FWICE के बाद IMPPA ने उद्धव ठाकरे को ल‍िखा खत, शूटिंग शुरू करने की अपील की

IMPPA letter to CM maharashtra: इंडियन मोशन पिक्‍चर्स प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन ने मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे को स‍िनेमा जगत का काम शुरू करने की अनुमति देने के ल‍िए खत ल‍िखा है।

uddhav thackeray
uddhav thackeray 

मुख्य बातें

  • इंडियन मोशन पिक्‍चर्स प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन ने सीएम को भेजा पत्र
  • पत्र में 57 प्‍वाइंट ग‍िनाए ज‍िनका करना होगा पालन
  • सीएम को द‍िया स‍िनेमा जगत को हो रहे नुकसान का हवाला

IMPPA letter to CM maharashtra: इंडियन मोशन पिक्‍चर्स प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन (IMPPA) ने मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे को स‍िनेमा जगत का काम शुरू करने की अनुमति देने के ल‍िए खत ल‍िखा है। मुख्‍यमंत्री को लिखे खत में एसोसिएशन ने साफ किया है कि अगर सरकार उन्‍हें शूटिंग शुरू करने की अनुमति दे देती है तो सेट्स पर कोविड 19 के संक्रमण को ध्‍यान में रखते हुए सरकार की गाइडलाइंस का पालन किया जाएगा साथ ही सेट पर उपस्थित रहने वाले कामगारों की सुरक्षा का पूरा ख्‍याल रखा जाएगा।

बता दें कि चीन के वुहान शहर में पैदा हुए कोरोना जैसे खतरनाक वायरस ने पूरे व‍िश्‍व की अर्थव्‍यवस्‍था को जैसे तहस नहस कर दिया है। आम जन जीवन अस्‍त व्‍यस्‍त है, वहीं तमाम उद्योग धंधों की हालत लचर होती नजर आ रही है। कोरोना वायरस ने ह‍िंदी स‍िनेमा की कमर तोड़ कर रख दी है। सिनेमा जगत का हर काम महीने भर से ठप है। ना फ‍िल्‍मों की शूटिंग हो रही है और ना रिलीज।

पत्र में बताए 57 बिंदु
अब तक सिनेमा को करोड़ों का नुकसान हो चुका है और अभी हजारों करोड़ दांव पर लगे हैं। यही वजह है सिनेमा जगत से जुड़े संगठन जल्‍द से जल्‍द शूटिंग शुरू करना चाहते हैं ताकि नुकसान की कुछ हद तक भरपाई की जा सके। IMPPA ने अपने पत्र में 57 बिंदु स्‍पष्‍ट किए हैं और सरकार को विश्‍वास दिलाया है कि इन 57 बिंदुओं को कोविड 19 काल में ध्‍यान रखा जाएगा और फॉलो किया जाएगा। 

पहले FWICE ने ल‍िखा था पत्र 
इससे पहले फेडरेशन ऑफ वेस्‍टर्न इंडिया स‍िनेम एम्‍प्‍लॉयज (FWICE) ने मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे को खत ल‍िखा था। मुख्‍य सलाहकार अशोक पंडित की तरफ से भेजे गए खत में मुख्‍यमंत्री से अन्‍य कार्यों की तरह सिनेमा के पोस्‍ट प्रोडक्‍शन कार्य के लिए अनुमति देने की मांग की गई थी। Fwice ने ल‍िखा है था कि तमाम फ‍िल्‍मों में अनगिनत प्रोड्यूसर्स ने न‍िवेश किया हुआ है और लॉकडाउन के चलते सब कुछ फंसा है। किसी के पास भी भविष्‍य की कोई योजना नहीं है। इसलिए हम आपके संज्ञान में यह मसला लाना चाहते हैं। 

अगली खबर