Delhi Air Pollution: अगले चार दिन तक प्रदूषण से राहत नहीं, वायु की गुणवत्ता रहेगी बेहद खराब

दिल्ली और एनसीआर में इस समय हर सांस पर स्मॉग का पहरा है। वायु की गुणवत्ता खराब होने से लोगों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है।

Delhi Air Pollution: दिल्ली-एनसीआर में वायु की गुणवत्ता बेहद खराब, सांस लेना हुआ मुश्किल
दिल्ली- एनसीआर में एक्यूआई गंभीर श्रेणी में 

मुख्य बातें

  • दिल्ली के कई इलाकों में वायु की गुणवत्ता बेहद खराब
  • दिल्ली के कई जगहों पर एक्यूआई 500 के करीब
  • स्मॉग की वजह से सांस लेने में परेशानी और आंखों में जलन की आ रही हैं शिकायतें।

नई दिल्ली। दिल्ली और एनसीआर के आसमां पर स्मॉग की मोटी परत ने डेरा बसा लिया है। स्मॉग से निपटने के लिए तरह तरह के दावे किये जा रहे हैं।लेकिन बच्चे, बड़े और बुजुर्ग हर कोई इसका सामना कर रहा है। दिवाली को ध्यान में रखकर दिल्ली सरकार ने पटाखों को जलाने पर बैन लगा दिया है तो हरियाणा सरकार ने सिर्फ दो घंटे की छूट दी है। 

प्रदूषण से अगले चार दिन तक राहत नहीं
आईएमडी के के श्रीवास्तव ने कहा कि  पिछले 4 दिनों से गंभीर श्रेणी में प्रदूषण रहेगा। धुएं और प्रदूषकों के साथ कोहरे के कारण सुबह के समय दृश्यता कम हो गई है। अगले 2 दिनों तक स्थिति समान रहने की संभावना है, और तेज हवाओं के कारण 12-13 नवंबर को सुधार होने की संभावना है।

दिल्ली-एनसीआर में वायु की गुणवत्ता बेहद खराब
अगर दिल्ली के अलग अलग इलाकों में वायु की गुणवत्ता देखें तो तस्वीर एक जैसी ही है। आनंद विहार में एक्यूआई जहां 484, तो मुंडका में 470, ओखला फेज 2 में 465 और वजीरपुर में 468 है और यह सब गंभीर श्रेणी में हैं। दरअसल यह आंकड़े कुछ खास जगहों के हैं, लेकिन राजधानी में कमोबेश एक जैसी ही तस्वीर है। वायु की गुणवत्ता खराब से लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है। इसके साथ ही आंखों में जलन आम बात हो गई है।  

हवा की रफ्तार बेहद कम
अब सवाल यह है कि अभी पटाखे भी नहीं फोड़े जा रहे हैं तो वायु की गुणवत्ता खराब क्यों हो रही है। सरकार की तरफ से दावे भी तमाम हुए हैं इसके बावजूद पीएम 2.5 और पीएम 10 के स्तर में इजाफा हो रहा है। जानकार कहते हैं कि दरअसल दिल्ली और एनसीआर में निर्माण कार्य पर किसी तरह की रोक नहीं लगी हुई है इस लिहाज से हवा में पीएम 2.5 और पीएम 10 लटके हुए हैं। इसके साथ ही इस समय हवा भी नहीं बह रही है जिसकी वजह से धूल के कण उड़ जाएं। जब तक दिल्ली में वायु की रफ्तार नहीं बढ़ेगी इस तरह के हालात का सामना करना पड़ेगा। 

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर