RRB Group D Exam: ग्रुप-डी परीक्षा की तैयारी में कभी न करें ये गलतियां, हो जाएं अलर्ट

RRB Group D Exam Date 2021: कोविड-19 के मामलों में कमी को देखते हुए उम्मीद है कि जल्द ही आरआरबी ग्रुप डी की परीक्षा तिथियों का ऐलान हो सकता है। ऐसे में जरूरी है कि तैयारी के अंतिम चरण में उम्मीदवार एसी गलतियां नहीं करें, जो उन्हें परीक्षा देते समय भारी पड़ जाय।

RRB Group D Exam Date
आरआरबी ग्रुप-डी की अंतिम चरण की तैयारी बेहद अहम 
मुख्य बातें
  • परीक्षा से चार दिन पहले जारी हो सकता है आरआरबी ग्रुप डी का एडमिट कार्ड
  • RRB Group D Exam के जरिए करीब 1.03 लाख पदों की भर्ती की जाएगी
  • तैयारी के दौरान उम्मीदवार कई ऐसी गलतियां करते हैं, जो उन्हें परीक्षा के दौरान काफी भारी पड़ती है।

RRB Group D Exam Date 2021:  RRB ग्रुप-डी परीक्षा का इंतजार बढ़ता ही जा रहा है। हालांकि जिस तरह कोविड-19 के मामलों में कमी आती जा रही है। ऐसे में उम्मीद है कि जल्द ही परीक्षा तिथियों का ऐलान हो सकता है। पिछले 2 साल से जो उम्मीदवार इस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, उनकी उलझन बढ़ती जा रही है। ऐसे में यह धैर्य रखने का समय है और तैयारी पर फोकस करने की जरूरत है। इस बार की परीक्षा बिल्कुल भी आसान नहीं होने वाली है। क्योंकि करीब एक लाख सीटों के लिए 2 करोड़ से ज्यादा  उम्मीदवारों ने आवेदन किए हैं।  ऐसे में आप समझ सकते हैं, परीक्षा में सफलता आसान नहीं होनी वाली है। इसे देखते हुए यह बेहद जरूरी है कि आप तैयारी के दौरान इन गलतियों को न करें। और परीक्षा के लिए 100 फीसदी तैयार हो सकें।

पाठ्यक्रम को इग्नोर नहीं करे

पाठ्यक्रम को अच्छी तरह से समझे बिना तैयारी करना सबसे बड़ी गलती होती है। ऐसा करने से कई ऐसे अहम टॉपिक छूट जाते हैं, जो परीक्षा के दौरान आपकी मेरिट को खराब कर सकते हैं। इसलिए तैयारी करते समय उनका पूरी तरह से अध्ययन करें। अगर अभी भी आपको लगता है कि कोई टॉपिक तैयार नहीं है, तो उसको अच्छी तरह से समझ लें।

विषय और अंक के आधार पर करें तैयारी

आरआरबी ग्रुप-डी की परीक्षा 100 अंक की होती है।  जिसके लिए 100 प्रश्न होते हैं। इसके लिए कुल 90 मिनट का समय दिया जाएगा। इसमें सबसे ज्यादा जनरल इंटेलीजेंस एंड रीजनिंग से 30, जनरल साइंस से 25, गणित से 25, जनरल अवेयरनेस एंड करंट अफेयर से 20 प्रश्न पूछे जाएंगे। ऐसे में बेहद अहम है कि पाठ्यक्रम के अनुसार तैयारी करें। निगेटिव मार्किंग भी होती है। इसलिए परीक्षा के दौरान ऐसे सवालों का जवाब नहीं दे, जिस पर आपको कंफ्यूजन है।

करंट अफेयर्स को नजर अंदाज नहीं करें

वैसे तो करंट अफेयर्स में 20 प्रश्न पूछे जाते हैं, लेकिन अगर देखा जाय तो साइंस में भी कई ऐसे सवाल पूछे जाते हैं, जो करंट अफेयर्स से ही जुड़े होते हैं। ऐसे में अखबार, मैगजीन, एनसीईआरटी कि किताबें और इंटरनेट के जरिए करंस अफेयर्स पर लगातार नजर रखें। 

सुर्खियों में रहने वाली खबरों की सूची नहीं बनाना

जो खबरें पिछले दो-तीन साल में खूब सुर्खियों में रही हैं, या ऐसी घटनाएं जिनका पूरी दुनिया और देश पर असर पड़ा है। उन्हें बिल्कुल नजर अंदाज नहीं करें। ऐसी सुर्खियों की सूची बनाएं और उनकी अहम बातों को जरूर जान लें। नहीं तो परीक्षा आपकी यह चूक भारी पड़ सकती है।

पुराने पेपर सॉल्व नहीं करना  

किसी भी परीक्षा में सफल होने में पुराने पेपर काफी मदद करते हैं। ऐसे में उन्हें जरूर  सॉल्व करें। इससे पेपर के सही पैटर्न की जानकारी मिल जाएगी। साथ ही विषयवार तैयारी भी कर सकेंगे। साथ ही पुराने प्रश्नों को हल करते खुद की क्षमता का भी आकलन होता है। सबसे बड़ा फायदा तय समय में पेपर सॉल्व करने  का मिलता है। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर