केजरीवाल की तीर्थ योजना में जुड़ा पहला ईसाई स्थल, अयोध्या के लिए पहली ट्रेन 3 दिसंबर से

अयोध्या को 'मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना' में शामिल करने के बाद दिल्ली के सीएम केजरीवाल ईसाई स्थल को शामिल करने जा रहे हैं। अयोध्या के लिए पहली ट्रेन 3 दिसंबर से शुरू हो रही है।

First Christian site added to Kejriwal's Tirth yojana, first train to Ayodhya from 3 December 
केजरीवाल की तीर्थ योजना के तहत पहली ट्रेन 3 दिसंबर से 

नई दिल्ली : अयोध्या को 'मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना' के तहत तीर्थ स्थलों की सूची में शामिल करने के बाद, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जल्द ही तमिलनाडु के वेलंकन्नी चर्च को भी इसमें शामिल करेंगे, जो कैथोलिकों के लिए सबसे प्रतिष्ठित तीर्थस्थलों में से एक है। केजरीवाल ने ईसाई लोगों के लिए मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना में वेलंकन्नी चर्च का नाम जोड़ने की घोषणा की है। इसकी जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि योजना के तहत शामिल तीर्थ स्थलों की सूची में तमिलनाडु के वेलंकन्नी चर्च को जोड़ दिया गया है। दरसअल, ईसाई लोगों की शिकायत थी कि योजना में उनका एक भी धार्मिक स्थल नहीं है।

केजरीवाल ने बुधवार को एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि हमारे कई ईसाई भाइयों ने बताया था कि उनका कोई भी तीर्थ स्थल योजना में शामिल नहीं है। उनके लिए एक अच्छी खबर है कि मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना में जल्द ही वेलंकन्नी चर्च को जोड़ा जाएगा।

मुख्यमंत्री ने 27 अक्टूबर को अयोध्या को उस योजना में जोड़ा था, जिसके तहत बुजुर्ग लोगों को वातानुकूलित ट्रेनों से यात्रा करने और अच्छे, वातानुकूलित होटलों में मुफ्त में रहने की सुविधा प्रदान की जाती है। उन्होंने कहा कि अयोध्या के लिए पहली ट्रेन 3 दिसंबर से शुरू होगी। इसके लिए पंजीकरण शुरू हो गए हैं। एक बुजुर्ग व्यक्ति के साथ एक युवा भी जा सकता है। केजरीवाल ने आगे कहा कि अगर एक ट्रेन की पूरी बुकिंग हो जाए तो चिंता करने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि हम जल्द ही दूसरी ट्रेन शुरू करेंगे।

केजरीवाल ने कहा, "इस योजना से अब तक 36 हजार से अधिक लोग लाभान्वित हो चुके हैं। अयोध्या ने जगन्नाथ पुरी, उज्जैन, शिरडी, अमृतसर, जम्मू, द्वारका, मथुरा, तिरुपति, रामेश्वरम, हरिद्वार और बोधगया जैसे अन्य तीर्थ स्थलों के अलावा मुख्यमंत्री तीर्थ कल्याण योजना की सूची में जगह बनाई है। हम उन लोगों की भी मदद करेंगे जो अयोध्या में रामलला के दर्शन मुफ्त में करना चाहते हैं।"

उन्होंने पिछले महीने घोषणा करते हुए कहा था, "मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे राम लला के सामने सिर झुकाने का मौका मिला और मैं चाहता हूं कि सभी को यह मौका मिले। मेरे पास जो भी क्षमता है, मैं उसका उपयोग अधिक से अधिक लोगों को वहां लेकर जाने के लिए करूंगा।"
 

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर