Air pollution: दिल्‍ली में दमघोंटू हवा से मिलेगी निजात! ट्रकों के प्रवेश पर रोक, बॉर्डर पर लगी लंबी लाइन

दिल्‍ली में वायु प्रदूषण की विकराल होती समस्‍या से निजात के लिए यहां कई कदम उठाए गए हैं, जिनमें गैर-जरूरी सामानों की ढुलाई करने वाले ट्रकों के राष्‍ट्रीय राजधानी में प्रवेश पर रोक भी शामिल है। इसकी वजह से बॉर्डर पर रात से ही ट्रकों की लंबी लाइन लग गई।

बॉर्डर पर ट्रकों की जांच करते ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी
बॉर्डर पर ट्रकों की जांच करते ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • दिल्‍ली में प्रदूषण की समस्‍या से निपटने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं
  • यहां गैर-जरूरी सामान लेकर पहुंचने वाले ट्रकों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है
  • हरियाणा, यूपी से सटे बॉर्डर पर ट्रैफिक पुलिस सघनता से ट्रकों की जांच कर रही है

नई दिल्‍ली : राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली और आसपास के शहरों में वायु प्रदूषण की विकराल होती स्थिति पर सुप्रीम कोर्ट तक ने संज्ञान लिया है, जिसके बाद सरकार ने इस दिशा में कई फौरी कदम उठाए हैं। उम्‍मीद की जा रही है कि इनसे प्रदूषण की समस्‍या से निपटने में आसानी होगी। प्रदूषण से निजात के लिए जो तात्‍कालिक कदम उठाए गए हैं, उनमें अन्‍य राज्‍यों से राष्‍ट्रीय राजधानी में ट्रकों के प्रवेश पर रोक भी शामिल है, जिसकी वजह से बॉर्डर पर ट्रकों की लंबी लाइन लगी हुई है।

दिल्‍ली सरकार ने प्रदूषण से निपटने के लिए बुधवार को 10 निर्देश जारी किए, जिसमें गैर-जरूरी सामान की ढुलाई करने वाले ट्रकों के राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश पर रोक भी शामिल है। राष्‍ट्रीय राजधानी में ट्रकों पर यह रोक फिलहाल 21 नवंबर तक के लिए लगाई गई है, जिसके बाद आगे की स्थिति को देखते हुए निर्णय लिया जाएगा। राष्‍ट्रीय राजधानी में निर्माण और तोड़फोड़ संबंधी गतिविधियों पर भी 21 नवंबर तक रोक लगा दी गई है।

बॉर्डर पर ट्रकों की लंबी लाइन

दिल्‍ली सरकार ने अपने कर्मचारियों से भी रविवार (21 नवंबर) तक घरों से काम करने के लिए कहा है। यहां स्‍कूल-कॉलेज भी अगले आदेश तक के लिए बंद किए गए हैं। इससे पहले सरकार ने स्‍कूल, कॉलेज और शैक्षण‍िक संस्‍थानों को रविवार तक बंद करने और निर्माण एवं तोड़फोड़ गतिविधियों पर 17 नवंबर तक रोक लगाने के निर्देश दिए थे। इस बीच खेतों में पराली जलाने की घटनाओं में कमी के मद्देनजर हवा की गुणवत्ता में मामूली सुधार दर्ज किया गया है।

दिल्‍ली में केवल आवश्‍यक वस्‍तुओं की ढुलाई करने वाले ट्रकों को ही प्रवेश की अनुमति मिली हुई है, जिसके मद्देनजर बॉर्डर पर जांच बढ़ा दी गई है। हरियाणा और उत्‍तर प्रदेश से सटे दिल्‍ली बॉर्डर पर ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी सघनता से ट्रकों की जांच कर रहे हैं और आवश्‍यक सामानों को ले जा रहे ट्रकों को ही राष्‍ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने दिया जा रहा है, जिस वजह से बॉर्डर पर बुधवार मध्‍य रात्रि से ही ट्रकों की लंबी लाइन लग गई।

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर