह मुश्किलों का सामना करते हुए आगे बढ़ना है।'

काम पर लौटना चाहती हैं नुपुर

नुपुर अब काम पर लौटना चाहती हैं और मां के इलाज के लिए उधार लिए पैसे को लौटाना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि जब तक वो मां के इलाज के लिए उधार लिए पैसों को लौटा नहीं देतीं, तब तक उन्हें शांति नहीं मिलेगी।

PMC बैंक में था अकाउंट

मालूम हो कि  पीएमसी बैंक(Pune & Maharashtra Co-operative Bank) के कोलेप्स होने के कारण उनकी सारी जमा पूंजी डूब गई थी। इस दौरान उनकी मां की तबीयत बिगड़ गई। अपने घर खर्चों को पूरा करने के लिए नुपुर को अपनी  ज्वैलरी तक बेचनी पड़ी थी। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर