'मन डोले, मेरा तन डोले' जिस गाने पर होता है नागिन डांस, विदेशी पियानो प्लेयर ने बनाई थी ये धुन

Nag Panchami 2022: नाग पंचमी का त्योहार दो अगस्त को मनाया जाएगा। बॉलीवुड में नागिन धुन का इस्तेमाल कई गानों में किया गया है। साल 1954 में गाने तन डोले, मेरा मन डोले में पहली बार ये धुन बजाई गई। जानिए इस धुन के पीछे की कहानी...

Nagin Movie
Nagin Movie 
मुख्य बातें
  • दो अगस्त को नाग पंचमी का त्योहार मनाया जा रहा है।
  • बॉलीवुड में नागिन धुन का इस्तेमाल कई गानों में किया जाता है।
  • नागिन धुन का इस्तेमाल पहली बार साल 1954 में गाने तन डोले, मेरा मन डोले में किया था।

Naag Panchami Mera Tan Dole Mera Dole Song: देशभर में दो अगस्त को नाग पंचमी (Naag Panchami 2022) का त्योहार मनाया जा रहा है। इस दिन नाग देवता की पूजा की जाती है और उन्हें दूध पिलाया जाता है। बॉलीवुड में भी 50 के दशक से नाग और नागिन की कहानी पर आधारित कई फिल्में  बनाई जा चुकी है। शादी, बारात में नागिन धुन पर नागिन डांस का ट्रेंड है। नागिन धुन का इस्तेमाल सबसे पहले साल 1954 में आई वैजयंतीमाला और प्रदीप कुमार की फिल्म 'नागिन'  के गाने 'मेरा तन डोले, मेरा मन डोले' में हुआ था। इस गाने को लता मंगेशकर ने गाया था। इस गाने ने तब कई रिकॉर्ड कायम किए थे।  

'मन डोले, मेरा तन डोले' गाने की धुन म्यूजिक डायरेक्टर हेमंत कुमार यानी हेमंत दा ने दिया था। उन्हें कल्याण और रवि ने असिस्ट किया था। रवि ने इस धुन को हारमोनियम में बनाया था। वहीं, कल्याण जी ने इसे क्लवॉयलन में साथ दिया था, ये एक कीबोर्ड जैसा म्यूजिक इंस्ट्रूमेंट होता है। साल 2011 में एक इंटरव्यू में रवि ने कहा था कि गोवा के पियानो प्लेयर Lucilla Pacheco ने बनाई थी। हालांकि, सुनने में ये बेहद वेस्टर्न लग रही थी। ऐसे में रवि ने इसमें थोड़ा बदलाव किया और इसे भारतीय टच दिया।  

Also Read: Nag Panchami 2022 Wishes Images, Quotes, Status

थिएटर में आते थे सांप
गानों को लेकर कई अफवाहें भी फैली थी। इनमें से एक थी कि इसे सुनकर सांप थिएटर में आ जाते हैं। ये गाना उस दौरान बिनाका गीतमाला हिट परेड की सालाना लिस्ट में दूसर नंबर पर था। हेमंत, रवि और कल्याण के अलावा लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल के लक्ष्मीकांत भी इसमें शामिल थे। उस वक्त लक्ष्मीकांत हेमंत कुमार की टीम में तबला बजाया करते थे। गाने के बोल राजेंद्र कृष्णन ने लिखे थे। वहीं, इस गाने में वैजयंतीमाला ने बेहतरीन डांस किया था। उनके एक्सप्रेशन्स फैंस को बहुत ज्यादा पसंद आए थे।

फिल्म की कहानी की बात करें तो ये दो आदिवासी कबीलों- नागी और रागी की है। दोनों कबीले आर्थिक अधिकारियों के लिए लड़ाई लड़ते हैं। नागी कबीले के मुखिया की बेटी माला रागी कबीले के मुखिया सनातन को मारने की कसम खाती है। हालांकि, सनातन की बांसुरी की धुन को सुनकर वह उनसे प्यार करने लगती हैं। फिल्म में जीवन ने विलेन का रोल निभाया था।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर