5 Best Hollywood comedy Movies: लाइफ में चाह‍िए हंसी की डोज, हॉलीवुड की इन कॉमेडी फ‍िल्‍मों का लें सपोर्ट

हॉलीवुड
Updated May 25, 2020 | 07:26 IST | Ritu Singh

हॉलीवुड की तमाम ऐसी कॉमेडी फिल्में हैं, जो आपका दिन खुशनुमा बनाने के लिए काफी हैं। इस लॉकडाउन में हम आपको बता रहे हैं ऐसी ही पांच फिल्मों जबरदस्त फिल्मों के बारे में।

Best Hollywood comedy Movies
Best Hollywood comedy movies 

मुख्य बातें

  • हॉलीवुड की फिल्मों में सीख के साथ मिलती है कॉमेडी
  • कॉमेडी के तड़के साथ हॉलीवुड की डिटेक्टिव फिल्म भी है खास
  • अधेड़ उम्र के इंसान की लव स्टोरी भी खूब गुदगुदाएगी

हॉलीवुड की ये कॉमेडी फिल्में आपको न केवल गुदगुदाएंगी, बल्कि आपको सोचने पर मजबूर भी करेंगी। जहां गुडफेलाज में गैंगस्टर्स की लाइफ पर फोकस है, वहीं ऑफिस स्पेस में कंपनियों के दफ्तरों में रोज जूझते कर्मचारियों के हालात को हंसी मजाक के अंदाज में पिरोया गया है। ऐज गुड ऐज इट गेट्स में अधेड़ उम्र में रोमांस की कहानी है तो एस वेंचुरा पेट डिटेक्टिव में जिम कैरी की एनर्जेटिक अदाकारी हंसने पर मजबूर करेगी।

Good Fellas / गुडफेलाज (1990)

कहने को ये गैंगस्टर्स पर आधारित फिल्म है, लेकिन इसमें तमाम सीन ऐसे हैं जो आपको हंसने पर मजबूर कर देंगे। जो पेसी और रॉबर्ट डी नीरो की सदाबहार जोड़ी ने इस फिल्म को जबरदस्त ऊंचाई दी है। वहीं मार्टिन स्कोरसीज ने कसावट भरा निर्देशन किया है। फिल्म में जो पेसी से काफी अरसे बाद मिले उसके दोस्त कम प्रतिद्वंद्वी ने पेसी की किसी बात को फनी बताया, जिस पर पेसी ने उससे जिरह कर डाली कि उसकी बात फनी कैसे है। इसे लेकर पेसी का अंदाज मजेदार है, जो उस समय सभी को सकते में डाल देता है।

As Good As It Gets/ ऐज गुड ऐज इट गेट्स (1997)

जैक निकोलसन और हेलन हंट की ये फिल्म एक थुलथुल बूढ़े की सिंगल मदर से संबंध बढ़ाने पर आधारित है। जैक नॉवलिस्ट है और ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर से पीड़ित है। वह एक ही रेस्टोरेंट में एक फिक्स टेबल पर नाश्ता करता है। रेस्टोरेंट की वेट्रेस ही उसे संभाल पाती है। धीर-धीरे वह जैक को अच्छी लगने लगती है। वह उसस संबंध बढ़ाना चाहता है, इसके लिए वह उसके बीमार बेटे की मदद भी करता है। उसके व्यवहार से हेलन प्रभावित होती है। इसमें जैक की कॉमेडी दर्शकों को काफी पसंद आती है। इस फिल्म के लिए जैक और हेलन को ऑस्कर भी मिला।

The Big Sick/ द बिग सिक (2017)

ये रोमांटिक कॉमेडी फिल्म सांस्कृतिक विविधताओं को दर्शाती है। इसमें दिखाया गया है कि अलग-अलग बैकग्राउंड के प्रेमी जोड़े आपस में किस तरह मैनेज करते हैं। कुमैल शिकागो में कैब ड्राइवर है, जो पाकिस्तानी अमेरिकी है। वह स्टैंडअप कॉमेडियन बनना चाहता है। उसके पैरेंट्स चाहते हैं कि वह किसी पाकिस्तानी लड़की से शादी करे, जबकि कुमैल अरेंज्ड मैरेज के खिलाफ है। कुमैल की मुलाकात एमिली से होती है और वन नाइट स्टैंड के बाद दोनों का संबंध आगे बढ़ता है। ब्रेकअप के बाद काफी उतार चढ़ाव के बाद एमिली और कुमैल मिलते हैं। एमिली की गंभीर बीमारी के चलते फिल्म का नाम द बिग सिक रखा गया है। फिल्म काफी भावुक भी करती है।

Ace Ventura Pet Detective/ एस वेंचुरा पेट डिटेक्टिव (1994)

कॉमेडी फिल्मों का जिक्र आता है तो जिम कैरी का नाम न आए, ऐसा संभव नहीं है। इसे यूं भी कह सकते हैं कि उनके जिक्र के बगैर कॉमेडी फिल्मों पर बात अधूरी ही रहेगी। फिल्म में वो डिटेक्टिव बने हैं, जिसे 500 पाउंड की डॉल्फिन ‘स्नोफ्लेक’ की चोरी का पता लगाने का जिम्मा मिलता है। ये डॉल्फिन बेशकीमती होती है और अमेरिकी फुटबॉल टीम मियामी डॉल्फिन्स का प्रतीक चिह्न भी है। ‘सुपर बाउल’ के दिन डॉल्फिन चोरी होती है। कैरी एकमात्र वह शख्स होता है जिसके पास एनिमल इंस्टिंक्ट होता है। इसके बलबूते वह पालतू जानवरों से जुड़े मामलों का खुलासा करता है। उनका हवाइयन शर्ट का खास पहनावा और 6 साल के बच्चे सी हाइपरएक्टिव एनर्जी दर्शकों को काफी लुभाती है। इस फिल्म को देखने से पहले आपको अपार हंसी के लिए तैयार रहना होगा।

Office Space/ ऑफिस स्पेस (1999)

माइक जज निर्देशित ये फिल्म अमेरिकी ब्लैक कॉमेडी है। 90 के दशक में सॉफ्टवेयर कंपनी में काम करनेवाले लोगों के कामकाजी जीवन को कॉमेडी रूप में उतारा गया है। फिल्म में एक लालची बॉस है और कर्मचारी उससे चिढ़ते हैं। इस फिल्म में एक सीन में कंपनी के तीन कर्मचारी एक ठप पड़े प्रिंटर को नष्ट कर रहे होते हैं, जिसमें से दो लोगों को नौकरी से निकाल दिया जाता है। इस सीन को पैरोडी के तौर पर काफी इस्तेमाल किया जा चुका है। इसके अलावा फिल्म के तमाम सीन्स को इंटरनेट मीम के तौर पर भी काफी चर्चा मिली।

Meet the Parents/ मीट द पैरेंट्स (2000)

बेन स्टिलर और रॉबर्ट डी नीरो की जबरदस्त केमिस्ट्री वाली फिल्म है मीट द पैरेंट्स। इसमें ग्रेग फॉकर (बेन) को उसकी गर्लफ्रेंड (टेरी पोलो) अपने पैरेंट्स से मिलने के लिए बोलती है। टेरी के पिता (रॉबर्ट डी नीरो) सीआईए में काम कर चुके हैं। इसके चलते उनकी शक करने की पुरानी आदत है। वह अपने घर में पॉलिग्राफ लाई-डिटेक्टर भी रखते हैं। फॉकर की उनसे मुलाकात खास गुदगुदाने वाले अंदाज में पिरोई गई है। फॉकर के तौर पर स्टिलर अपने कॉमिक रोल में जबरदस्त लगे हैं। वहीं डी नीरो की गंभीरता इसे बैलेंस करती है।

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर