Delhi : दिल्ली में नहीं लगेगा लॉकडाउन, सत्येंद्र जैन ने अटकलों को खारिज किया 

गत रविवार को कोविड-19 के 3235 नए मामले सामने आए जबकि 95 लोगों की मौत हुई। दिवाली से पहले राजधानी में रोजाना औसतन कोरोना के 7000 मरीज सामने आ रहे थे लेकिन दिवाली पर यह संख्या घटकर आधी हो गई।

Health Minister Satyendar Jain Dismisses Speculation on lockdown in Delhi
दिल्ली में नहीं लगेगा लॉकडाउन, सत्येंद्र जैन ने अटकलों को खारिज किया। 

मुख्य बातें

  • महामारी के अब तक के सबसे बुरे दौर से गुजर रही है राजधानी दिल्ली
  • दिल्ली से पहले रोजाना औसतन 7000 नए केस मिले, शाह हुए सक्रिय
  • दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने दोबारा लॉकडाउन लगने की अटकलों को खारिज किया

नई दिल्ली : दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने राजधानी में फिर से लॉकडाउन लागू करने की अटकलों को खारिज किया है। जैन ने सोमवार को कहा कि दिल्ली में दोबारा लॉकडाउन नहीं लगेगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की तीसरी लहर अपनी चरम स्तर से गजुर चुकी है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि लोगों को मास्क पहनने और सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करने की जरूरत है। जैन ने कहा कि अब कोरोना से संक्रमण के मामलों में धीरे-धीरे कमी आएगी।

जैन ने कहा, 'दिल्ली में लॉकडाउन दोबारा लागू नहीं होगा। मेरा मानना है कि यह उचित कदम नहीं होगा। सभी लोगों द्वारा मास्क पहनना ज्यादा जरूरी है। दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर अपने चरम स्तर को छू चुकी है।'

Delhi Corona

रविवार को सामने आए 3235 नए केस
बता दें कि गत रविवार को कोविड-19 के 3235 नए मामले सामने आए जबकि 95 लोगों की मौत हुई। दिवाली से पहले राजधानी में रोजाना औसतन कोरोना के 7000 मरीज सामने आ रहे थे लेकिन दिवाली पर यह संख्या घटकर आधी हो गई। सितंबर में कोरोना की दूसरी लहर आने के बाद टेस्टिंग की संख्या काफी बढ़ा दी गई है। राजधानी में आम तौर पर रोजाना करीब 60 हजार टेस्ट हो रहे हैं।  

गृह मंत्रालय हुआ सक्रिय
दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों पर रोक लगाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय भी सक्रिय हो गया है। गृह सचिव अजय भल्ला की सोमवार को केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण एवं दिल्ली के मुख्य सचिव के साथ बैठक होने वाली है। समझा जाता है कि इस बैठक में राजधानी के कैंटोनमेंट जगहों को लेकर नई रणनीति बनेगी। बता दें कि रविवार को गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कोविडृ19 की स्थिति की समीक्षा की। 

अब तक के अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही दिल्ली
कोरोना संकट का सामना कर रही दिल्ली महामारी के अभी तक के सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। गृह मंत्री ने कहा है कि स्वास्थ्य देखभाल कर्मचारियों की कमी को देखते हुए सीआरपीएफ और पैरामेडिकल स्टाफ के डॉक्टरों को दिल्ली भेजा जाएगा। कोविड से जंग में दिल्‍ली में ऑक्सीजन सिलेंडर और अन्य आवश्यक उपकरण मुहैया कराए जाएंगे। हल्के लक्षणों वाले कोविड रोगियों के उपचार के लिए कुछ एमसीडी अस्पतालों को कोविड समर्पित अस्पतालों में परिवर्तित किया जाएगा।

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर