Finance Management: फाइनेंस मैनेजमेंट में ये 5 सेक्‍टर दे रहे खूब जॉब, कोर्स चुनाव के समय रखें ध्‍यान

एजुकेशन
Updated Jul 31, 2022 | 17:23 IST | Times Now Digital

Career In Finance Management: फाइनेंस मैनेजमेंट बेहद तेजी से उभरता हुआ सेक्‍टर है। टेक्‍नोलॉजी इस सेक्‍टर में कई बड़े बदलाव लाया है। यहां पर कई ऐसे फील्‍ड हैं, जिनमें कोरोना के बाद जबरदस्त उछाल आया है। छात्र कोर्स का चुनाव करते समय इन सेक्‍टर का ध्‍यान रखकर सही कोर्स का चुनाव कर सकते हैं।

Career In Finance Management
फाइनेंस मैनेजमेंट के इन सेक्‍टर में खूब जॉब   |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • टेक्‍नोलॉजी से फाइनेंस मैनेजमेंट में हुआ है बड़ा बदलाव।
  • फाइनेंशियल सर्विसेज और टेक्नोलॉजी मिलकर बना फिनटेक।
  • यहां कई ऐसे सेक्‍टर, जो बन रहे भविष्‍य के टॉप एंप्लॉयर।

Career In Finance Management: फाइनेंस मैनेजमेंट तेजी से उभरता हुआ एक ऐसा सेक्‍टर है जिसमें फाइनेंशल प्लानिंग, एकाउंटिंग के साथ बिजनेस संगठनों के विकास के लिए स्ट्रेटेजी का अध्ययन किया जाता है। हालांकि विस्‍तार होते इस सेक्‍टर में अब फाइनेंशियल सर्विसेज और टेक्नोलॉजी भी मिल गई है। जिसे अब मार्केट में फिनटेक के नाम से जाना जाता है। यह एक ऐसा सेक्‍टर है, जो तेजी से उभर रहा है, लेकिन कॉलेज में फाइनेंस मैनेजमेंट कोर्स के दौरान इस पर भी पूरा ध्‍यान नहीं दिया जा रहा है। जिसके कारण इस फील्‍ड को डिमांड के अनुसार पेशावर लोग नहीं मिल पा रहे हैं। जबकि मार्केट में फिनटेक डिजिटल बीमा, डिस्काउंट ब्रोकर, क्रिप्‍टो करंसी, लोन और वेल्थ टेक्नोलॉजी जैसे पर्सनल फाइनेंस वर्टिकल में युवाओं की बंपर मांग बनी हुई है। डिमांड और सप्‍लाई के बीच इस गैप के कारण इस सेक्‍टर में करियर का शानदार स्‍कोप बना हुआ है। छात्र फाइनेंस व अकाउंट में ग्रेजुएशन करने के बाद यहां पर शानदार कोर्स बना सकते हैं। यहां हम फाइनेंस मैनेजमेंट के कुछ ऐसे सेक्‍टर के बारे में बता रहे हैं, जो तेजी से आगे बढ़ रहे हैं और जहां पेशेवर लोगों की भारी डिमांड है।

कोरोना के बाद फिनटेक में बूम

कोरोना महामारी के दौर से ही फाइनेंशियल टेक्नोलॉजी बूम पर चल रहा है। इस दौरान इस सेक्‍टर में फिनटेक एक नया ट्रेंड बनकर उभरा है। फिनटेक ने डिजिटल पेमेंट के तौर पर उपभोक्ताओं और सर्विस प्रोवाइडर्स को एक नई सुविधा दी है। इसके सहारे अब ग्राहक अपने लिए बेहतर फैसले ले पा रहे हैं। फिनटेक कंपनियों ने फाइनेंशियल सर्विसेज और टेक्नोलॉजी को साथ मिलाकर हर सेक्‍टर में अपनी पहुंच बनाई है। इस सेक्‍टर में लाखों युवा काम कर रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी यहां जॉब की कमी नहीं है।

Career Options: टेक्सटाइल इंडस्ट्री में नहीं जॉब की कमी, ऐसे बनें टेक्सटाइल इंजीनियर, मिलेगी हाई सैलरी

वेल्थ मैनेजमेंट टेक्नोलॉजी

कोरोना के कारण वेल्थ मैनेजमेंट सेक्टर में डिजिटल वेल्थ मैनेजमेंट सेवाओं का भी तेजी से विस्तार हुआ है। एल्गोरिदम की मदद से लोगों को एडवाइजरी सेवाएं देकर रोबो-एडवाइज ने वेल्थ मैनेजमेंट में क्रांति ला दी है। इसने एसेट क्लास में निवेश को भी आसान बना दिया है। इस सेक्‍टर का भविष्‍य काफी ब्राइट है। जिससे यहां काम करने वाले युवाओं को भी अपना भविष्‍य चमकाने का मौका मिल रहा है।

इंश्योरेंस

टेक्नोलॉजी और कंज्यूमर के व्यवहार में आए बदलाव ने बीमा सेक्‍टर को भी बदल दिया है। यह इंसुरटेक फिनटेक का एक सबसेट है, जिसने ऑनलाइन बीमा की तलाश करना और बीमा क्लेम करने के प्रोसेस को बेहद आसान बना दिया है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, रिस्क मैनेजमेंट और ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी की वजह से इंश्योरेंस इंडस्ट्री में डेटा एनालिटिक्स, क्लेम सैटलमेंट, बैकग्राउंड चेक और क्लेम मैनेजमेंट जैसे कार्यों के लिए पेशेवर युवाओं की बहुत डिमांड है।

Career Options After BBA: बीबीए के बाद मौजूद हैं कई कोर्स और करियर ऑप्‍शन, ऐसे संवारें अपना भविष्‍य

डिजिटल पेमेंट सेक्‍टर

डिजिटलाइजेशन की वजह से पेमेंट इंडस्ट्री कॉन्टैक्ट लैस ट्रांजेक्शन की ओर तेजी से बढ़ रही हैं। इस नई तकनीक के कारण मानव सभ्‍यता धीरे-धीरे कार्डलैस और कैशलेस सोसाइटी की तरफ बढ़ रहे हैं। जिस तरह से यह सेक्‍टर बढ़ रहा है, उसी तरह यहां पर जॉब ऑप्‍शन भी बढ़ रहा है। आने वाले समय में यह सेक्‍टर सबसे ज्‍यादा जॉब देने वाले सेक्‍टर में से एक होगा।

क्रिप्टो करेंसी

क्रिप्टो करेंसी ने भी मार्केट के गहरी पैठ बना ली है। इस डिजिटल या आभासी मुद्रा को क्रिप्टोग्राफी द्वारा सुरक्षित रखा जाता है। क्रिप्‍टो करेंसी को भविष्‍य का करेंसी कहा जा रहा है। मार्केट के होने वाले उथल-पुथल से बचने के लिए लोग क्रिप्‍टो करेंसी में खुब निवेश कर रहे हैं। इस सेक्‍टर में टेक्‍नोलॉजी और फाइनेंस के जानकारी युवाओं की डिमांड बनी रहती है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर