Kargil Vijay Diwas - Bollywood films: कारगिल के वीरों की गौरवगाथा कहती हैं ये 6 बॉलीवुड फिल्में

Kargil Vijay Diwas - Bollywood films: साल 1999 में शुरू हुए कारगिल युद्ध में भारत ने 26 जुलाई को विजय हासिल कर ली थी। इस युद्ध में शहीद हुए सैनिकों पर बाद में कई बॉलीवुड हिंदी फिल्में भी बनाई गईं।

Bollywood films on Kargil War
कारगिल की लड़ाई पर बनी फिल्में 

मुख्य बातें

  • पाकिस्तानी घुसपैठियों ने कर लिया था पहाड़ी चोटियों पर कब्जा
  • भारतीय सेना ने लड़ाई जीतकर वापस किया था कब्जा
  • वीर सपूतों और कारगिल की कहानी पर बनी हैं ये बॉलीवुड फिल्में

नई दिल्ली: साल था 1999 का और मई का महीना था। इस वक्त पहाड़ी इलाकों में बर्फ पिघलने लगती है एक दिन भारतीय सैनिकों को खबर मिलती है कि कारगिल की पहाड़ियों पर कुछ पाकिस्तानी घुसपैठियों ने कब्जा कर लिया है। सेना ने जब यह बात अपने ऊपर अधिकारियों को बताई तो सेना मुख्यालय से दिल्ली तक हलचल तेज हो गई। फैसला किया गया कि इन घुसपैठियों को खदेड़ना होगा। सेना ने इसके लिए ऑपरेशन विजय चलाया।

ऑपरेशन विजय 8 मई को शुरू हुआ और 26 जुलाई की सुबह खत्म हुआ। जब ऑपरेशन खत्म हुआ तो कारगिल की पहाड़ियों पर भारतीय तिरंगा गर्व से लहरा रहा था। हालांकि उसके लिए भारत ने अपने 527 जवानों को खो दिया था। और तकरीबन 1363 जवान घायल हुए थे। इसलिए हर साल 26 जुलाई को 'कारगिल विजय दिवस' के तौर पर मनाया जाता है। आज हम कुछ ऐसी ही बॉलीवुड की फिल्मों के बारे में बात करेंगे जिन्होंने इस युद्ध के हर पहलू को बखूबी बड़े पर्दे पर उतारा है।

1. LOC कारगिल: 2003
इस फिल्म को जेपी दत्ता ने निर्देशित किया था। इसमें बॉलीवुड के बड़े-बड़े कलाकारों ने काम किया था, जिनमें संजय दत्त ,सुनील शेट्टी,सैफ अली खान, अभिषेक बच्चन सहित कई कलाकारों की एक पूरी टीम थी। यह फिल्म 4 घंटे 15 मिनट के स्क्रीनप्ले के साथ दुनिया की कुछ सबसे लंबी फिल्मों में शुमार है।

2. लक्ष्य : 2004
यह फिल्म फरहान अख्तर के निर्देशन में बनी थी इसमें मुख्य भूमिका में ऋतिक रोशन और प्रीति जिंटा थीं। इस फिल्म की कहानी एक ऐसे लापरवाह लड़के की थी जिसकी जिंदगी आर्मी में जाते ही पूरी तरह से बदल जाती है। इस फिल्म में एक जवान के किरदार को ऋतिक रोशन ने बेहतरीन ढंग से निभाया है।

3. टैंगो चार्ली :2005
अजय देवगन और बॉबी देओल जैसे बड़े अभिनेताओं ने इस फिल्म में अभिनय किया है। यह फिल्म मणिशंकर द्वारा निर्देशित थी। इस फिल्म में अलग-अलग कई युद्ध क्रम हैं लेकिन इसका आखरी खंड 1999 की कारगिल युद्ध पर ही आधारित है।

4. धूप : 2003
यह फिल्म कारगिल युद्ध में शहीद हुए कैप्टन अनुज नय्यर के परिवार से प्रेरित है। इस फिल्म में अनुज नय्यर के पिता की भूमिका दिवंगत अभिनेता ओम पुरी ने निभाई थी और उनकी मा की भूमिका सविता कपूर ने। इस फिल्म में दिखाया गया है कि उनके बेटे की शहादत के बाद उन्हें मिले मुवावजे को पाने के लिए भी कैसे उन्हें लाल-फीताशाही और भ्रष्टाचारियों से संघर्ष करना पड़ता है। यह फिल्म आपको समाज के बारे में सोचने पर मजबूर कर देती है।

5. स्टम्प्ड : 2003
इस फिल्म को तुलनात्मक दृष्टि से बनाया गया है जिसमें 1999 के कारगिल युद्ध और क्रिकेट विश्वकप के बीच की स्थितियों को दर्शाया गया है। इस फिल्म का निर्माण रवीना टंडन ने किया था। जिन्होंने इस फिल्म में खुद काम भी किया है। जिसमें रवीना टंडन एक ऐसे सेना के अधिकारी की पत्नी का किरदार निभा रही हैं जिसे युद्ध के मैदान से लापता घोषित कर दिया गया था। यह फिल्म दिखाती है कि जब हमारे जवान सीमा पर युद्ध करते हुए शहीद हो रहे थे उस वक्त हम लोग विश्वकप के चकाचौंध में खोए हुए थे।

6. मौसम : 2011
पंकज कपूर द्वारा निर्देशित यह फिल्म एक प्रेम कहानी पर निर्धारित है। जिसमें मुख्य किरदार शाहिद कपूर और सोनम कपूर का है। इसमें शाहिद एक भारतीय वायु सेना के अधिकारी हैं और सोनम से सगाई के ठीक पहले उन्हें युद्ध के लिए बुला लिया जाता है। फिल्म बेहद रोमांटिक और अच्छी है।

अगली खबर