जब गोविंदा के साथ काम करने से माधुरी दीक्षित ने कर दिया था इनकार, फिल्म भी कर चुकी थीं साइन

माधुरी दीक्षित ने 80 के दशक में एक फिल्म में गोविंद के साथ काम करने से मना कर दिया था। माधुरी ने बाद में इसकी वजह भी बताई थी।

When Madhuri Dixit refused to work with Govinda
माधुरी दीक्षित और गोविंदा। 

मुख्य बातें

  • माधुरी-गोविंदा 'सदा सुहागन' फिल्म में काम करने वाले थे
  • माधुरी दीक्षित इस फिल्म को साइन भी कर चुकी थीं
  • टी रामाराव की यह फिल्म 1986 में रिलीज हुई थी

माधुरी दीक्षित 90 के दशक की टॉप एक्ट्रेसेस में से एक थीं। उन्होंने अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत 1980 के दशक के अंत में की थी। उन्होंने अपनी एक्टिंग और शानदार डांस के जरिए फैंस के दिलों पर राज किया। जब माधुरी अपने करियर के चरम पर थीं तब उन्होंने 90 के दशक के सभी टॉप एक्टर्स जैसे अनिल कपूर, संजय दत्त, शाहरुख खान, सलमान खान, जैकी श्रॉफ, आमिर खान समेत कई अन्य स्टार्स के साथ काम किया। हालांकि, एक समय ऐसा भी आया जिस वक्त माधुरी ने स्टार गोविंदा के साथ 'सदा सुहागन' नाम की फिल्म में काम करने से इनकार कर दिया था। वह यह फिल्म भी साइन कर चुकी थीं। माधुरी ने बाद में फिल्म में काम नहीं करने की वजह बताई थी।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Madhuri Dixit (@madhuridixitnene) on

कई लोगों ने उस दौर में कयास लगाए कि माधुरी ने गोविंद का साथ 'सदा सुहागन' फिल्म इसलिए नहीं की, क्योंकि उनका करियर ठीक नहीं चल रहा था। वहीं, माधुरी ने अपने एक पुराने इंटरव्यू में खुद इस बारे में सफाई थी और सभी अफवाहों को गलत बताया था। उन्होंने कहा था कि फिल्म नहीं करने का कारण गोविंदा का करियर नहीं बल्कि फिल्म में उनका छोटा रोल था। यह फिल्म 1986 में रिलीज हुई थी। दरअसल, माधुरी से पूछा गया था कि उन्होंने गोविंदा के साथ काम करने से क्यों इनकार किया? 

इस सवाल के जावब में माधूरी ने कहा था कि मैंने 'स्वाति' और 'आवारा बाप' के साथ इस फिल्म (सदा सुहागन) को साइन किया था। इसके साथ ही मुझे हीरोइन की भूमिकाओं के लिए साइन किया जा रहा था। जैसे 'उत्तर दक्षिण' फिल्म। फिर बोनी कपूर जैसे बड़े निर्माता भी मेरे साथ फिल्म के लिए तैयार थे। इसलिए मैंने टी रामाराव (सदा सुहागन के डायरेक्टर) से बात की और कहा कि मैं छोटी भूमिका नहीं निभाना चाहती थी क्योंकि मुझे लीड रोल मिल रहे हैं। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Madhuri Dixit (@madhuridixitnene) on

उन्होंने आगे कहा था कि मैंने ऐसा कदम अपने करियर को ध्यान में रखकर उठाया था। मैं गोविंदा के साथ काम करने के खिलाफ नहीं थी। बता दें कि माधुरी और गोविंदा भले ही 'सदा सुहागन' में नजर न आए हों लेकिन बाद में दोनों ने कई फिल्मों में साथ काम किया। माधुरी और गोविंदा 'पाप का अंत', 'महासंग्राम', 'इज्जतदार' और 'बड़े मियां छोटे मियां' जैसी फिल्मों में साथ दिखाई दिए। ‘बड़े मियां छोटे मियां’ का गाना ‘मेरे प्यार का रस जरा चखना’ तो आज भी लोगों की जबान पर है।
 

अगली खबर