UP: स्वामी प्रसाद मौर्य के बाद दारा सिंह चौहान का भी योगी कैबिनेट से इस्तीफा, अखिलेश यादव ने किया सपा में स्वागत, तस्वीर शेयर की

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (BJP) को एक और बड़ा झटका लगा है। स्वामी प्रसाद मौर्य के बाद कैबिनेट मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी इस्तीफा दे दिया है। दारा सिंह समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं।

dara singh chauhan
दारा सिंह चौहान का इस्तीफा 
मुख्य बातें
  • उत्तर प्रदेश सरकार में वन, पर्यावरण एवं जन्तु उद्यान मंत्री दारा सिंह चौहान ने मंत्रिपरिषद से इस्तीफा दिया
  • सरकार में दलितों, पिछड़ों, वंचितों को इंसाफ नहीं मिला, इसलिए इस्तीफा दे रहा हूं : दारा सिंह चौहान
  • 24 घंटे में दारा सिंह चौहान मंत्रिपरिषद से इस्तीफा देने वाले दूसरे मंत्री हैं, मंगलवार को मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने इस्तीफा दिया था

उत्तर प्रदेश से बड़ी खबर आ रही है। योगी सरकार में मंत्री दारा सिंह चौहान ने इस्तीफा दे दिया है। इससे पहले मंगलवार को स्वामी प्रसाद मौर्य ने मंत्री पद से इस्तीफा देकर बीजेपी छोड़ दी थी। उनके अलावा 3 और विधायकों ने पार्टी छोड़ी थी। अब आज दारा सिंह चौहान ने इस्तीफा दे दिया है। बीजेपी नेता दारा सिंह चौहान ने राज्यपाल को इस्तीफा देते हुए लिखा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के मंत्रिमंडल में वन, पर्यावरण और जंतु उद्यान मंत्री के रूप में मैंने पूरे मनोयोग से अपने विभाग की बेहतरी के लिए कार्य किया, किंतु सरकार की पिछड़ों, वंचितों, दलितों, किसानों और बेरोजगार नौजवानों की घोर उपेक्षात्मक रवैये के साथ-साथ पिछड़ों और दलितों के आरक्षण के साथ जो खिलवाड़ हो रहा है, उससे आहत होकर मैं उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल से इस्तीफा देता हूं।

दारा सिंह सपा में शामिल हो गए हैं। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उनके साथ तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि 'सामाजिक न्याय' के संघर्ष के अनवरत सेनानी श्री दारा सिंह चौहान जी का सपा में ससम्मान हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन! सपा व उसके सहयोगी दल एकजुट होकर समता-समानता के आंदोलन को चरम पर ले जाएंगे…भेदभाव मिटाएंगे! ये हमारा समेकित संकल्प है! सबको सम्मान ~ सबको स्थान! 

इस्तीफे के बाद दारा सिंह ने कहा कि बीजेपी ने दलितों, पिछड़े समुदायों के समर्थन से सरकार बनाई थी, लेकिन उनकी अच्छी तरह से सेवा नहीं की गई, इसलिए मैंने इस्तीफा दे दिया। अगला कदम यह होगा कि मैं अपने समाज के लोगों के साथ चर्चा करूं और फिर भविष्य को देखते हुए कदम उठाऊं। दारा सिंह चौहान ने ये भी कहा है कि हमने 5 साल तक कोशिश की आवाज उठाने की लेकिन बात नहीं सुनी गई। किसी नेता से बात हुई है या नहीं इस पर कहा कि बात तो बहुत से लोगों से हुई है लेकिन अंतिम फैसला थोड़े दिन बाद लेंगे।

दारा सिंह के इस्तीफे पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट कर कहा कि परिवार का कोई सदस्य भटक जाए तो दुख होता है, जाने वाले आदरणीय महानुभावों को मैं बस यही आग्रह करूंगा कि डूबती हुई नाव पर सवार होने से नुकसान उनका ही होगा। बड़े भाई श्री दारा सिंह जी आप अपने फैसले पर पुनर्विचार करिए। 

क्या इन कारणों के चलते स्वामी प्रसाद मौर्य ने छोड़ी BJP? 2016 में BSP से भाजपा में आए थे

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर