Delhi Metro का सफर ऐसा तो ना था, ना चढ़ने की  मारामारी ना उतरने की टेंशन, कोरोना ने बदल दिया सबकुछ

कोरोना संकट के बीच मेट्रो की सेवाएं भले ही बहाल हो गईं लेकिन दिल्ली मेट्रो स्टेशन सूने सूने नजर आये और ट्रेनों में भी बहुत थोड़े लोग यात्रा के लिए निकले यानि ये मेट्रो सफर का अंदाज एकदम बदला हुआ था।

The journey of Delhi Metro Train was not like this Corona changed everything
यात्रा कर रहे पैसेंजर खाली ट्रेन में खासे खुश नजर आए क्योंकि उनका वास्ता अक्सर भीड़भाड़ से पड़ता था 

‘हम आ रहे हैं हम 169 दिन से आपसे नहीं मिले...ऐसा लिखकर दिल्ली मेट्रो ने वापस पटरी पर लौटने की खुशी जाहिर की, मेट्रो सेवाएं बहाल होने के साथ ही पहली ट्रेन समयपुर बादली से हुडा सिटी सेंटर के लिए और हुडा सिटी सेंटर से समयपुर बादली के लिए रवाना हुईं। लेकिन जो लोग मेट्रो की सवारी कर चुके हैं और अक्सर करते रहते हैं उनके लिए ये अनुभव थोड़ा जुदा था, ऐसा इसलिए कहा जा रहा है कि मेट्रो की भीड़भाड़  से रू-बरू होने वाले पैसेजरों का सामना ना तो भीड़ से हुआ और ना चढ़ने की टेंशन थी और ना ही ट्रेन से उतरने की फिक्र...

पहले दिन बहुत कम संख्या में यात्री पहुंचे थे सबसे अधिक व्यस्त स्टेशनों में एक राजीव चौक खाली नजर आया। करीब नौ बजे राजीव चौक के व्यस्त प्रवेश द्वार पर महज कुछ अधिकारी मास्क और फेस शील्ड लगाये नजर आये और उनके हाथों में भी सेनेटाईजर थे, स्टेशन के कर्मी बार बार मेट्रो स्टेशन परिसरों को संक्रमण मुक्त करते एवं एक दूसरे के बीच दूरी सुनिश्चित करते नजर आये।  

दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने हुडा सिटी सेंटर से रवाना हो रही पहली ट्रेन का वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए इमोशनल संदेश लिखकर पटरी पर वापस लौटने की खुशी जाहिर की। 

एक यात्री ने कहा-इस बात की राहत है कि वह अब समय से अपने ऑफिस पहुंच पाएगा

आम दिनों की भीड़भाड़ के विपरीत राजीव चौक समेत विभिन्न प्लेटफार्म और स्टेशन सूने-सूने रहे तथा खान-पान की दुकानें भी बंद रहीं।प्रवेश द्वार से आगे बढ़ने के बाद यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही थी।वहीं यात्रा कर रहे पैसेंजर खाली ट्रेन में खासे खुश नजर आए क्योंकि उनका वास्ता अक्सर भीड़भाड़ से पड़ता था, ऐसे ही एक यात्री ने कहा-इस बात की राहत है कि वह अब समय से कनॉट प्लेस अपने ऑफिस पहुंच पाएगा।

डीएमआरसी ने एक अन्य ट्वीट में कुछ यात्रियों की तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा, ‘पांच महीने से अधिक समय बाद पहली यात्रा कर रहे लोगों के खुशहाल चेहरे’

येलो लाइन और ब्लू लाईन के बीच अदला-बदली सुविधा वाले राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर सुबह नौ से ग्यारह बजे के बीच बहुत कम भीड़ नजर आयी।

ट्रेन के कई डिब्बे तो खाली ही रहे या बमुश्किल से एक सवारी थी

ट्रेन के कई डिब्बे तो खाली ही रहे या बमुश्किल से एक सवारी थी, कुछ डिब्बों में दस से कम यात्री थे।कश्मीरी गेट मेट्रो स्टेशन पर केवल दो द्वार खुले थे। स्टेशन पर पहुंच रहे यात्रियों एवं उनके सामान को संक्रमण मुक्त किया जा रहा था। दिल्ली मेट्रो रेल निगम ‘क्या करें’ और ‘क्या नहीं करें’ की घोषणाएं कर रहा था।वहीं डीएमआरसी ने लोगों से अत्यावश्यक होने पर ही मेट्रो का इस्तेमाल करने की अपील की है। डीएमआरसी ने यात्रियों से ‘आरोग्य सेतु’ ऐप का इस्तेमाल करने को भी कहा है।

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर