JEE Main 2022 Exam: कितना कठिन था जेईई मेन सेशन 2 की दूसरी शिफ्ट का पेपर? जानिए क्या बोले छात्र

JEE Main 2022 Session 2 Exam Review: एनटीए ने जेईई मेन 2022 सेशन 2 की दूसरे दिन की परीक्षा कल हो चुकी है। छात्रों के अनुसार प्रारंभिक समीक्षा के आधार पर, जेईई मेन सेशन 2 शिफ्ट 2 प्रश्न पत्र प्रयास करने के लिए मध्यम से कठिन स्तर का था।

JEE Main 2022 Session 2 Exam Analysis
JEE Main 2022 Session 2 Exam 
मुख्य बातें
  • जारी है जेईई मेन सेशन 2 की परीक्षा, बीते दिन भी हुआ एग्जाम।
  • भौतिकी और रसायन विज्ञान की अपेक्षा कठिन था गणित का पेपर।
  • जानिए एग्जाम देने के बाद क्या बोले जेईई मेन परीक्षा में शामिल छात्र।

JEE Main 2022 Session 2 Exam Analysis: राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी, एनटीए की ओर से जेईई मेन 2022 सेशन 2 दिन 2 का समापन हो गया है। छात्रों से प्रारंभिक समीक्षा के आधार पर, जेईई मेन 27 जुलाई शिफ्ट 2 प्रश्न पत्र प्रकृति में मध्यम से कठिन स्तर का था। जेईई मेन्स 2022 प्रश्न पत्र के लिए अधिक छात्र प्रतिक्रियाओं और विशेषज्ञ समीक्षा के बारे में जानें।

जेईई मेन सेशन 2 शिफ्ट 2 दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे तक उन छात्रों के लिए आयोजित किया गया था जो बी.ई और बी.टेक पेपर के लिए उपस्थित हो रहे हैं। चूंकि जेईई मेन 2022 सीबीटी मोड में आयोजित किया जाता है, इसलिए उम्मीदवारों के पास उनके प्रश्न पत्रों की मूल कॉपी नहीं होती है।

याददाश्त के आधार पर, छात्रों ने कहा है कि शिफ्ट 2 के लिए जेईई मेन 2022 सेशन 2 का पेपर मध्यम से कठिन स्तर का था।
जेईई मेन 2022 परीक्षा विश्लेषण पर छात्र प्रतिक्रियाएं हम आपके साथ साझा कर रहे हैं।

छात्रों के अनुसार, गणित सेक्शन उन सभी में सबसे कठिन था और इसको अटेम्प्ट करना भी कठिन था। दूसरी ओर, भौतिकी और रसायन विज्ञान वर्गों को छात्रों की ओर से मध्यम दर्जा दिया गया। छात्रों ने यह भी कहा कि अधिकांश प्रश्न एनसीईआरटी पाठ्यक्रम और निर्धारित पाठ्यक्रम से थे, लेकिन प्रश्न कठिन थे।

UPPSC PCS Pre Result 2022: प्रारंभिक परिणाम का परिणाम uppsc.up.nic.in पर जारी, 5900 से ज्यादा उम्मीदवार चयनित

जेईई मेन परीक्षा में बैठने वाले एक छात्र ने कहा, 'मैंने गणित अनुभाग को करना सबसे कठिन पाया। भौतिकी और रसायन विज्ञान भी आसान नहीं थे, लेकिन गणित की तुलना में इन दोनों को करना आसान था।'

प्रारंभिक समीक्षा के आधार पर, कई विशेषज्ञों की भी छात्रों के जैसी ही राय है। हालांकि, विशेषज्ञों के अनुसार, जिन्होंने एनसीईआरटी का उपयोग करके अच्छी तरह से अध्ययन किया और नियमित रूप से मॉक पेपर हल किए, वे कठिन स्तर के बावजूद पेपर का प्रयास करने में सक्षम होंगे।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर