फिल्मी कहानी से कम नहीं थी अमर सिंह- अमिताभ बच्चन की दोस्ती, मरते दम तक चलता रहा रूठने- मनाने का सिलसिला

बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन और अमर सिंह के बीच किसी जमाने में गहरी दोस्ती थी लेकिन फिर कुछ ऐसा हुआ कि दोनों के रिश्ते में खटास आ गई। इस साल अमर सिंह ने अमिताभ से माफी भी मांगी थी।

Amitabh Bachchan with Amar Singh
Amitabh Bachchan with Amar Singh  

मुख्य बातें

  • अमिताभ बच्चन और अमर सिंह के बीच थी अच्छी दोस्ती
  • साल 2010 में रिश्तों में आ गई थी दूरी
  • इस साल फरवरी में अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन से मांगी थी माफी

राज्यसभा सांसद और समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह का निधन हो गया। वो 64 साल के थे। अमर सिंह काफी लंबे समय से किडनी की समस्या से जूझ रहे थे और सिंगापुर में उनका इलाज चल रहा था। एक समय था जब अमर सिंह और अमिताभ बच्चन अच्छे दोस्त थे लेकिन फिर उनके रिश्तों में खटास आ गई। इस साल फरवरी में अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन से माफी भी मांगी थी। जानें पूरा मामला।

ऐसी थी दोनों की दोस्ती

90 के दशक में अमिताभ बच्चन और अमर सिंह के बीच गहरी दोस्ती थी। साल 1996 में अमिताभ बच्चन ने अमिताभ बच्चन कॉर्पोरेशन लिमिटेड नाम से एंटरटेनमेंट कंपनी (ABCL) बनाई थी जो डूब गई और बिग बी पर 90 करोड़ रुपये का कर्ज हो गया। इस दौरान अमर सिंह ने कर्ज से बाहर निकालने व ABCL को वापस स्थापित करने में उनकी मदद की। इसके साथ ही साल 2003 में अमिताभ बच्चन फिर से अपनी कंपनी स्थापित करने के लिए तैयार थे। बिग बी ने उन्हें अपनी कंपनी में वाइस- चेयरमैन की जगह दी।

अमिताभ ने अमर सिंह को कहा था छोटा भाई

अमिताभ बच्चन ने अमर सिंह को अपना छोटा भाई बताते हुए कहा था कि मैं बहुत खुशकिस्मत हूं कि मेरे पास अमर सिंह जैसा छोटा भाई है। एक इंटरव्यू में अमिताभ बच्चन ने कहा था, 'उन्होंने मुसीबत में मेरी मदद की और मुझे सहारा ग्रुप के मैनेजिंग वर्कर सुब्रत रॉय और बिजनेसमैन अनिल अंबानी से मिलवाया।' इसके बाद साल 2004 में अमिताभ बच्चन की पत्नी जया बच्चन ने अपने पॉलिटिकल करियर की शुरुआत भी अमर सिंह की मदद से की। और वो समाजवादी पार्टी के साथ राज्यसभा सदस्य बन गईं।

ऐसे बिगड़े रिश्ते

साल 2010 में अमर सिंह ने मुलायम सिंह यादव के साथ विवाद के चलते समाजवादी पार्टी से इस्तीफा दे दिया लेकिन जया बच्चन ने पार्टी से इस्तीफा देने से इंकार कर दिया। साल 2008 में एक विश्वास मत के दौरान अमर सिंह को मनमोहन सिंह की यूपीए 1 सरकार का समर्थन करने के लिए तीन सांसदों को रिश्वत देने के चलते पकड़ा गया था और जिसके चलते उन्हें तिहाड़ भी जाना पड़ा। इस दौरान बच्चन परिवार का कोई सदस्य उनसे मिलने नहीं गया। अमर सिंह ने बाद में कहा था, 'जब मुझे बेल मिली तब अमिताभ बच्चन मुझसे मिलने आए जब मैं अस्पताल में था। जब वह मुझसे मिलने आए, तो मुझे उससे बात करने का मन नहीं हुआ क्योंकि उसके लिए जो भावनाएं थीं, जो दोस्ती थी, वह खत्म हो चुकी थी। मुझे यह अहसास हो गया था कि लोग बदल जाते हैं।'

बच्चन परिवार को लेकर कही थी ये बात

अमर सिंह ने एक इंटरव्यू में बच्चन परिवार को लेकर तमाम बातें कही थीं। अमर सिंह ने कहा था कि देश में हर झगड़े के लिए लोग मुझपर आरोप लगाते हैं। लोग कहते हैं कि बच्चन परिवार में मेरी वजह से दरार आई, लेकिन जब मैं अमिताभ बच्चन से मिला था उससे पहले से वो और जया बच्चन अलग- अलग रहते हैं। उनमें से एक प्रतीक्षा में जबकि दूसरा जनक बंगले में रहता है। साथ ही अमर सिंह ने कहा कि जया बच्चन और ऐश्वर्या राय बच्चन के बीच खराब रिश्तों की भी चर्चा है। उसके लिए मैं जिम्मेदार नहीं हूं।
 

फरवरी में मांगी माफी

इस साल अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन से माफी मांगी थी। उन्होंने एक वीडियो जारी किया था जिसमें उन्होंने कहा था, 'आज मेरे पिता की पुण्यतिथि है और मुझे अमिताभ बच्चन जी से उसी के लिए एक मैसेज मिला। जीवन के इस पड़ाव पर जब मैं जीवन और मृत्यु की लड़ाई लड़ रहा हूं तो मुझे अमित जी और उनके परिवार के खिलाफ अपनी ओवर रिएक्शन के लिए पछतावा है। ईश्वर सभी का भला करे। उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक वीडियो भी पोस्ट किया जिसमें उन्होंने अमिताभ बच्चन के साथ अपनी दोस्ती के बारे में बात की।'

अगली खबर