Delhi: पति ने महीनों से पत्नी को जंजीरों से बांधकर रखा, मारा पीटा टॉर्चर किया, बचाने पहुंची महिला आयोग की टीम

दिल्ली से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला को उसके पति ने महीनों से घर में जंजीरों से बांधकर रखा हुआ था। उसके साथ मारपीट करता था। दिल्ली महिला आयोग ने महिला को बचाया है।

dcw
दिल्ली महिला आयोग ने पीड़िता को बचाया 

मुख्य बातें

  • दिल्ली महिला आयोग ने एक महिला को त्रिलोकपुरी इलाके से रेस्क्यू करवाया
  • महिला को पति ने कई महीनों से घर में जंजीरों से बांध कर रखा था
  • महिला को मारा पीटा और टॉर्चर किया जाता था

नई दिल्ली: दिल्ली महिला आयोग ने मंगलवार को दिल्ली के त्रिलोकपुरी इलाके की एक 32 साल की महिला को बचाया। महिला को उसके ही घर में उसके पति द्वारा लोहे की जंजीरों से बांधकर बंदी बना लिया गया था। आयोग की महिला पंचायत टीम को एक ग्राउंड वालंटियर से इस बारे में सूचना मिली। आयोग को सूचित किया गया कि महिला को चैन से बांध रखा है और वह त्रिलोकपुरी इलाके में दयनीय स्थिति में रह रही है।

महिला आयोग की सदस्य फिरदौस खान और किरण नेगी ने मामले को दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल को बताया, जो तुरंत उनके साथ दिए गए स्थान पर पहुंची। टीम तुरंत मौके पर पहुंची और देखा कि महिला अपने पैरों के बल फर्श पर लोहे की जंजीरों से बंधी हुई थी। वह काफी दयनीय स्थिति में रह रही थी। 

टीम ने उससे बात की और पता चला कि उसकी शादी 11 साल पहले हुई थी और उसके तीन बच्चे थे। पीड़िता ने बताया कि उसका पति उसे बेरहमी से पीटता था और वह पिछले छह महीनों से जंजीरों में बंधी हुई है। जिस कमरे में उसे रखा गया था, उसमें कोई पंखा नहीं था और भयानक गंध थी, क्योंकि वह वहीं मल मूत्र करने को मजबूर थी। उसे इतनी बेरहमी से पीटा गया कि उसकी मानसिक स्थिति पर असर पड़ा। 

स्वाति मालीवाल ने कहा, 'त्रिलोकपुरी के घर में एक आदमी ने अपनी पत्नी को महीनों से जंजीरों से बांधकर रखा था। महिला को इस बुरी तरह से मारा पीटा टॉर्चर किया गया कि उसका मानसिक स्वास्थ्य भी बिगड़ गया। अभी अपनी टीम के साथ लड़की को रेस्क्यू करवाया और ट्रीटमेंट और FIR करवा रहे हैं। ऐसी घटनाओं से दिल टूट जाता है।'

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर